महिलाओं को ऐसे मिलेगा संपूर्ण पोषण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 23, 2012
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • हरी सब्जियां में विटामिन सी, के और फोलिक एसिड होता है।
  • साबुत अनाज में सबसे अधिक रेशा होता है।
  • अंकुरित अनाज हड्डियों को मजबूती बनाते हैं। 
  • नट्स में प्रोटीन, मैग्नीशियम, विटामिन बी और ई होते हैं।

घर के हर सदस्य की देखभाल करते-करते एक महिला अपना ध्यान नहीं रख पाती और घर को स्वस्थ रखने में खुद कब अस्वस्थ हो जाती है ये खुद उसको भी मालुम नहीं होता। महिलाओं का स्वास्थ्य एक बार में नहीं बल्कि धीरे-धीरे खराब होता है। जब वो घर-परिवार की देखभाल के चक्कर में खुद की सेहत की अनदेखी कर जाती है। परिणाम..? गंभीर बीमारियों को बुलावा। लेकिन इन बीमारियों से बचा जा  सकता है। इसके लिए जरूरी है कि अपने खाने में संपूर्ण पोषक-तत्वों को शामिल किया जाए। यहां है  उन पांच चीजों की लिस्ट जिन्हें महिलाओं को अपने भोजन में अवश्य शामिल करना चाहिए। इससे उनका आहार सम्पूर्ण होता है।

Healthy diet for woman

पत्तेदार सब्जियां
खाने में पालक, मैथी, बथुआ, चुकंदर और उसके पत्ते, ब्रोकोली को शामिल करें। इनमें प्रचुर मात्रा में विटामिन सी, के और फोलिक एसिड होता है। इनसे शरीर को कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन और पोटेशियम जैसे खनिज भी मिलते हैं।

साबुत अनाज
कुछ नहीं करना है केवल रोज एक कटोरी अंकुरित चने या साबुत अनाज खाना है। इनमें अन्य भोज्य पदार्थो की तुलना में 96 प्रतिशत अधिक रेशा होता है। प्रतिदिन अंकुरित अनाज लेने से शरीर के लिए आवश्यक प्रोटीन और विटामिन की जरूरत पूरी होती है। साथ ही हड्डियों को मजबूती प्रदान होती है।


नट्स
बादाम, काजू, अखरोट और मूंगफली खूब खाएं। इनमें प्रोटीन के साथ मैग्नीशियम, विटामिन बी और ई भरपूर होते हैं। दिल के रोग और कैंसर से लड़ने के लिए यह आवश्यक हैं। भले ही इनमें काफी मात्रा में वसा होता है। लेकिन यह शरीर के लिए लाभदायक होते हैं।


दही
विटामिन सी से भरपूर दही हर आहार का सबस् जरूरी हिस्सा है जो अनजाने में छूट जाता है। प्रोटीन, विटामिन, फाइबर व अन्य न्यूट्रेंट्स किसी न किसी खाद्य पदार्थ से महिलाओं को मिल जाते हैं लेकिन विटामिन सी एक ऐसी चीज है जो हर किसी भोज्य पदार्थ में नहीं होती। विटामिन सी दही में प्रचुर मात्रा में पाई जाती है। साथ ही कम वसायुक्त दही विटामिन, प्रोटीन और कैल्शियम का स्रोत है। इसमें लाभदायक बैक्टीरिया होते हैं जो कई बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं। हफ्ते में कम से कम चार कप दही अवश्य लें।

फल
फल के बारे में तो कुछ बताने की जरूरत नहीं है कि ये कितने विटमिन्स औऱ न्यूट्रेंट्स से भरपूर हैं। सेहत के लिए प्रतिदिन कम से कम एक मौसमी फल बेहद जरूरी है। फलों में एंटीऑक्सीडेंट होने के साथ प्रचुर मात्रा में रेशे होते हैं।

 

Image Source @ Getty

Read More Articles on Complete nutritions in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES17 Votes 17734 Views 6 Comments
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर