क्या है इंसुलिन असंतुलन? क्यों शोभा डे ने उड़ाया इसका मजाक...

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 27, 2017
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • शोभा डे ने उड़ाया मोटे पुलिसवाले का मजाक।
  • ट्विटर पर लोगों ने उड़ा दिया उनका मजाक।
  • ये मोटा पुलिसवाला इंसुलिन इमबैलेंस से है ग्रस्त।

कुछ दिनों से सोशल साइट पर एक मोटे से पुलिस वाले की तस्वीर काफी चर्चा में शामिल रही है। इसे चर्चा में मशहूर लेखिका शोभा डे ने लाया। शोभा ने इस पुलिस वाले को मजाक उड़ाते हुए एक ट्वीट शेयर किया था जिसके बाद शोभा का ही मजाक खूब उड़ने लगा। साथ ही इंसुलिन इमबैलेंस की काफी चर्चा होने लगी। आज इस लेख में हम इसी इंसुलिन इमबैलेंस के बारे में पढ़ेंगे जिससे सबकी सुरक्षा करने वाला इंसपेक्टर भी अपनी रक्षा नहीं कर पाया और आज इस बीमारी से पीड़ित है।

 

ये है मामला

पिछले दिनों शोभा डे ने ट्विटर पर एक मोटे पुलिस वाले की तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा था कि, आज मुंबई में काफी भारी पुलिस बंदोबस्त है। इस पर मुंबई पुलिस ने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा कि, मिस डे हमें मजाक पसंद है, लेकिन इस बार बिल्कुल अच्छा नहीं है। यह यूनिफॉर्म और यह पुलिसवाला हमारा नहीं है।
इसके बाद ट्विटर पर शोभा डे का खूब मजाक उड़ने लगा और उस पुलिस वाले की भी लोग तलाश करने लगे। अब इस पुलिस वाले की खोज हो चुकी है। ये मध्यप्रदेश पुलिस का हिस्सा है। ये मध्य प्रदेश के नीमच जिले में पदस्थ है। इनका नाम दौलतराम जोगावत है। दौलतराम पिछले 24 साल से इंसुलिन इमबैलेंस से पीड़ित हैं।
इस मामले पर दौलतराम भावुक होकर कहते हैं कि, उनका 1993 में गाल ब्लैडर का ऑपरेशन हुआ था, जिसके बाद से वजन बढ़ने लगा। दौलतराम शोभा डे से कहते हैं, 'कोई खुशी से मोटा नहीं होता है। मैडम के पास यदि दुबले होने का कोई इलाज हो तो मेरा वजन कम करा दे।'


साथ में दौलतराम ने इस पर आपत्ति जताते हुए भी कहा कि बगैर जानकारी के किसी का मजाक उड़ाना ठीक नहीं है।

इसे भी पढ़ें- इन कारणों से मुंह में बनती है ज्यादा लार


क्या है इंसुलिन इमबैलेंस

  • इंसुलिन इमबैलेंस को इंसुलिन का असंतुलित होना कहते हैं। इंसुलिन के असंतुलित होने से मधुमेह का खतरा बढ़ जाता है।
  • सामान्य व्यक्ति के खून में शुगर की कुछ मात्रा होती है। खाली पेट खून में शुगर का स्तर 100 मिलीग्राम/लीटर होता है। अग्नाश्य से इंसुलिन हार्मोन निकलता है जो खून में शुगर की मात्रा को निंयत्रित करता है।
  • अगर शरीर में इंसुलिन की मात्रा कम हो जाता है तो शरीर खून में उपस्थित शुगर का इस्तेमाल पूर्ण रुप से नहीं कर पाता। जो कि किडनी द्वारा रक्त सोधन प्रकिया के दौरान शरीर से बाहर निकल जाती है। शुगर का शरीर से बाहर निकल जाने के कारण शरीर को जरूरी मात्रा में ऊर्जा नहीं मिलती जिससे शरीर थका हुआ रहने लगता है।
  • हमारे शरीर में इंसुलिन का उत्पादन अग्नाशय ग्रंथि के द्वारा होता है। यदि ये ग्रंथि काम करना बंद कर देती है या कुछ समस्या हो जाती है तो शरीर में इंसुलनि का स्राव होने लगता है जिससे शरीर में इंसुलिन असंतुलित (इंसुलिन इमबैलेंस) की स्थिति पैदा हो जाती है।  
  • इस स्थिति में शरीर में शुगर की मात्रा बढ़ने लगती है जिससे मधुमेह का खतता उत्पन्न हो जाता है।

 

मिल रही है दौलतराम को मदद

इस घटना के बाद दौलतराम को काफी लोगों से मदद की पेशकश आ चुकी है। इंसुलिन इमबैलेंस के कारण दौलतराम का वजन 180 किलो है और अब उनका इलाज मशहूर सर्जन डॉ. मुफज्जल लकड़ावाला करेंगे। फिलहाल लकड़ावाला दुनिया की सबसे भारी महिला इमाम का इलाज कर रहे हैं। इमाम का वजन 480 किलो से ज्यादा है।

 

Read more articles on Other disease in Hindi.

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1306 Views 0 Comment