गर्भावस्था का छब्बीसवां सप्ताह

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 09, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • इस सप्‍ताह में आपको ब्रेक्सटन हिक्स संकुचन महसूस होता है।
  • थकान के साथ ही आपको कमजोरी का भी अनुभव होता है।
  • इस दौरान गर्भाश्‍यय नाभि से दो से ढाई इंच ऊपर आ जाता है।
  • बच्‍चे की दिल की धड़कन को भी आसानी से सुना जा सकता है।

आप गर्भावस्था के अंतिम चरण में प्रवेश कर रही हैं, अब आपका बेबी बंप साफ दिखाई दे रहा है। गर्भावस्था के 25 हफ्ते पूरे होने के बाद 26वें हफ्ते में आपका गर्भाश्‍य नाभी के दो से ढाई इंच ऊपर महसूस होता है।

twintysixth week of pregnancy

 

यदि आप पहली बार गर्भवती हुई है तो आपको आपको इस समय ब्रेक्सटन हिक्स संकुचन का ज्‍यादा महसूस होंगे। यह आम प्रक्रिया है, इनसे घबराने की जरूरत नहीं है। दरअसल, संकुचन पेट का कसना है। यदि आपको इनसे ज्‍यादा परेशनी महसूस हो रही है तो आप अपने डॉक्‍टर से परामर्श कर सकती हैं। इस दौरान आपको पहले से ज्‍यादा थकान महसूस होती है। यह आपके बढ़ते वजन का कारण भी हो सकता है।

मांसपेशियों में भी खिचन का अहसास होगा। यह गर्भावस्था में होने वाली सामान्य परेशानी है। दर्द के लंबी अवधि तक रहने पर आप डॉक्‍टर परामार्श करें। बच्‍चे के विकास को डॉक्‍टर से ट्रैक कराते रहे। दवाओं को सही समय पर लें। डिलीवरी के बाद की तैयारी तो आप साथ के साथ कर ही रही होंगी। तैयारी के बीच आराम करना न भूलें। इस दौरान काम के साथ आराम आपके लिए उतना ही जरूरी है जितना काम।

 

बच्चे का विकास

भ्रूण के विकास का 26वां सप्‍ताह है, वजन और लंबाई बढ़ रही हैं। इस समय बच्‍चे का वजन करीब दो पाउंड होगा। बच्चा जल्द ही आंखे खोलना शुरू करने के साथ भी पलक भी झपकने लगेगा। इस स्तर पर आंखों का विकास पूरा हो जाता है। आंखों का रंग पहले नीला निर्धारित हुआ है, लेकिन जन्म के बाद यह बदल सकता है। यहां पर बच्‍चे का हृदय रक्‍त को पंप करना शुरू कर देता है और उसकी दिल की धड़कन को भी सुना जा सकता है। अब बच्चा सांस लेने की गतिविधी कर रहा है।

 

आपके शरीर में परिवर्तन

गर्भावस्था के 26वें हफ्ते में पहले की ही तरह आपके शरीर में परिवर्तन जारी रहता है। वजन भी बढेगा, यदि आपको किसी तरह की परेशानी महसूस होती है तो तुरंत चिकित्‍सक से संपर्क करें। इस दौरान आपको बिल्‍कुल भी लापरवाही नहीं करनी चाहिए। डॉक्‍टर के परामर्श को अमल में लाएं। इस दौरान डॉक्‍टर आपको दवाओं के कम सेवन की सलाह देता है। गर्भाशय नाभी के दो से ढाई इंच ऊपर तक होता है और अगले हफ्तों में यह और बढ़ेगा।

इस दौरान आपको ब्रेक्सटन हिक्स संकुचन का अनुभव होता है, इसका कोई साइड इफेक्‍ट नहीं होता। यह सामान्‍य प्रक्रिया है, जिसका बच्‍चे या आप पर कोई असर नहीं होता। 26वें हफ्ते में बच्चा गर्भ के अंदर हलचल करने लगता है और यहां तक कि वह लात भी मार सकता है। आप पेट के आकार को देखकर बच्चे के फैलाने का अनुभव कर सकती हैं। इस दौरान आपको बैठने या सोने में आरामदायक स्थिति प्राप्‍त करने जरूरत होती है। खुद को फिट रखने के लिए आप कुछ आसान योग और व्‍यायाम का भी सहारा ले सकती हैं। सुबह और शाम के समय टहलना भी आपके लिए अच्‍छा रहेगा।

 

आपसे की जाने वाली उम्‍मीदें

गर्भावस्था का 26वां हफ्ता काफी अहम होता है, इस समय आपके शरीर में बहुत से परिवर्तन होते हैं। कुछ महिलाओं में इस समय अवसाद की समस्‍या भी देखी जाती है। बच्‍चे के जन्‍म के बाद आप देखेंगी कि बिना किसी कोशिश के आपका अतिरिक्‍त वजन खुद से कम हो गया। यदि आप पहली बार मां बनने वाली हैं तो आपको शिशु के जन्‍म से पहले तनाव न लेने, पर्याप्त नींद लेने और हाइड्रेटेड रहने की सलाह दी जाती है। यदि आपको पेट पर खिंचाव के निशान नजर आते हैं तो आप माइश्‍चराइजर या मक्खन का इस्‍तेमाल कर सकती हैं। इससे खिंचाव के निशान को कम होंगे और आपकी त्वचा हायड्रेटेड व चिकनी रहेगी।

 

आपके लिए सुझाव

आपके गर्भावस्था का यह अब एक बहुत ही महत्वपूर्ण चरण है। अगर डॉक्टर आपको कुछ सलाह या आदेश देते है, तो उसका पालन करे। आप कुछ भी हासिल कर सकते हैं ऐसा आप महसूस कर सकते हैं, आपको बहोत अच्छा लगेगा लेकिन शरीर पर अधिक तनाव डालना, याने बच्चे पर डालना हैं। याद रखें आपको सुपरवूमन होना जरूरी नहीं है। हर थोडी देर बाद आराम करना अच्छा है।

 

 

 

Read More Article On Pregnancy Weeks in Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES96 Votes 57284 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • varsha07 Oct 2012

    Its very good. Its givs us right direction for care

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर