हाई ब्लड प्रेशर के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स: डॉक्टर से जानें बीपी बढ़ने पर किन बिंदुओं को दबाने से मिलेगा फायदा

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या में एक्यूप्रेशर पॉइंट्स को दबाने से बहुत फायदा मिलता है, जानें शरीर में मौजूद एक्यूप्रेशर पॉइंट्स के बारे में।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Dec 08, 2021Updated at: Dec 08, 2021
हाई ब्लड प्रेशर के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स: डॉक्टर से जानें बीपी बढ़ने पर किन बिंदुओं को दबाने से मिलेगा फायदा

ब्लड प्रेशर की समस्या या हाइपरटेंशन दिल से जुड़ी गंभीर बीमारियों का प्रमुख कारण है। असंतुलित खानपान और खराब जीवनशैली की वजह से आज के समय में हाई ब्लड प्रेशर कम उम्र के लोगों में भी देखा जा सकता है। हाई ब्लड प्रेशर से बचाव के लिए एक्सपर्ट हमेशा संतुलित भोजन और स्वस्थ जीवनशैली अपनाने की सलाह देते हैं। स्वस्थ और पौष्टिक भोजन, नियमित व्यायाम और धूम्रपान आदि कम करने से ब्लड प्रेशर को कंट्रोल किया जा सकता है। इसके अलावा ब्लड प्रेशर की समस्या को कंट्रोल करने के लिए एक्यूप्रेशर का ही सहारा लिया जा सकता है। हाई बीपी के लिए एक्यूप्रेशर एक अच्छा विकल्प है। दिल्ली स्थित आरोग्य एक्यूप्रेशर क्लिनिक के डॉ अजय कुमार ठाकुर ने हमें हाई ब्लड प्रेशर के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स के बारे में बताया। आइये जानते हैं इसके बारे में।

ब्लड प्रेशर के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स (Acupressure Points For High Blood Pressure)

हाइपरटेंशन या हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स को दबाना एक प्रभावी और अच्छा वैकल्पिक उपचार है। आप शरीर में मौजूद इन बिंदुओं की पहचान कर एक्सपर्ट द्वारा बताये गए तरीके से इन्हें दबाकर हाई बीपी की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। हाई ब्लड प्रेशर की समस्या में जब आप एक्यूप्रेशर पॉइंट्स को दबाते हैं तो इससे आपकी मांसपेशियों का तनाव भी दूर होता है और ये शरीर में रक्तसंचार को नियंत्रित करने का काम करता है। आइये डॉ अजय से जानते हैं हाई बीपी के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स के बारे में।

इसे भी पढ़ें : Hot Yoga For Hypertension: हाई ब्‍लड प्रेशर को तुरंत कंट्रोल करता है हॉट योग, वैज्ञानिकों ने किया साबित

1. बाएं हाथ के अंगूठे के आगे की तरफ पॉइंट

हाई ब्लड प्रेशर के लिए बाएं अंगूठे के आखिरी हिस्से की साइड में प्रेशर देने से बीपी कम होता है। इस जगह को शरीर में हाई ब्लड प्रेशर के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट के रूप में जाना जाता है। इस पॉइंट को लार्ज इंटेस्टाइन 4 कहा जाता है। 

2. दाहिने हाथ की कलाई के निचले हिस्से पर

दाहिने हाथ की कलाई के निचले हिस्से के कॉर्नर को दबाने से भी हाई बीपी की समस्या में फायदा मिलता है। इस जगह पर कुछ देर तक लकड़ी की जिमी से दबाने से फायदा मिलता है।

इसे भी पढ़ें : अगर आप हाइपरटेंशन या हाई बीपी के पेशेंट हैं तो डॉक्‍टर की बताई ये 10 बातें जरूर पता होनी चाहिए

3. गर्दन के पीछे पॉइंट्स

हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए इस एक्यूप्रेशर पॉइंट को पित्ताशय की थैली 20 या जीबी 20 कहा जाता है। गर्दन के पीछे जहां पर चोटी के बाल खत्म होते हैं उस जगह पर दबाने से ब्लड प्रेशर की समस्या में फायदा मिलता है। अंगूठे से सिर के इस पॉइंट पर दबाने से आपको फायदा मिलेगा।

4.  छोटी उंगली की साइड में 

छोटी उंगली की साइड में कलाई पर हार्ट पॉइंट मौजूद होता है। इस पॉइंट को दबाने से आपको हाई बीपी की समस्या में फायदा मिलता है।

एक्यूप्रेशर पॉइंट्स दबाते समय सावधानियां

हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स को दबाते समय कुछ बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए। एक्सपर्ट के मुताबिक एक्यूप्रेशर पॉइंट को दबाने के लिए स्टील या लकड़ी की जिमी का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके अलावा अगर आपको पॉइंट्स दबाते समय सिर में भारीपन या दर्द महसूस हो तो कुछ देर बाद पॉइंट्स को दबाना चाहिए। शुरुआत में एक्यूप्रेशर चिकित्सा शुरू करने से पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें : हाई ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल करने से लेकर कई बीमारियों का अचूका इलाज है काली मिर्च, जानें एक्‍सपर्ट्स की राय

हमें उम्मीद है हाई ब्लड प्रेशर के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स के बारे में दी गयी यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी। पहली बार एक्यूप्रेशर की चिकित्सा की शुरुआत करने से पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लेनी चाहिए। अगर आप उच्‍च रक्‍तचाप की समस्‍या से ग्रस्‍त हैं तो आपको इससे संबंधित कई खतरे हो सकते हैं। उच्‍च रक्‍तचाप के कारण दिल के दौरे और दिल संबंधित बीमारियों के होने का खतरा अधिक होता है। इसके अलावा इस समस्‍या से ग्रस्‍त लोगों को कोलेस्‍ट्रॉल और डायबिटीज की जांच भी करानी चाहिए। उच्‍च रक्‍तचाप के कारण कई अन्‍य बीमारियां होने की संभावना भी रहती है।

(all image source - freepik.com)

Disclaimer