रजोनिवृत्ति के दौरान रात का पसीना कैसे रोके

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 19, 2010
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • रजोनिवृत्ति के दौरान एस्ट्रोजेन के स्तर में गिरावट का अनुभव होता हैं।
  • रजोनिवृत्ति के दौरान तनाव रात में पसीने के कारणों में से एक हो सकता है।
  • केवल सोने के वक्त ही नही बल्की दिन भर प्राकृतिक कपड़े पहनें।
  • सिंथेटिक फाइबर आपकी त्वचा को सांस नहीं लेने देते।

रजोनिवृत्ति के दौरान महिलाओं को एस्ट्रोजेन के स्तर में नाटकीय ढंग में गिरावट का अनुभव होता हैं। जिसके परिणाम स्वरुप नोक्टुरर्नल हायपरहिड्रोसिस होता हैं, आमतौर पर इसे रात्रकालिन पसीना कहते हैं। कुछ ऐसे सरल उपाय है, जिसके द्वारा रात्रकालिन पसीने को रोक सकते हैं। चलिये विस्तार से जानें रजोनिवृत्ति के दौरान महिलाओं में अधिक पसीना आने को कैसे रोका जाए।


आहार

आपको मसालेदार और अम्लीय खाद्य पदार्थ नहीं खाने चाहिए। तंम्बाकू, कैफीन और शराब को कम करना भी रात्रिकालीन पसीने को कम करने में मदद करेगा। कुछ लोग डेयरी उत्पाद और मांस को दोषी मानते हैं, लेकिन आपको अपने पोषण के स्तर को उच्च रखना चाहिए। जैसे की रजोनिवृत्त महिलाओं के लिए कैल्शियम विशेष रूप से महत्वपूर्ण है, क्योंकि रजोनिवृत्त महिलाऐं ऑस्टियोपोरोसिस के लिए अधिक प्रवण होती हैं। एक आहार विज्ञ से मध्यमार्ग फिर भी संतुलित आहार के लिए परामर्श करें। इसके अलावा, रात के भोजन पर गर्म भोजन और पेय पदार्थों से बचने की कोशिश करे।

 

 

विटामिन

विटामिन बी और सी रात में पसीने को रोकने में सहायता कर सकते हैं। सुबह की धूप जो साथ में  पर्याप्त विटामिन डी लाती है, वह भी बेहद फायदेमंद हैं।


तनाव

रजोनिवृत्ति के दौरान तनाव रात में पसीने के कारणों में से एक हो सकता है। ध्यान से आपको क्रोध और चिंता जैसी तनाव देनेवाली भावनाओं से उबरने में मदद मिलेगी। आप तनाव कम करने वाले कुछ व्यायाम भी कर सकते हैं, लेकिन किसी भी तरह की तीव्र और ज्यादा हलचल वाली और आपके शरीर का तापमान नाटकीय रूप से बढ़ाने वाली गतिविधीयों से बचे।


शयन कक्ष

आप जितना संभव हो अपने बिस्तर और बेडरूम को शांत और आरामदायक बनाए।  कॉटन की चादरें का प्रयोग करें और यदि संभव हो तो कपास के गद्दे और तकिए उपयोग करे। एयर कंडीशनिंग के बजाय, वेंटिलेशन और पंखा लगाकर सोए।  ताजी हवा आपके शरीर के तापमान को अधिक विनियमित करने में मदद कर सकती हैं। पर्याप्त ठंडे पानी की एक बोतल पास रखे। यदि आप प्यासे सोऐंगे तो आपको रात में पसीना आने  की ज्यादा संभावना हैं।

 


कपड़े

केवल सोने के वक्त ही नही बल्की दिन भर प्राकृतिक कपड़े पहनें। मलमल या कपास के सफेद और हल्के रंगों के कपडे सबसे अच्छा विकल्प हैं। सिंथेटिक फाइबर आपकी त्वचा को साँस नहीं लेने देते। इसके अलावा, सिंथेटिक कपड़ें पसीने को अवशोषित नहीं करते और रात में पसीना और गर्म चमक में वृद्धि करेंगे। ठंड के मौसम के दौरान आप पॉलिएस्टर या प्राकृतिक ऊनी स्वेटर का चयन कर सकते हैं।


शीत पेय

दिन के दौरान ताजे निचोड़े हुए रस और ज्यादा पानी पिना आपके शरीर के तापमान को सामान्य रखने में सहायता करेंगे। नारंगी, नींबू, और मोसंबी की  तरह खट्टे फलों के विकल्प सबसे अधिक फायदेमंद हैं। गाजर और अन्य सब्जियों के रस भी फायदेमंद साबीत होते हैं।


एचआरटी

रजोनिवृत्ति और उससे संबंधित समस्याओं जैसे रात्रिकालीन पसीने को हल करने के लिए आखरी उपाय थोडा विवादास्पद है। एक लंबे समय से हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी पर विशेषज्ञों द्वारा चर्चा कि गयी हैं। कुछ इसके पूरे पक्ष में हैं और गर्म चमक, रात मे पसीना, मनोदशा में बदलाव में पूर्ण सुधार और अस्थि घनत्व में वृद्धी जैंसे फायदों का हवाला देते हैं। तो दूसरें दिल का दौरा पड़ने का खतरा बढ़ना, रक्त के थक्के बढना और स्तन कैंसर की तरह साइड इफेक्ट की चेतावनी भी देते हैं। रात्रिकालीन पसीने को ठिक करने के लिए एचआरटी का उपचार करने का सोचने से पहिले हमेशा एक डॉक्टर से परामर्श ले और दोनों पक्षों को तौले।
 
 

Write a Review
Is it Helpful Article?YES18 Votes 14145 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर