महिलाओं को ऐसे मिलेगा संपूर्ण पोषण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 23, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • हरी सब्जियां में विटामिन सी, के और फोलिक एसिड होता है।
  • साबुत अनाज में सबसे अधिक रेशा होता है।
  • अंकुरित अनाज हड्डियों को मजबूती बनाते हैं। 
  • नट्स में प्रोटीन, मैग्नीशियम, विटामिन बी और ई होते हैं।

घर के हर सदस्य की देखभाल करते-करते एक महिला अपना ध्यान नहीं रख पाती और घर को स्वस्थ रखने में खुद कब अस्वस्थ हो जाती है ये खुद उसको भी मालुम नहीं होता। महिलाओं का स्वास्थ्य एक बार में नहीं बल्कि धीरे-धीरे खराब होता है। जब वो घर-परिवार की देखभाल के चक्कर में खुद की सेहत की अनदेखी कर जाती है। परिणाम..? गंभीर बीमारियों को बुलावा। लेकिन इन बीमारियों से बचा जा  सकता है। इसके लिए जरूरी है कि अपने खाने में संपूर्ण पोषक-तत्वों को शामिल किया जाए। यहां है  उन पांच चीजों की लिस्ट जिन्हें महिलाओं को अपने भोजन में अवश्य शामिल करना चाहिए। इससे उनका आहार सम्पूर्ण होता है।

Healthy diet for woman

पत्तेदार सब्जियां
खाने में पालक, मैथी, बथुआ, चुकंदर और उसके पत्ते, ब्रोकोली को शामिल करें। इनमें प्रचुर मात्रा में विटामिन सी, के और फोलिक एसिड होता है। इनसे शरीर को कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन और पोटेशियम जैसे खनिज भी मिलते हैं।

साबुत अनाज
कुछ नहीं करना है केवल रोज एक कटोरी अंकुरित चने या साबुत अनाज खाना है। इनमें अन्य भोज्य पदार्थो की तुलना में 96 प्रतिशत अधिक रेशा होता है। प्रतिदिन अंकुरित अनाज लेने से शरीर के लिए आवश्यक प्रोटीन और विटामिन की जरूरत पूरी होती है। साथ ही हड्डियों को मजबूती प्रदान होती है।


नट्स
बादाम, काजू, अखरोट और मूंगफली खूब खाएं। इनमें प्रोटीन के साथ मैग्नीशियम, विटामिन बी और ई भरपूर होते हैं। दिल के रोग और कैंसर से लड़ने के लिए यह आवश्यक हैं। भले ही इनमें काफी मात्रा में वसा होता है। लेकिन यह शरीर के लिए लाभदायक होते हैं।


दही
विटामिन सी से भरपूर दही हर आहार का सबस् जरूरी हिस्सा है जो अनजाने में छूट जाता है। प्रोटीन, विटामिन, फाइबर व अन्य न्यूट्रेंट्स किसी न किसी खाद्य पदार्थ से महिलाओं को मिल जाते हैं लेकिन विटामिन सी एक ऐसी चीज है जो हर किसी भोज्य पदार्थ में नहीं होती। विटामिन सी दही में प्रचुर मात्रा में पाई जाती है। साथ ही कम वसायुक्त दही विटामिन, प्रोटीन और कैल्शियम का स्रोत है। इसमें लाभदायक बैक्टीरिया होते हैं जो कई बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं। हफ्ते में कम से कम चार कप दही अवश्य लें।

फल
फल के बारे में तो कुछ बताने की जरूरत नहीं है कि ये कितने विटमिन्स औऱ न्यूट्रेंट्स से भरपूर हैं। सेहत के लिए प्रतिदिन कम से कम एक मौसमी फल बेहद जरूरी है। फलों में एंटीऑक्सीडेंट होने के साथ प्रचुर मात्रा में रेशे होते हैं।

 

Image Source @ Getty

Read More Articles on Complete nutritions in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES17 Votes 17379 Views 6 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • kunal29 Oct 2012

    this site is very good in health i think this site is very

  • madhu04 Oct 2012

    i like this way giving information.

  • rahul06 Sep 2012

    isme sir kya kerge khao aur khate jao sir ko bhool jaoo

  • anubhav06 Sep 2012

    All these tips are extremely helpful, and i plan to try them. Thank you so much. I really appreciate

  • pankaj09 Apr 2012

    Toh jee bhar ke khao koi madad kya kare. tumhari to esh hai bhiya. tumhare liye song. khao khao khate he jao, tumhare liye to khana he hai zindagi.

  • Amit31 Mar 2012

    sir mai dubla bahut hu aap mere madat kriye plz

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर