गर्मियों में पेट को ठंडा रखती है ये लस्‍सी, जानें बनाने का तरीका

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 02, 2018
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • लस्सी को कई फ्लेवर और टेस्ट में बनाकर पी सकते हैं।
  • पुदीना हाजमे के लिए काफी अच्छा माना जाता है।
  • मिंट लस्सी कमाल के माउथफ्रेशनर का काम भी करती है।

गर्मियों का मौसन शरीर से सारी नमी छीन लेता है, तपती धूप मानो कोई बदला ले रही होती है। लेकिन ऐसे में एक पारम्परिक पेय ऐसा होता है, जो शरीर को झट से ठंडा कर देता है। जी हां, ये पेय है ठंडी लस्सी, गर्मी में लस्‍सी से बढियां कुछ भी नहीं। आमतौर पर लस्‍सी मीठी होती है लेकिन आप इसे और कई फ्लेवर और टेस्ट में भी बनाकर पी सकते हैं। आज हम आपको ऐसी ही नमक वाली पुदीने की लस्‍सी, जिसे मिंट लस्सी भी कही जाता है, बनाना सिखा रहे हैं।
गर्मी के मौसम में पुदीने वाली लस्‍सी पी कर न सिर्फ ठंडक मिलती है, बल्कि ये लू आदि के प्रभाव से भी बचाती है। क्योंकि पुदीना हाजमे के लिए अच्छा होता है, इससे पाचन क्रिया भी दुरूस्त होती है। साथ ही ये एक कमाल के माउथफ्रेशनर का काम भी करती है। तो चलिये मिंट लस्‍सी बनाने की रेसिपी जानें। 

Mint Lassi in Hindi

2 लोगों के लिये मिंट लस्‍सी तैयारी करने में लगभग 5 मिनट का समय लगता है। इसके लिये निम्न सामग्री जरूरत होती है

  • दही 2 कप
  • पुदीना पत्‍ती ¼ कप
  • नमक ½ छोटा चम्‍मच
  • अदरक का जूस 1 चम्‍मच
  • काला नमक ¼ चम्‍मच (छोटा)
  • भुना जीरा पावडर ¼  छोटा चम्मच
  • आइस क्‍यूब ½ कप
  • पुदीने की पत्‍ती गार्निशिंग के लिये 3 से 4 

बनाने की विधि

  • सबसे पहले मिक्‍सर ग्राइडर में पुदीने की पत्‍ती, दही, अदरक का जूस, नमक, काला नमक सभी को लेकर 1 कप पानी लेकर ग्राइंड कर लें।  
  • इस मिक्सचर के तैयार हो जाने पर इसे गिलास में डालकर, ऊपर से आइस क्‍यूब डालें।
  • अब जीरा पावडर और पुदीने की पत्‍ती डाल कर इसे गार्निशिंग कर लें।
  • आपकी मिंट लस्सी तैयार है, आप इसे तुंरत या फ्रिज में ठंठा कर बाद में भी सर्व कर सकती हैं।  

लस्‍सी पीने के फायदे

  • लस्सी में मौजूद इलेक्ट्रोलाइट और पानी की मात्रा आपके शरीर की नमी को बनाये रखती है साथ ही शरीर की गर्मी को भी नियंत्रित रखती है। इसमें लैक्टिक एसिड की मात्रा ज्यादा होने के कारण यह इम्युनिटी पॉवर को मजबूत बनाती है।
  • लस्सी में अच्छे बैक्टीरिया की मात्रा अधिक होती है जिस वजह से इसके सेवन से पूरा पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है। अगर आपको पेट से जुड़ी कोई दिक्कत है तो एक गिलास लस्सी पी लें कुछ ही देर में तकलीफ दूर हो जायेगी। लंच के बाद इसका सेवन सबसे उपयुक्त माना जाता है।
  • जो लोग हमेशा एसिडिटी की समस्या से परेशान रहते हैं उन्हें लस्सी का सेवन ज़रूर करना चाहिये। लस्सी की तासीर ठंडी होती है जिस वजह से हार्टबर्न या अपच की समस्या से राहत दिलाने में यह बहुत असरदार है।
  • लस्सी में मौजूद लैक्टिक एसिड और विटामिन डी आपके शरीर की इम्युनिटी पॉवर को मजबूत करते हैं और बैक्टीरिया से लड़ने की क्षमता बढ़ाते हैं। इसके नियमित सेवन से आप सर्दी-जुकाम जैसी मौसमी इन्फेक्शन से भी बचे रहते हैं।
  • आपको बता दें कि लस्सी का रोजाना सेवन वजन कम करने में भी मदद करता है। इसमें कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती है और फैट तो होता ही नहीं है जिस लिहाज से यह वजन कम करने के लिए सर्वोत्तम है। यह पेट में मौजूद फैट को भी खत्म कर देती है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Healthy Recipes in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES20 Votes 6033 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर