नसों को ताकत देने के लिए रोज करें इन 4 तरह के फलों का सेवन

Fruits for Nerves Weakness in Hindi: नसों के लिए हेल्दी डाइट लेना बहुत जरूरी होता है। नसों के लिए आप कुछ फलों का सेवन कर सकते हैं। 

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Sep 08, 2022Updated at: Sep 08, 2022
नसों को ताकत देने के लिए रोज करें इन 4 तरह के फलों का सेवन

Which Fruit is Good for Nerves Weakness: स्वस्थ शरीर के लिए नसों का हेल्दी होना बहुत जरूरी होता है। जब नसों में थोड़ी सी भी दिक्कत आती है या फिर नसें कमजोर होती हैं, तो व्यक्ति को हाथ, पैरों या शरीर के अन्य हिस्सों में दर्द होने लगता है। नसों का दर्द आपकी संपूर्ण दिनचर्या को प्रभावित कर सकता है। नसें डैमेज होने पर आपको एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करना जरूरी होता है। फलों में एंटीऑक्सीडेंट्स अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। एंटीऑक्सीडेंट्स नर्व डैमेज से लड़ने और सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं। इसके साथ ही फलों में फ्लेवोनोइड्स भी होते हैं, जो न्यूरोपैथी के दर्द को शांत करने में मदद कर सकते हैं। इसलिए अपने नसों को मजबूत बनाने, नसों में ताकत लाने और ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने के लिए आप फलों का सेवन कर सकते हैं। डैमेज नसों को ठीक करने में मदद के लिए आप रोजाना कम से कम एक फल खा सकते हैं। आइए, नसों के लिए कौन सा फल सबसे अच्छा है (Fruits for Nerves Weakness in Hindi)? जानते हैं- 

नसों के लिए कौन सा फल सबसे अच्छा है?- Fruits for Nerves Weakness in Hindi

1. बैरीज- Berries

आरोग्य डाइट और न्यूट्रीशन क्लीनिक की डाइटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा बताती हैं कि नसों को ताकतवर बनाने या फिर नसों की कमजोरी दूर करने के लिए बैरीज काफी फायदेमंद हो सकते हैं। नसों के लिए आप जामुन, स्ट्रॉबेरी, रास्पबेरी और क्रैनबेरी को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इन फलों में विटामिन सी काफी अधिक मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा बैरीज में एंटीऑक्सीडेंट्स भी भरपूर होते हैं। इससे बैरी खाने से डैमेज सेल्स रिपेयर होते हैं। इनमें मौजूद औषधीय गुण तनाव और चिंता को कम करते हैं। इससे नर्वस सिस्टम से जुड़ी समस्याओं को ठीक करने में मदद मिलती है। नसें भी मजबूत और हेल्दी रहती हैं।

इसे भी पढ़ें- Chest Pain: छाती में दर्द होना कौन सी बीमारी होती है?

2. एवोकाडो- Avocado

एवोकाडो भी एक सेहतमंद फल होता है। एवोकाडो में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं। यह फल हेल्दी फैट से भरपूर होता है। साथ ही एवोकाडो में पोटेशियम भी अधिक मात्रा में होता है, जिससे नर्वस सिस्टम बेहतर तरीके से काम करता है। एवोकाडो खाने से शरीर एंटीऑक्सीडेंट्स को अच्छी तरह से अवशोषित कर लेता है। इससे नसों को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाया जा सकता है।

berries

3. खट्टे फल- Citrus Fruits

खट्टे फलों में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। खट्टे फल खाने से सूजन को कम करने में मदद मिल सकती है। साथ ही न्यूरोपैथिक दर्द को ठीक करने में भी सहायता करते हैं। खट्टे फल खाने से नसों में ब्लड सर्कुलेशन में भी सुधार हो सकतात है। साथ ही हेल्दी धमनियों को भी बढ़ावा देता है।

इसके लिए आप संतरे, अंगूर, नींबू, मौसंबी, आड़ू और चेरी जैसे खट्टे फलों को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। खट्टे फल रक्त परिसंचरण में सुधार कर सकते हैं और रक्त के थक्कों को रोक सकते हैं। खट्टे फल खाने से डैमेज नसों में सुधार हो सकता है।

इसे भी पढ़ें- ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाने के लिए सर्दियों की सुबह उठते ही करें ये 5 काम

4. अनार- Pomegranate

अनार एक रसदार और मीठा फल होता है। इसमें पॉलीफेनोल एंटीऑक्सिडेंट्स और नाइट्रेट्स अधिक मात्रा में होते हैं। नसों को मजबूत और ताकतवर बनाने के लिए भी अनार का सेवन किया जा सकता है। दरअसल, अनार खाने से रक्त प्रवाह बेहतर होता है। साथ ही मांसपेशियों के ऊतकों के ऑक्सीकरण में सुधार होता है। रोजाना अनार खाने से आपके ब्लड सर्कुलेशन में सुधार हो सकता है। इससे नसों को रिलैक्स मिलता है और नसों से जुड़ी समस्याएं दूर हो सकती हैं।

Fruits for Nerves Weakness in Hindi: नसों को ताकतवर बनाने के लिए आप बैरीज, खट्टे फलों, एवोकाडो और अनार का सेवन कर सकते हैं। रोजाना इन फलों का सेवन करके आप नसों की समस्याओं से बच सकते हैं। लेकिन ये कोई भी फल नसों से जुड़ी समस्याओं का इलाज नहीं होता है। इसलिए अगर आपको नसों में सूजन हो या कोई अन्य दिक्कत हो तो इन्हें बिल्कुल नजरअंदाज न करें। 

Disclaimer