हार्ट अटैक के जोखिम को कम करेगा फॉलिक एसिड

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 06, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • फॉलिक एसिड के सेवन से आघात की संभावना कम हो सकती है।
  • पहले आघात के खतरे को ज्यादा कम कर सकता है इसका सेवन।
  • द जर्नल ऑफ अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन में प्रकाशित हुआ अध्ययन।  
  • फोलेट की आंशिक कमी होने पर आप सुस्त महसूस कर सकते हैं।

फोलिक एसिड एक प्रकार का बी विटामिन होता है। यह स्वाभाविक रूप से दालों व हरी सब्जियों जैसे खाद्य पदार्थों में फोलेट के रूप में व्याप्त होता है। लाल रक्त कोशिकाओं और डीएनए के उत्पादन के लिए शरीर को फोलिक एसिड की आवश्यकता होती है। फोलिक एसिड दिमाग, तंत्रिका तंत्र और रीढ़ की हड्डी में तरल मौजूद पदार्थ के लिए भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह स्पायीना बिफिडा (spina bifida) जैसे न्यूरल ट्यूब जन्म दोशों की रोकथाम करने में सक्षम होता है। यही नहीं कुछ शोध बताते हैं कि फॉलिक एसिड हार्ट अटैक के जोखिम को भी कम करने में मददगार होता है।

 

 

Folic Acid in Hindi

 

हार्ट अटैक और फॉलिक एसिड पर शोध

एक अध्ययन में पाया गया कि फॉलिक एसिड के सेवन से आघात की संभावना कम हो सकती है। चीन में हुए एक अध्ययन के अनुसार हाइपरटेंशन की दवा, एनालाप्रिल के साथ फॉलिक एसिड का सेवन, एनालाप्रिल के अकेले सेवन की तुलना में पहले आघात के खतरे को ज्यादा कम कर सकता है।

चीन में हुए व 'द जर्नल ऑफ द अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन (जेएएमए)' में प्रकाशित इस अध्ययन में उच्च रक्तचाप से पीड़ित 20,000 वयस्कों पर अध्ययन किया गया। (इन प्रतिभागियों को कभी भी आघात या हृदयाघात की समस्या नहीं हुई थी)। यह परीक्षण मई 2008 से अगस्त 2013 के बीच जियांगसु और अनहुई प्रांत के 32 समुदायों के बीच किया गया था।

 

Folic Acid in Hindi



बीजिंग स्थित पेकिंग यूनिवर्सिटी फर्स्ट हॉस्पिटल के योंग हुओ और उनके सहयोगियों ने अध्ययन के प्रतिभागियों को फोलिक एसिड और एनालाप्रिल (10 मिलीग्राम) या फिर सिर्फ एनालाप्रिल का अकेले सेवन कराया। जब विश्लेषण किया गया तो पाता चला कि एनालाप्रिल-फॉलिक एसिड का सेवन करने वाले लोगों में इसेमिक आघात का जोखिम 2.8 फीसदी की तुलना में 2.2 फीसदी रह गया और कार्डियोवस्क्युलर, हॉर्ट अटैक और आघात से होने वाली मौत का जोखिम 3.9 प्रतिशत से घट कर मात्र 3.1 प्रतिशत रह गया।

फोलिक एसिड के अच्छे स्रोत

फोलिक एसिड सप्लीमेंटों के अलावा हरी पत्तेदार सब्जियां इसका एक अच्छा स्रोत हैं, तो प्रतिदिन सलाद का एक बड़ा कटोरा खाएं। फोलेट से युक्त अन्य सब्जियां जैसे, मटर, मक्का, फूलगोभी, हरी मिर्च, चुकंदर, हरी सरसों तथा भिंडी आदि को अपने आहार में शामिल करें। ड्राई फूड्स जैसे बादाम, काजू, मूंगफली, अखरोट, तिल। फलियां जैसे सोयाबीन, लोबिया, राजमा, सूखी मटर, काबूली चना, दालें तथा फल जैसे स्ट्राबेरी, विलायती खरबूजा, केला, अनानास, पपीता, संतरे, रसबेरी आदि भी फोलिक एसिड के अच्छा श्रोत होते हैं। इसके अलावा साबुत अनाज, पास्ता, आटे की ब्रेड तथा दलिया आदि भी इसका अच्छा श्रोत होते हैं।


फोलेट की आंशिक कमी होने पर आप सुस्त महसूस कर सकते हैं। इसकी कमी की कारण दस्त, भूख न लगना, वज़न में कमी, जीभ का कड़वापन, सिरदर्द, दिल में घबराहट होना, चिड़चिड़ापन, चीज़ें भूल जाना तथा अन्य रोग भी हो सकते हैं।



Read More Articles on Diet & Nutrition in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES5 Votes 1565 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर