चाकलेट के फायदे

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 13, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

woman eating chocolateचाकलेट पसंद करने वालों की पूरी दुनिया में कमी नहीं। चाकलेट हर उम्र के लोगों की पहली पसंद होंती है। चाकलेट ने पूरी तरह से हमारे खाने, रहने और रोमांस के तरीकों को बदल दिया है। चाकलेट की, दुनिया खुशियों से भरी होती है, जिससे हमारे पैलेट अच्छा महसूस करते हैं और हमारे मन के साथ साथ हमारी आत्मा भी अच्छा महसूस करती है। दुनिया के अस्सी फिसदी से भी ज्यादा लोग चाकलेट को पसंद करते होंगे।

 

चाकलेट के तथ्‍य-

 

  • बहुत से विशेषज्ञों ने ऐसा माना है कि चाकलेट स्वास्थ्य की दृष्टि से अच्छे नहीं हैं और अधिक चाकलेट खाने से दांत खराब होते हैं।
  • कुछ चिकित्सा विशेषज्ञों का ऐसा मानना है कि चाकलेट में शुगर होती है, जिससे कि शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ती है और रक्त में शुगर की मात्रा।
  • वास्तविकता यह है कि चाकलेट से आपके जोड़ों में परेशानी नहीं होती बल्कि वज़न के बढ़ने से जोड़ों में दर्द होता है। लेकिन ऐसा भी हो सकता है कि चाकलेट में मौजूद घटक से शरीर में सूजन आ जाये।
  • वास्तव में चाकलेट में चाय, काफी या कोका कोला से कम मात्रा में कैफीन पायी जाती है। विशेषज्ञ ऐसी सलाह देते हैं कि एक आउन्स चाकलेट के टुकड़े में 6 मिलीग्राम कैफीन होती है और प्रतिदिन 5 आउन्स कप काफी जिसे हम प्रतिदिन लेते हैं उसमें 40 मिलीग्राम काफी होती है।
  • चाकअल्कोहलिक्स के लिए यह समारोह में एकजुट होने का विषय है और एक अच्छी खबर है कि डार्क चाकलेट में किसी भी तरीके के आहार से ज़्यादा एण्टीआक्सिडेंट्स की मात्रा होती है।

 

डार्क चाकलेट के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ-

 

  • विशेषज्ञों का ऐसा मानना है कि डार्क चाकलेट लेने से हृदय सम्बन्धी परेशानियों का खतरा भी कम रहता है। चाकलेट एक एण्टी इन्फ्लेमेटरी एजेन्ट की तरह काम करता है और हृदय की बीमा‍रियों का जोखिम कम करता है।
  • शोधों से ऐसा भी पता चला है कि चार्क चाकलेट से ब्लड प्रेशर कम होता है।
  • डार्क चाकलेट में कोकोआ की 65 प्रतिशत मात्रा होती है और इससे रक्त वाहीनियां फैल जाती हैं और रक्त का प्रवाह ठीक प्रकार से होता है।
  • डार्क चाकलेट में एण्टीमाइक्रोबियल और एण्टीआक्सिडेंट गुण होने के कारण कालेस्ट्राल और ब्लड प्रेशर का स्तर भी ठीक रहता है। एण्टी आक्सिडेंट से एण्टीएजिंग क्रीया भी ठीक प्रकार से होती है।

 

विशेषज्ञ ऐसी सलाह देते हैं कि प्रतिदिन डार्क चाकलेट लेने से ब्लड प्रेशर घटता है और हृदय से सम्बन्धी बीमारियों का खतरा 21 प्रतिशत तक कम होता है।

 

चाकलेट के लाभ-

 

फील गुड फैक्टर: चाकलेट डीप्रेशन जैसी बीमारी में दवाओं की तरह काम करते हैं। शोधकर्ता ऐसी सलाह देते हैं कि चाकलेट खाने के बहुत से फायदे हैं। फेनाइलइथाइलअमीन पी इ ए जो कि चाकलेट में मौजूद होते हैं उनसे शरीर में कुछ प्राकृतिक रासायन बनते हैं जिनसे एण्डार्फिन दिमाग तक पहुंचता है और आप अच्छा महसूस करते हैं।


टेस्टी चाकलेटी सुझाव: बच्चे हमेशा ही चाकलेट पसन्द करते हैं। हमारे जीवन में चाकलेट हर अवसर के लिए हो सकती है लेकिन डार्क चाकलेट से बहुत से स्वास्थ लाभ मिलते हैं लेकिन इन्हें बहुत अधिक मात्रा में नहीं खाना चाहिए। चाकलेट खाने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप अच्छी क्वालिटी का चाकलेट खायें जिसमें कि 70 प्रतिशत कोकोआ हो।


सफेद चाकलेट- डार्क चाकलेट को एक स्वस्थ आहार माना जाता है लेकिन यह बात सफेद चाकलेट के लिए ठीक नहीं है। हमें इस सच की जानकारी होनी चाहिए कि सिर्फ कच्चा कोकोआ और डार्क चाकलेट से ही स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं और सफेद चाकलेट का कोई भी स्वास्थ्य लाभ नहीं होता।

बादाम और दूसरे नट ना लें: बादाम और दूसरी फीलींग सिर्फ आपके आहार में शुगर और वसा की मात्रा बढ़ायेगी और चाकलेट के बहुत से फायदे कम कर देंगी। ऐसी सलाह दी जाती है कि व्यक्ति को डार्क चाकलेट लेनी चाहिए या संतरे और दूसरी फिलिंग के साथ चाकलेट लेना चाहिए। शुगर युक्त चाकलेट कैंडी और सीरप लेने से आपके शरीर में स्वास्थ्य का खतरा रहता है।


अब आप चाकलेट का खुलकर और जीभर कर मज़ा ले सकते हैं।

Write a Review
Is it Helpful Article?YES15 Votes 15050 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर