महिलाओं में प्रजनन क्षमता बढ़ाने वाले आहार

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 06, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • धूम्रपान और एल्कोहल प्रजनन क्षमता पर डालते हैं नकारात्मक प्रभाव।
  • हरी पत्तेदार सब्जियां खासकर पालक प्रजनन अंगों को स्वस्थ रखते हैं।
  • साबुत अनाज, ब्राउन राइस, गेहूं की ब्रेड, बींस और फ्लैक्स सीड हैं जरूरी।
  • गर्भवती होने के लिए बादाम, अखरोट और अप्रीकॉट खाना लाभदायक है।

क्या आपको फर्टिलिटी आहार के बारे में पता है, जिससे आप जल्दी ही प्रेगनेंट हो सकती हैं? अगर नहीं, तो हम आपको बता रहे है कुछ ऐसे ही फर्टिलिटी फूड जिन्हें अपने डाइट में शामिल करके आप भी आसानी से गर्भवती हो सकती है। आइए जानें उन आहार के बारे में जो महिलाओं में प्रजनन क्षमता को बढ़ाते हैं।

healthy food in hindi

गर्भाधारण में भोजन की अहम भूमिका होती है, जिसकी ओर अधिकतर महिलाएं ध्यान नहीं देतीं। लेकिन, इसकी महत्ता को नकारा नहीं जा सकता और भोजन के प्रति  की गयी लापरवाही गर्भाधारण के मद्देनजर काफी नुकसानदायक सबित हो सकती हैं। आमतौर पर गर्भवती महिलाओं के भोजन को लेकर खास एहतियात बरती जाती है। उन्हें ऐसा भोजन ही करने को दिया जाता है जिससे उनके स्वास्‍थ्‍य पर बुरा असर न पड़े। लेकिन, कुछ महिलाएं किन्हीं कारणों से गर्भधारण नहीं कर पाती हैं। इसके पीछे कई कारणों के अलावा खराब जीवनशैली भी एक कारण होता है।

 

एल्कोहल और धूम्रपान से करें तौबा

डॉक्टर भी मानते हैं कि धूम्रपान और एल्कोहल का गर्भधारण की क्षमता पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। चिकित्सक सलाह देते हैं कि अगर आप गर्भधारण करना चाहती हैं तो बेहतर रहेगा कि आप इन सब चीजों से दूर रहें। अन्यथा आपको गर्भधारण में समस्या आ सकती है।

 

हरी पत्तेदार सब्जियां

हरी पत्तेदार सब्जियां खासकर पालक प्रजनन अंगों को स्वस्थ रखते हैं। इसमें मौजूद आयरन, फोलिक एसिड व एंटीऑक्सीडेंट्स काफी मददगार साबित होते हैं। पालक में मिलने वाला फोलिक एसिड ना सिर्फ प्रेंगनेंट होने में मदद करता है बल्कि नवजात में होने वाली समस्याओं से भी बचाता है।

green vegetable in hindi

पीली व नारंगी सब्जियां

महिलाओं को अपने खाने में नारंगी व पीले रंग की सब्जियों को शामिल करना चाहिए। यह सब्जियां एंटी ऑक्सीडेंट व बीटा केरोटीन का अच्छा स्रोत होते हैं। बीटा केरोटीन महिलाओं में हार्मोन्स के असंतुलन को कम करता है जिससे आपको कंसीव करने में मदद मिलती है। इसके अलवा गर्भपात की संभावना भी कम हो जाती है।


रेशा युक्त आहार लें

महिलाओं को अपने आहार में साबुत अनाज, ब्राउन राइस, गेहूं की ब्रेड, बींस और फ्लैक्स सीड शामिल करें। यह रेशे वाले आहार हैं जो पचने में आसान होते हैं। अगर पाचन क्रिया सही रहेगी तो शरीर में कोई भी विषैला तत्व नहीं रहेगा।


ज्यादा पानी पीएं

स्वस्थ्य रहने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए यह तो सभी जानते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं ज्यादा पानी पीने से कंसीव करने भी मदद मिलती है। ज्यादा पानी पीने से प्रजनन अंग ठीक से कार्य करते हैं और उन्हें प्रकृतिक तरल पदार्थ जिससे स्पर्म सर्विक्स तक आसानी से पहुंचते हैं।

 

गाजर खाएं

महिलाओं को गर्भवती होने के लिए जरूरी है कि उनके मासिक धर्म नियमित हो। इसके लिए गाजर, मटर, स्वीकट पटैटो (गंजी) आदि का सेवन करें इससे मासिक धर्म नियमित रहेगा और आप जल्दा कंसीव कर पाएंगी।

vitamin c in hindi

विटामिन सी लें

विटामिन सी वाले आहार, जैसे- संतरा, स्ट्रॉबेरी, ब्लूबेरी व किवी फ्रूट का नियमित सेवन करने से महिलाओं को कंसीव करने में मदद मिलती है।

 

डेयरी प्रोडक्ट लें

डेयरी प्रोडक्ट महिलाओं में प्रजनन क्षमता को बढ़ाते हैं। इसलिए महिलाओं को दूध, दही खाना चाहिए इसके अलावा मछली में मिलने वाला एमीनो असिड भी फर्टिलिटी बढ़ाता है। इसलिए आप इसे भी अपने खाने में शामिल कर सकती हैं।

 

बादाम खाएं

गर्भवती होने के लिए महिलाएं बादाम, अखरोट और अप्रीकॉट भी खा सकती हैं। इसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है, जो कि शरीर के लिए काफी जरूरी है।

 

ताजे और ऑरगेनिक फल

अगर आपको प्रेगनेंट होना है, तो अपनी डाइट में ताजे और ऑरगेनिक फल शामिल करें। ऐसे फल जो पैक या प्रिजर्व करने रखे रहते हैं, उनमें केमिकल मिला होता है। इसलिये ऐसे फल से जितना हो सके बचें।


रोचेस्टर मेडिकल सेंटर विश्वविद्यालय, न्यूर्याक के अनुसार-

अगर आप गर्भवती होना चाहती है तो विटामिन सी वाले आहार, जैसे संतरा, स्ट्रॉबेरी, ब्लूबेरी व किवी फ्रूट का नियमित सेवन करें। इनका सेवन करने से महिलाओं को कंसीव करने में मदद मिलती है। गर्भवती होने के लिए महिलाएं बादाम, अखरोट और अप्रीकॉट भी खा सकती हैं। इसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है, जो गर्भवती होने की इच्छा रखने वाली महिलाओं के लिए बहुत जरूरी है।

 

Image Source : Getty

Read More Articles On Womens Health in Hindi 

Write a Review
Is it Helpful Article?YES54 Votes 56503 Views 3 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Priyanka Srivastava25 Aug 2012

    I have got good in info from here

  • leena24 Aug 2012

    good info

  • preeti24 Aug 2012

    nice tips

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर