सर्काडियन रिदम से जानें सबकुछ समय पर है या नहीं

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 20, 2017
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • सर्काडियन रिदम शरीर के अंदर की घड़ी है।
  • शरीर के अंग समय के साथ कार्य करते हैं।
  • इसलिए समय के मोल को समझें और हेल्दी रहें।

दीवाल की घड़ी की सुइयों की बात करें तो आप शायद पूरे दिन के चौबीस घंटे के बारे में सोचेंगे। लेकिन क्या आप जानते हैं बाहरी वातावरण की तरह आपके शरीर के अंदर यानी आपके दिमाग में भी चौबीस घंटों का चक्र निरंतर गति से चलता रहता है। यह आपके उठने से लेकर सोने तक हर वक्त में प्रभावी रहता है। इस लेख में हम आपको सर्काडियन रिदम के बारे में बता रहे हैं साथ ही यही भी बतायेंगे किस तरह से यह आपके सेहत को प्रभावित करता है।

 

क्या है सर्काडियन रिदम

क्या आपने कभी एहसास किया है कि आपको हर रोज एक ही समय पर एक जैसा अनुभव होता है। यानी आपको हर रोज एक ही समय पर आलस और ऊर्जावान होने का एहसास होता है और यह नियमित रहता है। यह आपके शरीर के अंदर की क्रिया है जिसे सर्काडियन रिदम कहते हैं। यह आपके शरीर के अंदर की 24 घंटे की घड़ी है जो सीधे दिमाग से संबंधित है। इसे स्ल पी और वेक साइकिल के नाम से भी जानते हैं।

इसे भी पढ़ें- 6 और 8 घंटे की नींद के अंतर के शरीर पर पड़ने वाले प्रभावों को जानें!

एलीमिनेशन (elimination) साइकिल

यह सबसे महत्व पूर्ण साइकिल माना जाता है, क्योंकि इस दौरान इंसान का शरीर सबसे अधिक एक्टिव रहता है और कुछ भी खाने पर वह आसानी से और जल्दी से पच जाता है। सुबह 4 बजे से लेकर दोपहर 12 बजे तक इस साइकिल की अवधि होती है। इस दौरान शरीर तेजी से शरीर के विषाक्त पदार्थों को भी निकालता है। यह खाने का सबसे अच्छा वक्त है।


एप्रोप्रिएशन (appropriation) साइकिल

दोपहर 12 बजे के बाद और शाम को 8 बजे तक इस साइकिल का समय होता है। इस समय हमारा शरीर मेटाबॉलिज्म और पाचन क्रिया पर अधिक ध्यान केंद्रित रखता है। इसलिए इस दौरान खानपान में थोड़ा सावधानी बरतना चाहिए और भूख लगे तभी खायें, जबरदस्ती खाने से परहेज करें।

इसे भी पढ़ें- गंदा तकिया आपकी खूबसूरती पर ऐसे लगाता है फुल स्टॉप!

एसिमिलेशन (assimilation) साइकिल

यह साइकिल शाम 8 बजे से शुरू होकर भोर 4 बजे तक समाप्त होता है। एसिमिलेशन सा‍इकिल में शरीर आरामदायक मुद्रा में होता है यानी इस वक्त शरीर के अंदरूनी हिस्से को आराम की जरूरत होती है। इसलिए इस वक्त खानपान से परहेज करें। शाम 8 बजे से पहले ही डिनर कर लें।

 

यह भी जानें

सुबह 3 बजे से 5 बजे तक आपको सबसे अधिक नींद आती है। यह आपकी नींद का सबसे जरूरी हिस्सा है। सुबह 5 बजे से 7 बजे के दौरान बड़ी आंत शरीर की सफाई का काम करती है और इस दौरान शरीर के विषाक्त पदार्थ अधिक बाहर निकलते है। सुबह 7 से 9 बजे के बीच का वक्त पेट के लिहाज से अच्छा होता है और इस दौरान व्यायाम करना बेहतर है। 9 बजे से 11 बजे के बीच दिल का अधिक ध्यान रखें और इस दौरान पौष्टिक आहार लें।


यह साइकिल इस बात की तरफ संकेत करता है आसपास के वातावरण और शरीर के अंदर के साइकिल में समानता होती है, इसलिए समय के साथ चलें और वक्त पर सारे काम करें।

 

Read more articles on Healthy living in Hindi.

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES988 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर