एक्‍सरसाइज के शारीरिक और मानसिक लाभ

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 20, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • एक्‍सरसाइज करने से मोटापा दूर करने में मिलती है मदद।
  • आपके दिल की सेहत के लिए होती है अच्‍छी एक्‍सरसाइज। 
  • एक्‍सरसाइज करने से आपका मन भी रहता है स्‍वस्‍थ।
  • आपको अधिक ऊर्जावान बनाए रखती है एक्‍सरसाइज।

आज की सबसे बड़ी समस्‍या है मोटापा, बड़े ही नही बच्‍चे भी इस की चपेट में आ रहे हैं। लेकिन आप आपने दिनचर्या में एक्‍सरसाइज को शामिल कर ना सिर्फ अपना वजन कम कर सकते हैं बल्कि कई प्रकार की समस्‍याओं से भी बच सकते हैं। एक्‍सरसाइज से आपको कई प्रकार के शारीरिक और मानसिक लाभ भी मिल सकते हैं। आइए ऐसे ही कुछ लाभों के बारे में इस ऑटिकल के माध्‍यम से जानें।  

exercise in hindi

वजन कम करने में सहायक

अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स ने बच्चों को दिन भर में केवल दो घंटे ही टीवी देखने या वीडियो गेम्स खेलने की सलाह दी है। विशेषज्ञ अच्छी सेहत के लिए लड़कों को प्रतिदिन 13 हजार और लड़कियों को 11 हजार कदम चलने की सलाह देते हैं। किशोरों को रोजाना एक घंटे शारीरिक कसरत से जुड़े काम करने की सलाह दी जाती है। आयोवा यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने अपने अध्ययन के दौरान 709 स्कूली बच्चों की टीवी देखने और वीडियो गेम्स खेलने संबंधी आदतों का विश्लेषण किया। इस दौरान कसरत और टीवी देखने संबंधी सुझावों पर अमल करने वाले और नहीं करने वाले बच्चों के वजन की जांच की गई। बच्चों की शारीरिक गतिविधियों को जांचने के लिए उन्हें पेडोमीटर नामक उपकरण पहनाया गया। लड़कों द्वारा दिन में चले गए 13 हजार और लड़कियों द्वारा 11 हजार कदम को जरूरी कसरत के बराबर माना गया। प्रमुख शोधकर्ता डा. केली लार्सन के मुताबिक किशोरावस्था में कसरत और टीवी के सामने सीमित वक्त गुजार कर काफी हद तक ओवरवेट होने की समस्या से बचा जा सकता है।

मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ावा

नियमित रूप से 30-45 मिनट एक्‍सरसाइज करने से आपके दिमाग के स्वास्थ्य पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। यह आपके मूड को भी ठीक करता है। एक्‍सरसाइज से नई तन्त्रिका कोशिकाओं का निर्माण होता है जिससे अल्जाइमर और पार्किंसंस जैसी बीमारियां दूर रहती हैं। एक्‍सरसाइज से जीवन के उत्तरार्ध में विकसित होने वाले पागलपन जैसे लक्षणों से भी बचा जा सकता है। इसके अलावा एक्‍सरसाइज से शांति के अहसास से लगातार आने वाली चिंतायें दूर होती हैं और आत्मविश्वास के बढ़ने से दिमाग से परेशानियां दूर होती हैं।

दिल को स्‍वस्‍थ रखें

दिल को स्‍वस्‍थ रखने और मजबूत बनाने के लिए नियमित रूप से व्‍यायाम बहुत जरूरी है। शारीरिक परिश्रम की कमी दिल की बीमारियों की सबसे बड़ी वजह मानी जाती है। विशेषज्ञ भी दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए नियमित रूप से व्‍यायाम पर जोर देते हैं। नियमित व्यायाम करने वालों का दिल मजबूत होता है साथ ही दिल के मरीजों को व्‍यायाम करने से राहत भी मिलती है। तो क्‍यों न दिल को मजबूत बनाने के लिए रोज व्‍यायाम करें। अमेरिकन हार्ट इंस्टीट्यूट के अनुसार प्रत्येक व्यक्ति को हर दिन कम से कम 30 मिनट एक्‍सरसाइज करना चाहिए। नियमित एक्‍सरसाइज करने वालों में हृदय रोगों की आशंका अन्यों की अपेक्षा लगभग 45 प्रतिशत तक कम हो जाती है।

 

exercise in hindi

अधिक ऊर्जावान बनाता है

एक्‍सरसाइज के समय सांस के द्वारा अधिक मात्रा में हवा शरीर में प्रवेश करती है और दिल तेजी से धड़कता है। ऑक्सीजन की अधिक मात्रा फेफड़ों से खून के जरिए शरीर के दूसरे भागों में पहुंचती है। वहीं सांस बाहर छोड़ते समय कार्बनडाईऑक्साइड शरीर से बाहर निकलती है और ऑक्सीजन रहित रक्त दिल से होते हुए फेफड़ों में पहुंचता है। मांसपेशियां ऑक्सीजन का इस्तेमाल अधिक ऊर्जा के निर्माण के लिए करती हैं। इसलिए एक्‍सरसाइज आपको ऊर्जावान बनाए रखती है।

डायबिटीज का खतरा कम करें

एक्‍सरसाइज से वजन ही नहीं कम होता बल्कि मोटे लोगों में उम्र के साथ होने वाले डायबिटीज के खतरों को भी कम किया जा सकता है। नियमित एक्‍सरसाइज से ब्लड  की मात्रा नियन्त्रित रहती है और डायबिटीज का खतरा कम होता है। इसके अलावा अध्ययन बताते है की नियमित एक्सरसाइज करने से हमारा मेटाबॉलिज्म अच्छा रहता है जो कि डायबिटीज के जोखिम को भी कम करता है। इसलिए डायबिटीज से ग्रस्त लोगों को नियमित रूप से एक्‍सरसाइज करने की सलाह दी जाती है।


Image Courtesy : Getty Images

Read More Article on Sports and Fitness in hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES4 Votes 16694 Views 2 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • romila22 Feb 2013

    vry nice informative article...

  • Reeta09 Nov 2012

    very good information..can you give us more information about this topic..

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर