उम्र से छह साल ज्यादा जीना चाहते हैं, तो करें ये 4 चीजें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 21, 2017
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • खुशहाल जिंदगी के लिए शरीर का स्‍वस्‍थ होना जरूरी है।
  • जिंदगी को खुशहाल बनाकर ज्‍यादा जीवित रह सकते हैं।
  • वैज्ञानिकों ने अलग-अलग रिसर्च में साबित किया है।

जीवन अनमोल है, इसे जितनी जिंदादिली के साथ जिएंगे उतना ही जीवन का आनंद उठा पाएंगे। जिंदगी को खुशहाल बनाने के लिए शरीर और मन का स्‍वस्‍थ होना बहुत जरूरी है। अगर आप स्‍वस्‍थ नही हैं तो जीवन कष्‍टकारी ही रहेगा। आज हम आपको जिंदगी जीने की ऐसी 4 बातें बताने जा रहें हैं, जिनका अनुशरण कर आप अपनी उम्र से 6 साल अधिक जीवित रह सकते हैं। यह हम नही कह रहे हैं बल्कि ऐसा वैज्ञानिकों ने अलग-अलग रिसर्च में साबित किया है।

इसे भी पढ़ें : चोट या खरोंच को चाटना है कितना सही? जानें

eating

कम खाएं और ज्यादा जियें...

अगर आप ज्यादा दिन जीना चाहते है तो कम खाना चाहेंगे ? यह प्रश्न विस्कोनीसन यूनिवर्सिटी के द्वारा उठाया गया है जिसमे उन्होंने कम कैलोरी युक्त भोजन के लाभ के बारे में अपनी शोध प्रक्रिया की है। शोध में पाया गया है की रेहसुस बन्दर को जब उसकी नियमित खुराक से कम भोजन दिया गया तो उसके जीवनकाल में लगभग 6 वर्ष की बढ़ोत्तरी पायी गयी। और यूनिवर्सिटी के जर्नल में ये भी प्रकाशित हुआ की इनमे अन्य बीमारियो जैसे हृदयाघात, डायबिटीज और अन्य बीमारियो का खतरा भी कम हुआ। पहले कैज्ञानिको का कहना था की अच्छे और लंबे जीवन के लिए 30 % कैलोरी कम किया जाना चाहिए पर अब वो मानते है की इसे और भी कम करना चाहिए। पर इसके लिए अभी और शोध होना चाहिए।

नियमित जांच कराएं

अगर हम अपने डॉक्टर से नियमित जाँच करवाते रहे तो अपने शरीर में होने वाली कुछ बीमारियो का पता पहले से लग जाने के कारण ये हमारे स्वाथ्य के लिए लाभदायक होगा जैसे की हमे अगर डायबिटीज के लक्षण होंगे तो हम पहले से परहेज़ कर के इस बीमारी से काफी हद तक बच सकते है। सेंटर ऑफ़ डिजीज कण्ट्रोल एंड प्रिवेंशन के डेटा के अनुसार 37 % पुरुष जिनकी उम्र 18 से 29 वर्ष के बीच है जल्दी अपने डॉक्टर से नियमित जाँच क लिए संपर्क ही नही करते।

जेनाइटल हर्पस की समस्‍या

सीडीसी के अनुसार प्रति 6 में से 1 व्यक्ति 14 से 49 की उम्र तक में जननांग दाद (Genital Herpes) से ग्रसित होता है। कंडोम का प्रयोग करके इसके वायरस को संक्रमण से रोक जा सकता है परंतु ये पूरी तरह से सुरक्षित नहीं है। पेनिंसिलविन्या यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने  एक trivalent वैक्सीन के बारे में पता लगाया है जो की वायरस के तीन विभिन्न भागो पर आघात करती है अभी इसका परिक्षण केवल बंदरो और Guiana pigs पर किया गया है और मनुष्यो पर बीएचई जल्दी किया जाएगा।

फोन से बनाएं दूरी

दुनिया भर के लोग अकाउंट हैकिंग जैसी समस्या से ग्रसित है। 24% लोगो ने ये मन है की उनका सोशल अकाउंट उनके पार्टनर या फ्रैंड्स के द्वारा हैक किया जाता है। ब्रिटिश कोलंबिया यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स कहते है की पहले लोग केवल प्रोफाइल पिक्‍चर या स्टेटस बदलने के लिए करते थे परंतु अब लोग पर्सनल मेसेज पढ़ने के लिए करते है। इससे बचने के लिए आप ये कर सकते है की अपने पासवर्ड को समय समय पर बदलते रहे। ऑस्ट्रेलियाई रिसर्च में बताया गया है की काम की अधिकता से समय पर कुछ दिनों की छुट्टी ले कर शारीर को मानसिक अवं शारीरिक आराम देना चाहिए इससे रक्त चाप और मानसिक चिंता से आराम मिलता है।

 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Helthy Living In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1933 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर