पैर के अल्सर के लिए असरदार है यह 10 आयुर्वेदिक उपचार, एक्सपर्ट से जानिए इस्तेमाल का आसान तरीका

अगर आप भी पैर के अल्सर से पीड़ित हैं तो एक्सपर्ट से जानिए इसके लिए क्या है घरेलू उपाय और क्या है इस्तेमाल का आसान तरीका।

Vishal Singh
आयुर्वेदWritten by: Vishal SinghPublished at: Jan 25, 2021Updated at: Jan 25, 2021
पैर के अल्सर के लिए असरदार है यह 10 आयुर्वेदिक उपचार, एक्सपर्ट से जानिए इस्तेमाल का आसान तरीका

पैर का अल्सर के बारे में आप में से ज्यादातर लोगों ने सुना होगा, इसका शिकार जो भी होता है उसके पैर में चोट की तरह नजर आते हैं। जिसके दौरान आपको दर्द, जलन और सूजन के साथ कई तरह की परेशानियां भी हो सकती है। पैर के अल्सर एक प्रकार से खराब त्वचा पर विकसित होते हैं जो पैरों के अंदरूनी हिस्से में होते हैं। ये आपके पैर में वैसे तो कहीं भी हो सकते हैं लेकिन ज्यादातर ये टखनों, पिंडलियों या फिर तलवों में भी हो सकते हैं। पैर का अल्सर बहुत ही गंभीर समस्या है जिसके कारण आपको लंबे समय तक गंभीर स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। आपको बता दें कि पैर का अल्सर का सबसे बड़ा और आम कारण है शिरापरक रोग, जिसके कारण आप पैर के अल्सर का शिकार होते हैं। शिरापरक रोग के दौरान आपकी नसें रक्त को हृदय की ओर धकेलने में असफल होने लगती है जिसके कारण पैरों में रक्त फिर से प्रभावित हो जाता है। इसके अलावा भी कई और कारण हो सकते हैं जो आपको पैरों के अल्सर का शिकार बना सकते हैं। इसके वैसे तो चिकित्सक सहायता बहुत जरूरी है लेकिन इसके लिए आप कई घरेलू या आयुर्वेदिक उपचार का भी सहारा ले सकते हैं। जी हां, इसके लिए हमने बात की डॉ. अनार सिंह आयुर्वेदिक कॉलेज एवं अस्पताल के प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष , शल्य तंत्र की डॉक्टर राखी मेहरा से। जिन्होंने बताया कि कैसे पैरों के अल्सर के लिए आयुर्वेदिक उपचार असरदार है और क्या तरीका है। 

leg ulcer

पैर के अल्सर के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies For Leg Ulcers In Hindi)

1. एलोवेरा

एलोवेरा हमारे लिए कितना फायदेमंद है ये तो आप सभी जानते हैं, लेकिन क्या आप जानत हैं ये आपके पैर के अल्सर की बीमारी को दूर करने में भी काफी असरदार है। जी हां, डॉक्टर राखी मेहरा का कहना है कि एलोवेरा लंबे समय से स्वास्थ्य की की बीमारियों को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है, चाहे वो अंदरूनी हो या बाहरी। एलोवेरा एक प्रकार की चिकित्सीय जड़ी बूटी है जिसकी मदद से आप खुद को स्वस्थ रख सकते हैं। ऐसे ही जिन लोगों को पैर के अल्सर का शिकार होना पड़ता है उन लोगों के लिए एलोवेरा का इस्तेमाल एक सही विकल्प है। एलोवेरा आपके पैर के अल्सर का कारण बने बैक्टीरिया के विकास को रोकने के साथ संक्रमण को खत्म करने का काम करता है। इसको लगाने के लिए आप एलोवेरा जेल को सीधे आप अपने प्रभावित हिस्से पर लगाएं, आप दिन में कम से कम 2 से 3 बार एलोवेरा का इस्तेमाल करें। 

2. नारियल का तेल

नारियल का तेल बच्चे से लेकर बड़े हर किसी के लिए बहुत अच्छा माना जाता है, ये आपको कई संक्रमण से दूर रखने के साथ आपको स्वस्थ रखने में मदद करता है। डॉक्टर राखी मेहरा का कहना है कि नारियल के तेल में भारी मात्रा में लौरिक एसिड जैसे फैटी एसिड मौजूद होते हैं जिसकी मदद से अल्सर को बढ़ावा देने वाले संक्रमण को रोका जा सकता है। एक्सपर्ट का कहना है कि जिन लोगों को पैर का अल्सर होता है उन लोगों को रोजाना नारियल का तेल लगाना चाहिए जिसकी मदद से वो खुद को गंभीर स्थिति से बचाकर रख सके। नारियल का तेल आप अपने पैर के प्रभावित हिस्से पर लगाएं, इसे आप रोजाना 2 से 3 बार जरूर अपनाएं। 

3. शहद

शहद के गुणों के बारे में तो आप जानते ही होंगे, ये किसी भी संक्रमण और बैक्टीरिया के लिए बहुत प्रभावी होता है। शहद को सदियों से कई उपचारों के लिए इस्तेमाल किया जाता है, जिसकी मदद से आप पैर के अल्सर जैसे कई रोगों को दूर कर सकते हैं। आपको बता दें कि शहद आपके घावों और जलन के असरर को कम करता है और भड़काऊ गुणों को कम करने का काम करते हैं। इसके साथ ही अगर आप अपने पैर पर सूजन महसूस कर रहे हैं तो भी शहद काफी असरदार है। इसके लिए आप शहद को अपने पैर के प्रभावित हिस्से पर लगाएं और 10 से 15 मिनट के बाद गुनगुने पानी के साथ धो लें। 

leg ulcer

इसे भी पढ़ें: डिहाइड्रेशन ही नहीं, बल्कि इन 7 कारणों से भी सूख सकता है आपका मुंह, जानिए इसके लक्षण और बचाव के तरीके

