सिर्फ एक एक्सरसाइज से बनाएं अपने बॉडी की हर मसल्स को मजबूत!

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 25, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • इनर कोर मसल्स को मजबूती देती है प्लैंक एक्सरसाइज।
  • साथ ही प्लांक एक्सरसाइज से शरीर का लचीलापन बढ़ता है।
  • प्लांक आर्म एक्‍सरसाइज कई प्रकार से किया जा सकता हैं।

आज तेजी से भागती इस जिंदगी में ज्यादातर लोग व्यायाम के लिये समय नहीं निकाल पाते हैं। जबकि ऐसे में व्यायाम और सही खान पान बेहद जरूरी हैं और इनका कोई विकल्प नहीं है। रोज एक्सरसाइज कर आप आधे से ज्यादा बीमारियों से दूर रह सकते हैं। व्यायाम में मसल बिल्डिंग बेहद महत्वपूर्ण होती है, मजबूत मसल्स ही मजबूत शरीर की अवधारणा होती हैं। और आपको जानकर खुशी होगी कि केवल एक एक्सरसाइज (प्‍लैंक एक्सरसाइज) की मदद से बिना जिम जाए न सिर्फ फ्लैट पेट पा सकते हैं, बल्कि पूरे शरीर की मसल्स को मजबूत बना सकते हैं।

Plank Exercise in Hindi


प्‍लैंकआर्म एक्‍सरसाइज

प्‍लैंक आर्म एक्‍सरसाइज पेट की मसल्स (इनर कोर मसल्स) को मजबूती देने के लिए एक बेहतरीन व आसान वर्कआउट है। इस करसे मसल्स को मजबूती तो मिलती ही है साथ ही शरीर का लचीलापन भी बढ़ता है। प्लांक आर्म एक्‍सरसाइज कई प्रकार से किया जा सकता है। चलिये साधारण फुल प्लांक करने का तरीका जानते हैं।


करने का तरीका

  • प्‍लैंक आर्म एक्‍सरसाइज करने के लिये सबसे पहले पुश-अप्स की स्थिति में आ जाएं।
  • इसके बाद पैर और कमर को सीधी करें, ध्यान रहे इस दौरान आपका शरीर बीच से झुके नहीं।
  • अब जितनी देर संभव हो सके इसी स्थिति में रहने का प्रयास करें, इस दौरान सांस को भी रोके रखने का प्रयास करें।
  • इसकी शुरुआती दो-तीन मिनट से करें और फिर धीरे-धीरे इसी समय बढ़ाते जाएं।
  • चाहें तो एक्सरसाइज को और भी मुश्किल बनाने के लिए एक पैर या एक हाथ को हवा में उठा लें।  

आप चाहें तो साइड प्लांक भी कर सकते हैँ। साइड प्लांक से पसलियों के ऊपर की मसल्स (ऑब्लीक्स) को मजबूती मिलती है। साधारण फुल प्‍लैंक से अलग इसमें बस एक करवट से इसे किया जाता है।


आर्म एक्‍सरसाइज के फायदे

टोंड बटक्स (Toned buttocks)

जब भी हम व्‍यायाम करते हैं इन अंगों के बारे में जानकारी न होने के कारण नजरअंदाज कर जाते हैं। लेकिन ग्‍लूटेल मसल्‍स (यह हिप्‍स के पास की एक जगह है) और हैमस्ट्रिंग पैरों को ध्‍यान में रखकर किया जाना वाला प्लांक व्‍यायाम करने से नितंबों को मनवांच्छित आकार मिलता है और इसके आसपास अतिरिक्‍त चर्बी नहीं जमा होती है। इससे सेल्‍यूलाइट भी चला जाता है।


मजबूत कमर

एक्सरसाइज के दौरान, पीठ के निचले हिस्से की मांसपेशियां ज्यादा सक्रिय होती हैं। तो, ये एक्सरसाइज गर्दन और रीढ़ की हड्डी को स पोर्ट देती है और इन्हें मजबूत बनाती है। साथ ही प्लांक एक्सरसाइज करने से बहुत देर तक बैठे रहने या भारी बैग्स उटाने की वजह से होने वाला कंधओं का दर्द भी नहीं होता है।


चुस्त व आकर्षक पैर

इस एक्सरसाइज का मुख्य जोर पैरों पर रहता है। कूल्हों से लेकर पंजों को छोर तक की मसल्स इस एक्सरसाइज में शामिल होती हैं। इसकं नियमित अभ्यास से पैरों की मसल्स तो मजबूत होती है साथ ही पैरों को बेहतरीन शेप भी मिलती है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Image Source - Getty Images

Read More Article On Sports & Fitness in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES212 Votes 39099 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर