वसा नहीं उच्‍च कार्बोहाइड्रेट से होती हैं दिल की बीमारियां

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 03, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • आहार में कार्बोहाइड्रेट से बढ़ता है हृदय रोग का खतरा।
  • उच्‍च कार्बोहाइड्रेट रक्‍त में फैटी एसिड के स्‍तर का बढ़ता है।  
  • पेट पर अतिरिक्‍त फैट और उच्‍च रक्‍तचाप भी बढ़ता है।
  • यह अध्‍ययन ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी में किया गया था।

आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए क्‍या बुरा है - वसा या कार्बोहाइड्रेट? इस विषय को लेकर लोगों के जेहन में कई सवाल होते हैं। संतृप्त वसा के सेवन को लेकर स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ हमेशा से चेताते रहे हैं। इसे मोटापा, मधुमेह, हृदय रोग और संज्ञानात्मक गिरावट के लिए जिम्‍मेदार माना जाता है। ज्‍यादातर लोग यही मानते हैं कि कार्बोहाइड्रेट की तुलना में वसा सेहत के लिए अधिक नुकसानदेह है। लेकिन, क्‍या यह बात पूरी तरह सही है। शायद नहीं, हाल ही में हुए एक शोध से यह बात सामने आई है कि आहार में कार्बोहाइड्रेट का भरपूर सेवन हृदय रोग और मधुमेह की आशंका को बढ़ा देता है।

carbohydrates rich diet in hindi

शोध की मानें तो

कनाडा की ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी में हुए एक शोध के अनुसार, किसी भी व्‍यक्ति के आहार में संतृप्त वसा की मात्रा में वृद्धि से रक्त का स्तर नहीं बढ़ता। लेकिन आहार में उच्‍च मात्रा में कार्बोहाइड्रेट के सेवन से रक्‍त में फैटी एसिड का स्‍तर बढ़ने लगता है। और इसकी वृद्धि मधुमेह और हृदय रोग का कारण बन सकती है।

 

उच्च कार्बोहाइड्रेट आहार हृदय रोग का कारण  

PLOS में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी में शोधकर्ताओं ने संतृप्त वसा के रक्‍त स्‍तर और कार्बोहाइड्रेट का सेवन करने वालों पर नजर रखी। अध्‍ययन के दौरान शोधकर्ताओं ने पाया कि कार्बोहाइड्रेट की मात्रा में वृद्धि के साथ, रक्त स्तर बढ़ गया। दूसरी ओर, कार्बोहाइड्रेट का कम सेवन करने वाले अधिकांश प्रतिभागियों में संतृप्त वसा का कुल रक्त स्तर कम हो गया।

 

अध्‍ययन के दौरान ऐसे सोलह वयस्‍कों को शमिल किया गया, जिन्‍हें मेटाबॉलिक सिंड्रोम था। और इन्‍हें तीन सप्‍ताह के लिए कम कार्बोहाइड्रेट आहार दिया गया। अध्‍ययन के दौरान, मरीजों को दिये जाने वाले आहार से उनका कार्बोहाइड्रेट का स्‍तर बढ़ा हुआ मिला। टीम ने इसके प्रतिकूल प्रभाव नोटिस किये क्‍योंकि कार्बोहाइड्रेट के कम होने से पामिटोलेइक अम्ल (अस्वस्थ चयापचय के साथ जुड़ा फैटी एसिड) का स्‍तर गिरा हुआ पाया गया। 


इस विषय में अध्‍ययन में प्रवेश से पहले ऐसे लोगों ने संतृप्‍त वसा को पहले की तुलना में दो बार ज्‍यादा खाया। जब खून में संतृप्‍त वसा को मापा गया, तो नोट किया गया कि इसका स्‍तर बहुत नीचे चला गया था। इससे पता चलता है कि जब शरीर कार्बोहाइड्रेट को फैट में परिवर्तित करता है तो पामिटोलेइक एसिड बायोमार्कर के लिए संकेत होता है। और इस प्रकार से हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है।

 High intake of carbohydrates in hindi

अध्‍ययन के दौरान यह भी पाया गया कि कार्बोहाइड्रेट के बढ़ने से पेट पर अतिरिक्‍त फैट, उच्‍च रक्‍तचाप, लो 'गुड' कोलेस्‍ट्रॉल, इंसुलिन प्रतिरोध या ग्लूकोज असहिष्णुता, और उच्च ट्राइग्लिसराइड्स जैसी पांच समस्‍याएं भी बढ़ने लगती हैं।

कोलंबस में ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी में ह्यूमन साइंस विज्ञान के प्रोफेसर जेफ वोलेक के अनुसार, कार्बोहाइड्रेट का कोई भी सुरक्षित और स्वस्थ स्तर या भोजन का अन्‍य कोई ऐसा दृष्टिकोण नहीं है, जो हर किसी के लिए एक ही तरह से काम कर सके।

 

रेखा के नीचे

शरीर पर संतृप्त वसा के प्रभाव के बारे में एक व्यापक भ्रम है। आहार संतृप्‍त वसा और हृदय रोग के संबंध के बीच कोई निर्णायक अध्‍ययन नहीं है, अभी तक स्‍वास्‍थ्‍य और आहार दिशा-निर्देश संतृप्त वसा के प्रतिबंध का समर्थन करते हैं। अध्‍ययन ने संकेत दिया कि रक्‍त में संतृप्‍त वसा दिल की बीमारी के जोखिम बढ़ा देता है।



Image Courtesy : Getty Images

Read More Articles on Heart Health in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES3 Votes 1151 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Suhani05 Dec 2014

    सच में यह तो कमाल की बात है। अभी तक सभी लोग यही बताते थे कि फैटी डायट ज्‍यादा खतरनाक होती है, लेकिन आप तो यह कह रहे हैं कि कार्बोहाईड्रेट दिल को बीमार करती है। यह तो नयी बात जानने को मिली। यानी अब मैं अपना मनपसंद फूड खा सकती हूं।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर