ग्‍लूट एक्‍सरसाइज के फायदे

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 05, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

 

  • हफ्ते में एक बार ही ग्‍लूट एक्‍सरसाइज करने से मिलता है फायदा।
  • शरीर को संतुलित करती है ग्‍लूट एक्‍सरसाइज।
  • ग्‍लूट एक्‍सरसाइज आपको कई बीमारियों से बचाती है।
  • ग्‍लूटस एक्‍सरसाइज भी आपका बीमारियों से बचाव करती हैं।

हर मर्द की ख्वाहिश होती है उसके खूबसूरत डोले, चौड़ी छाती, मजबूत बदन और आकर्षक कूल्‍हे हो। शायद ही आप इससे मना कर पाये। लेकिन इसके लिए आपको जरूरत होती है नियमित व्‍यायाम की। व्‍यायाम करते समय कई बातों का ध्‍यान रखना पड़ता है। मसलन जिस एक्‍सरसाइज को आप कर रहे हैं वह सही तरीके से हो रही है या नहीं। गलत तरीके से किया गया व्‍यायाम हानिकारक भी हो सकता है।



कोई भी एक्‍सरसाइज शरीर के अन्‍य अंगों के साथ ही किसी खास अंग पर भी असर डालती है। जैसे आप सीने के लिये व्‍यायाम कर रहे हैं या बायसेप्‍स के लिये या फिर कूल्‍हों के लिये। शरीर के हर पार्ट के लिए अलग व्‍यायाम है और ये आपके लिए लाभकारी साबित होते हैं। आगे इस लेख में हम बात करते हैं ग्‍लूट एक्‍सरसाइज यानी कूल्‍हों के व्‍यायाम के फायदों के बारे में।

 

आकर्षक बदन

ग्‍लूट एक्‍सरसाइज नियमित करने से आपके कूल्‍हों की शेप में बदलाव आता है और इसका असर आपके बदन की खूबसूरती पर पड़ता है। शरीर के खूबसूरत दिखाई देने में कूल्‍हें अहम होते हैं। ज्‍यादा भारी कूल्‍हे भी भद्दे लगते हैं, यदि आप ग्‍लूटस एक्‍सरजाइज को नियमित भी नहीं कर पाते हैं तो हफ्ते में एक बार करने की कोशिश करें।

 



मजबूत शरीर

मजबूत शरीर के लिए कूल्‍हों की मांसपेशियों का चुस्‍त होना बहुत जरूरी है। कूल्‍हों का आकार और मजबूती इनकी तीन मशल्‍स पर निर्भर करता है। यदि आप अपनी दिनचर्या में ग्‍लूटस एक्‍सरसाइज को शामिल कर लेंगे तो इससे आपके शरीर को मजबूती मिलेगी। फिटनेस विशेषज्ञों के मुताबिक मजबूत कूल्‍हे आपको ज्‍यादा वजन उठाने में भी मदद करते हैं।

 

कमर दर्द में आराम

ग्‍लूटस एक्‍सरसाइज कई बार किशोरावस्‍था या फिर ज्‍यादा उम्र में होने वाले कमर दर्द से आपको निजात दिलाती हैं। इन्‍हें करने से न केवल आपके कूल्‍हों की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है बल्कि आपकी कमर की नसें भी मजबूत होती हैं।



शरीर के संतुलन में मदद

कूल्‍हों की मजबूत मांसपेशियां शरीर का संतुलन बनाने में बहुत अहम होती हैं। यदि आपके ग्लूट्स में कमजोरी आ जाती है तो कुछ गंभीर समस्याएं भी हो सकती है। इनमें शरीर का झुकाव, एकाइलेस टेनडिनाइटिस, घुटने की तकलीफ, एड़ी और पिंडली में दर्द आदि हैं। यानी ग्‍लूटस एक्‍सरसाइज आपको भविष्‍य की आशंकाओं से बचाती हैं। धावकों के लिए ग्‍लूटस बेहद जरूरी होती है, इससे उनके शारीरिक केंद्रक, कूल्हे और कमर को मजबूती मिलती है।

जांघों की मजबूती

ग्‍लूटस एक्‍सरसाइज आपकी जांघों को भी मजबूत बनाती हैं। यदि आपकी जांघें मजबूत हैं तो आपका बदन देखने में आकर्षक लगता है। कूल्‍हों का व्‍यायाम करने से आपके बटक के आकार में परिवर्तन होगा और जांघें मजबूत होंगी।

 

बीमारी से बचाव

आप किसी भी प्रकार का व्‍यायाम करें, उसका सबसे ज्‍यादा फायदा यहीं होता है कि ये आपका बी‍मारियों से बचाव करता है। ग्‍लूटस एक्‍सरसाइज भी आपका बीमारियों से बचाव करती हैं।

चुस्‍त बनाए

सुबह के वक्‍त की गई एक्‍सरसाइज आप दिनभर चुस्‍त बने रहते हैं। अब यह व्‍यायाम कूल्‍हों से संबंधित हो या शरीर के अन्‍य किसी अंग से आप चुस्‍त तो रहते ही हैं और तंदुरुस्‍त भी।

यदि आपका काम लंबे समय तक बैठे रहने वाला हैं तो ग्‍लूटस एक्‍सरसाइज को अपनी दिनचर्या में जरूर शामिल करें। अगर आप इसे नियमित नहीं कर पाते तो हफ्ते में कम से कम एक बार जरूर करें।

 

Image Source - Getty

Read More Articles On Fitness In Hindi

 

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES18 Votes 4451 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर