सर्दियों में बीमारियों से बचने के लिए अपनाएं आयुर्वेद के ये 5 नियम

आयुर्वेद में सर्दियों में स्वस्थ रहने के लिए कुछ नियम बताए गए हैं। इन नियमों का पालन करके आप सर्दियों में बीमारियों से खुद का बचाव कर सकते हैं।

Priya Mishra
Written by: Priya MishraUpdated at: Nov 17, 2022 16:17 IST
सर्दियों में बीमारियों से बचने के लिए अपनाएं आयुर्वेद के ये 5 नियम

सर्दियों के मौसम में लोग ज्यादा बीमार पड़ते हैं। दरअसल, सर्दी के मौसम में शरीर की इम्यूनिटी कमजोर हो जाती है, जिसकी वजह से संक्रमण और बीमारियों का खतरा अधिक बढ़ जाता है। इस मौसम में सर्दी-खांसी, जुकाम, बुखार और वायरल इंफेक्शन का खतरा अधिक बढ़ जाता है। इसके साथ ही, सर्दियों के मौसम में शरीर का मेटाबॉलिक रेट भी कम हो जाता है। सर्दियों में स्वास्थ्य की अधिक देखभाल करने की जरूरत होती है। अब सवाल यह उठता है कि सर्दियों में स्वस्थ कैसे रहें? (Sardiyo me swasth kaise rahe?) या सर्दियों में बीमारियों से कैसे बचें? (Sardiyo me beemariyo se kaise bache?) अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं, तो आपको अपने रूटीन में कुछ ऐसे नियम अपनाने चाहिए, जिससे आप खुद को को फिट रख सकें और बीमारियों से खुद को दूर कर सकें। आयुर्वेद में ऐसे ही कुछ नियम बताए गए हैं। इन नियमों का पालन करके आप अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बना सकते हैं। आयुर्वेद में सर्दियों में स्वस्थ रहने के लिए और बीमारियों से बचने के कई नियम बताए गए हैं। आयुर्वेद के नियमों को अपनाकर आप कई बीमारियों से खुद का बचाव कर सकते हैं। आइए जानते हैं सर्दियों में बीमारियों से बचने के लिए आयुर्वेद में कौन से नियम बताए गए हैं (Ayuvedic rules to stay healthy and avoid illness in winters)

सर्दियों में बीमारियों से बचने के लिए आयुर्वेद के ये 5 नियम - 5 Ayurvedic Rules To Stay Healthy In Winters

आयुर्वेद में सर्दियों में स्वस्थ रहने और बीमारियों से बचने के कई नियम बताए गए हैं. इनमें से कुछ नियम निम्न प्रकार हैं - 

रोजाना व्यायाम करना 

आयुर्वेद के अनुसार, सर्दियों के मौसम में स्वस्थ रहने के लिए रोजना व्यायाम करना चाहिए। सर्दियों में रोज सुबह व्यायाम करने से शरीर में रक्त संचार बढ़ता है, जिससे आप ऊर्जावान महसूस करें। रोजाना व्यायाम करने सेकई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं और मौसमी संक्रमण से बचाव होता है। इसके अलावा, नियमित रूप से व्यायाम करने से शरीर का मेटाबॉलिज्म भी बूस्ट होता है। रोजाना कम से कम 20 मिनट व्यायाम जरूर करें, इससे दिनभर फ्रेश महसूस और एक्टिव महसूस करेंगे।   

सही खानपान

आयुर्वेद के अनुसार, हमेशा मौसम के अनुकूल भोजन करना चाहिए। सर्दियों में गर्म चीजें खानी चाहिए और ठंडी चीजों से परहेज करना चाहिए। सर्दियों में ऐसी चीजें खानी चाहिए, जिससे शरीर को गर्माहट मिले। सर्दियों में आप अपने आहार में हरी पत्तेदार सब्जियां, फल, हल्दी वाला दूध, गुड़, तिल, अनाज और मेवा  शामिल कर सकते हैं। इस मौसम में ठंडा भोजन और आइसक्रीम जैसी ठंडी चीजें खाने से परहेज करें। 

Winter-Ayurveda-Tips

तेल की मालिश

आयुर्वेद में तेल की मालिश का काफी महत्व बताया गया है। तेल मालिश से शरीर की कई तरह की समस्याएं दूर होती हैं। आयुर्वेद के अनुसार, सर्दियों में गर्म तेल की मालिश से बहुत फायदा होता है। सर्दियों के मौसम में जोड़ों में दर्द और अर्थराइटिस की समस्या काफी बढ़ जाती है। ऐसे में गर्म तेल की मालिश से शरीर में दर्द और सूजन से राहत मिलती है। आयुर्वेद के अनुसार, रोजाना नहाने से पहले तेल की मालिश करने से त्वचा में निखार आता है। आप सर्दियों में रात को सोने से गर्म तेल से शरीर की मालिश कर सकते हैं, इससे शरीर में गर्मी आएगी और दर्द से भी राहत मिलेगी। ॉ

इसे भी पढ़ें: घर पर बनाएं अदरक कैंडी, सर्दी-जुकाम और गले की खराश से दिलाएगी छुटकारा

पर्याप्त मात्रा में पानी पीना  

स्वस्थ रहने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए। सर्दियों में प्यास कम लगती है, जिसकी वजह से हम इस मौसम में पानी कम पीते हैं। लेकिन, इससे शरीर में पानी की कमी हो सकती है। कम पानी पीने से शरीर में जमा विषाक्त पदार्थ बाहर नहीं निकल पाते हैं, जिससे स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। सर्दियों में बीमारियों से बचने और स्वस्थ रहने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं। आयुर्वेद के अनुसार, सर्दियों में गर्म पानी पीना चाहिए, क्योंकि इससे पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है।

गरम मसाले का सेवन 

सर्दियों में ऐसी चीजें खानी चाहिए, जिससे शरीर को गर्मी मिले। आयुर्वेद के अनुसार, सर्दियों में गरम मसाले का सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है। गरम मसाले में दालचीनी, काली मिर्च, लौंग, जायफल, इलायची, अदरक और हल्दी जैसे मसलों का इस्तेमाल होता है। ये सभी मसाले शरीर में वात या वायु तत्व को बढ़ाने में मदद करते हैं। सर्दियों में गरम मसाले का सेवन करने से पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है और कई बीमारियों बचाव होता है। सर्दियों में गरम मसाले का सेवन करने से खांसी-जुकाम, जोड़ों के दर्द और पाचन संबंधी समस्याओं से राहत मिलती है।

इसे भी पढ़ें: आयुर्वेद में बताया गया है भोजन करने का सही तरीका, ये नियम आपको रखेंगे स्वस्थ

Ayurvedic Rules To Stay Healthy In Winters: आयुर्वेद के इन नियमों का पालन करके आप सर्दियों में खुद को फिट और हेल्दी रख सकते हैं।

Disclaimer