स्ट्रैचिंग के दौरान गलतियां हो सकती हैं नुकसानदेह

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 19, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • स्ट्रेचिंग मांसपेशियों से तनाव दूर कर उन्‍हें मजबूत बनाती है।
  • मांसपेशियों पर जरूरत से अधिक जोर न दें। 
  • व्‍यायाम में जल्दबाजी ना करें।
  •  मांसपेशियों पर ध्यान केंद्रित है जरूरी।

स्ट्रेचिंग मांसपेशियों को मजबूत बनाती है। हालांकि, अनुचित स्ट्रेचिंग से मांसपेशियों अकड़ सकती है। यहां कुछ सामान्य स्ट्रेचिंग गलतियों के बारे में बताया गया है जिन्हे करने से बचना चाहिए। स्ट्रेचिंग को योजनाबद्ध तरीके से किया जाना चाहिए। इससे आपके जोड़ अधिक लचीले बनते हैं साथ ही रक्‍त संचार में भी सुधार होता है।


व्‍यायाम में जल्दबाजी

वास्तव में आपके स्ट्रेचिंग सेशन शुरू करने से पहले सही तरह से तैयार होना जरूरी है। शुरू करने से पहले अपनी मांसपेशियों को रिलैक्‍स करें और अपने शरीर को स्ट्रेचिंग के लिए तैयार करे। जल्‍दबाजी में आपको चोट भी लग सकती है।


अनियमितता

अगर आप स्‍ट्रेचिंग करना चाहते हैं, तो इसे नियमित तौर पर करें। सप्‍ताह में एकाध बार स्‍ट्रेचिंग करने से कोई फायदा नहीं होने वाला। रोजाना एक या दो बार पांच से दस मिनट के लिए स्‍ट्रेचिंग करें। अगर आप कम समय के लिए भी नियमित तौर पर स्‍ट्रेचिंग करते हैं तो आपको काफी फायदा होगा।

 

way of stretching

स्ट्रेच के बीच पर्याप्त अंतर न रखना

दो स्ट्रेच के बीच 15 से 20 सेकेंड का अंतर रखना महत्वपूर्ण है। अंगड़ाई लेते समय अगली स्थिति में जाने से पहले कुछ समय के लिए आपका शरीर रिलेक्स हो जाता है।


सही मांसपेशियों पर ध्यान केंद्रित न होना

कई बार हम कुछ खास मांसपेशियों की ओर अधिक ध्यान केंद्रित करते है और बाकी मासपेशियों की ओर नही। परिणामस्वरूप, ये मांसपेशियों ढीली हो जाती है जबकि बाकी में कसाव रहता है। इसलिए, आप को स्वस्थ शरीर पाने के लिए मांसपेशियों के सभी समूहों की ओर बराबर ध्यान देना चाहिए।

 

स्‍ट्रेचिंग वॉर्म-अप नहीं है

अपनी मांसपेशियों को खोलने के लिए पहले किसी तरह का क्रियाकलाप करें। स्‍ट्रेचिंग को वॉर्म-अप की तरह इस्‍तेमाल न करें। एक बार जब आप स्‍वयं को तैयार समझें तो फिर अपनी जरूरत और पसंद के हिसाब से स्‍ट्रेचिंग करें। एक ही मांसपेशी पर जोर डालने के बजाय डायनेमिक स्‍ट्रेच पर जोर दें। जिससे आप एक साथ काफी मांसपेशियों की कसरत कर सकें।

mistakes during stretching

 

सुबह उठते ही स्‍ट्रेचिंग अच्‍छी नहीं

बिस्‍तर छोड़ते ही स्‍ट्रेचिंग करना लाभकारी नहीं होता। जब आप सोकर उठते हैं तो आपकी मांसपेशियां पूरी तरह वार्म-अप नहीं होतीं। ऐसे में स्‍ट्रेचिंग करना उन्‍हें नुकसान पहुंचा सकता है। अगर आप सुबह स्‍ट्रेचिंग करना ही चाहते हैं तो कुछ समय के लिए ठहरें या सैर कर अपनी मांसपेशियों को स्‍ट्रेचिंग के लिए तैयार करें।

 

अपने स्ट्रेचिंग सत्र के रिकॉर्ड को बनाए न रखना

अपने स्ट्रेचिंग सत्र से अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए, यह बहुत आवश्यक है कि अपने सभी सत्रों के एक ट्रैक को बनाए रखें। आप विभिन्न स्ट्रेच को ध्यान में रख सकते है जिन्हे कि आप कर सकते है और जिन्हे आप कर सकते है उसकी अवधिक को भी ध्यान में रख सकते है। एक रिकार्ड को बरकरार रखना भी आपके सत्र को नियमित करने में मदद करता है।

 

शुरुआत में अधीर होना

आप निश्चित समय से अधिक स्ट्रेचिंग के लाभ प्राप्त कर सकते है। यदि आप अंगड़ाई लेना शुरू करते है और रातोरात परिणाम देखना चाहते है, आप अधीर और उदासीन हो जाते है। इसलिए, यह महत्वपूर्ण है कि धैर्य रखें और धीरे धीरे निश्चित समय के भीतर स्ट्रेचिंग के लाभा उठाएं।


यदि आप मन में इन बातों धारण करेंगे और इन गलतियों न करें, आप स्ट्रेचिंग के अधिकतम लाभ प्राप्त कर सकते है और पूरे शरीर की फिटनेस को बनाए रख सकते है।

 

Read More Articles on Sprots and Fitness in Hindi

 

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES2 Votes 14607 Views 2 Comments
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर