Doctor Verified

यूरिक एसिड कंट्रोल करने के लिए बहुत फायदेमंद है अश्वगंधा, जानें कैसे करें इसका सेवन

अश्वगंधा शरीर के लिए बेहद फायदेमंद औषधि है, शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में अश्वगंधा बहुत फायदेमंद है, जानें सेवन का तरीका।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: May 19, 2022Updated at: May 19, 2022
यूरिक एसिड कंट्रोल करने के लिए बहुत फायदेमंद है अश्वगंधा, जानें कैसे करें इसका सेवन

शरीर में हॉर्मोन, एंजाइम और अन्य पोषक तत्वों का संतुलित मात्रा में होना बहुत जरूरी है। किसी भी तत्व की मात्रा बढ़ने पर कई समस्याएं हो सकती हैं। शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा के असंतुलित होने से आपको कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। यूरिक एसिड बढ़ने के कारण जोड़ों, घुटने और हाथ की उंगलियों में गंभीर दर्द हो सकता है। यूरिक एसिड बढ़ने की वजह से आपको गठिया और हड्डियों से जुड़ी अन्य गंभीर समस्याएं भी हो सकती हैं। इसके बढ़ने पर आपको जोड़ों और हड्डियों से जुड़ी समस्याओं के अलावा किडनी से जुड़ी बीमारी और मोटापे की समस्या भी हो सकती है। ऐसे में यूरिक एसिड बढ़ने पर लोग तमाम तरह के ट्रीटमेंट और दवाओं का सेवन करते हैं। लेकिन क्या आपको यूरिक एसिड कम करने के लिए आयुर्वेदिक हर्ब्स के बारे में जानते हैं? दरअसल अश्वगंधा का इस्तेमाल यूरिक एसिड को कम करने में बहुत फायदेमंद माना जाता है। अश्वगंधा के फायदे शरीर के लिए तो बहुत हैं लेकिन इसका सेवन शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड को कम करने के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। आइये आरोग्यं हेल्थ सेंटर के डॉ एस के पांडेय से विस्तार से जानते हैं यूरिक एसिड कम करने के लिए इसके फायदे और सेवन का तरीका।

शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण (Excess Uric Acid in Body Symptoms in Hindi)

खानपान, लाइफस्टाइल और बीमारियों की वजह से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है। यूरिक एसिड बढ़ने पर आपके शरीर में कई परेशानियां शुरू होती हैं और लंबे समय तक यूरिक एसिड बढ़े रहने की वजह से आपको कई बीमारियां भी हो सकती हैं। शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने के कुछ प्रमुख लक्षण इस प्रकार से हैं।

  • जोड़ों में गंभीर दर्द।
  • जोड़ों में अकड़न।
  • हड्डियों और जोड़ों में सूजन।
  • उठने और बैठने में दिक्कत।
  • काम करने में परेशानी।
  • तलवों और एड़ी में सूजन।
  • जोड़ों में सूजन।
Ashwagandha-To-Control-Uric-Acid

यूरिक एसिड कम करने के लिए अश्वगंधा के फायदे (Ashwagandha Benefits To Reduce Uric Acid in Hindi)

अश्वगंधा शरीर के लिए बहुत फायदेमंद हर्ब है जिसका इस्तेमाल कई समस्याओं और बीमारियों को दूर करने के लिए किया जाता है। अश्वगंधा को आयुर्वेद में एक बहुत फायदेमंद औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इसमें मौजूद एंटीइंफ्लेमेटरी गुण शरीर में सूजन और दर्द को कम करने के लिए बहुत उपयोगी होते हैं। यूरिक एसिड कम करने के लिए रोजाना अश्वगंधा का सेवन करना फायदेमंद होता है। ऐसा करने से आपके जोड़ों का दर्द और सूजन कम होती है और यूरिक एसिड की मात्रा कम होती है। अश्वगंधा में कई औषधीय गुण होते हैं जो वजन कम करने और अर्थराइटिस की समस्या में भी बहुत फायदेमंद होते हैं।

यूरिक एसिड कम करने के लिए कैसे करें अश्वगंधा का इस्तेमाल? (How to consume Ashwagandha for Reducing Uric Acid in Hindi)

अश्वगंधा शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है और इसका सेवन कई तरीके से किया जा सकता है। यूरिक एसिड कंट्रोल करने के लिए आप शहद के साथ अश्वगंधा के पाउडर को मिलाकर इसका सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा रोजाना एक चम्मच अश्वगंधा का पाउडर, दूध में मिलाकर रात में सोने से पहले पीने से यूरिक एसिड कम होता है और कई अन्य फायदे भी मिलते हैं। अश्वगंधा का सेवन बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं करना चाहिए। अश्वगंधा की तासीर गर्म होती है इसलिए गर्मी के मौसम में इसका सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें : अश्वगंधा पाक के सेवन से दूर होती हैं कई समस्याएं, एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे और बनाने का तरीका

हमारे देश में आयुर्वेद और पारंपरिक चिकित्सा प्रणाली में अश्वगंधा का इस्तेमाल 3 हजार सालों से किया जा रहा है। इसका इस्तेमाल तमाम तरह की आयुर्वेदिक दवाओं को बनाने और कई बीमारियों को दूर करने के लिए किया जाता है। इसका सेवन करने से वजन कम करने, स्ट्रेस को दूर करने और शरीर की उर्जा बढ़ाने में बहुत फायदा मिलता है।

(All Image Source - Freepik.com)

 
Disclaimer