4. टी ट्री ऑयल

टी ट्रीय ऑयल में भारी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीसेप्टिक तत्व पाए जाते हैं जो ज्यादातर सभी संक्रमणों को दूर करने के लिए फायदेमंद होते हैं। डॉक्टर राखी मेहरा का कहना है कि पैर के अल्सर के लिए टी ट्री कितना असरदार है इसकी पुष्टि शोध से भी हुई है। जिसमें शोधकर्ताओं का कहना है कि क्रॉनिक लेग अल्सर के लिए टी ट्री ऑयल एक असरदार घरेलू उपाय है। ये आसानी से पैर के अल्सर की समस्या को कम कर सकता है। इसको इस्तेमाल करने के लिए आप टी ट्री ऑयल के साथ नारियल के तेल को अच्छी तरह से मिला लें और फिर अपने पैर के प्रभावित हिस्से पर लागू करें। 

5. हल्दी

हल्दी कई गुणों से भरपूर है जो आपके स्वास्थ्य की कई समस्याओं और गंभीर स्थितियों को आसानी से दूर करने का काम करती है। ऐसे ही हल्दी की मदद से पैर के अल्सर को दूर किया जा सकता है। जी हां, एक्सपर्ट के मुताबिक, हल्दी में कर्क्यूमिन नाम एक यौगिक गुण होते हैं जो आपके घाव को आसानी से भरने का काम करते हैं। इसके लिए आप हल्दी का पानी के साथ एक पेस्ट तैयार करें और फिर इसे प्रभावित हिस्से पर लगाएं। इसको सूखने के बाद आप गुनगुने पानी के साथ धो लें। 

6. सेब का सिरका

एक्सपर्ट राखी मेहरा का कहना है कि सेब का सिरका भी पैर के अल्सर के लिए बहुत प्रभावी उपाय है, क्योंकि इसमें भारी मात्रा में एसिटिक एसिड मौजूद होता है और इसमें अलग-अलग प्रकार के विटामिन्स और खनिज मौजूद होते हैं। एक्सपर्ट का कहना है कि न सिर्फ ये आपके घावों को जल्द ठीक करता है बल्कि ये आपकी नसों का इलाज भी आसानी से कर सकता है। आप गुनगुने पानी के साथ सेब के सिरके को मिलाएं और एक साफ कपड़े के साथ इसे लगाएं। 

7. मेहंदी का तेल

मेहंदी का तेल कई चीजों के लिए इस्तेमाल किया जाता है जिसकी मदद से आप खुद को स्वस्थ रख सकते हैं। मेहंदी के तेल का इस्तेमाल करने से आप सूजन और दर्द को कम कर सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें भारी मात्रा में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो आपके पैर के अल्सर को बढ़ावा देने वाले बैक्टीरिया को कम कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: इन 3 चीजों को साथ में लेना कई बीमारियों का है रामबाण इलाज, Luke Coutinho से जानें क्यों है ये नुस्खा खास

8. नागफनी जामुन

नागफनी जामुन आपके पैर के अल्सर के लिए काफी अच्छा माना जाता है, ये आपके पैर पर हुए घावों को जल्द ठीक करने का काम करता है। इसमें काफी मात्रा में ऐसे गुण होते हैं जो बैक्टीरिया और संक्रमण पर रोकथाम करते हैं। इसका सेवन करने से आप खुद को पूर्ण रूप से स्वस्थ रख सकते हैं। 

9. अलसी के बीज

अलसी के बीज आपके कई तरह के कामों में इस्तेमाल होते हैं, ये आपको कई तरह के रोगों से दूर रखने में भी काफी असरदार होते हैं। ऐसे ही पैर के अल्सर के लिए भी अलसी के बीज काफी फायदेमंद होते हैं। आपको बता दें कि अलसी के बीज में भारी मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड मौजूद होता है जो आपके पैर के अल्सर को ठीक करने के लिए अच्छा होता है। आप अलसी के बीज को पीसकर पेस्ट बनाकर अपने प्रभावित हिस्से पर रोजाना लगाएं और कुछ देर के बाद ही गुनगुने पानी के साथ धो लें। 

10. कैमोमाइल

कैमोमाइल में भारी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो आपके पैर के अल्सर को आसानी से दूर कर सकते हैं। इतना ही नहीं ये आपके प्रभावित हिस्से से दर्द और सूजन को भी आसानी से दूर कर सकते हैं। आप कैमोमाइल को गुनगुने पानी के साथ मिलाएं और फिर किसी साफ कपड़े की मदद से लगा लें और फिर इसे कुछ देर के लिए सूखने दें। 

(इस लेख में दी गई जानकारी या पैर के अल्सर के लिए घरेलू उपाय डॉ. अनार सिंह आयुर्वेदिक कॉलेज एवं अस्पताल के प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष , शल्य तंत्र की डॉक्टर राखी मेहरा से बातचीत पर आधारित  है)।

 

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi  

 

Disclaimer