कोविशील्ड वैक्सीन से जुड़े आपके सभी सवालों के जवाब पाएं, देखें वीडियो

कोवशील्ड वैक्सीन की डोज के बीच का गैप बदलकर 12 से 16 हफ्ते कया गया है, कोवाक्सीन का डोज पहले की तरह ही है 4 से 6 हफ्तों के गैप पर लगाई जाएगी

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 20, 2021
कोविशील्ड वैक्सीन से जुड़े आपके सभी सवालों के जवाब पाएं, देखें वीडियो

कोव‍िश‍ील्‍ड की दूसरी डोज 12 से 16 हफ्ते में लगाई जाएगी। ये अंतराल सरकार की ओर से बढ़ाया गया है। हालांक‍ि फैसला आने तक ज‍िन लोगों की दूसरी डोज पहले से बुक हो चुकी है उन्‍हें वैक्‍सीन लगाई जाएगी। फैसला आने के बाद कोव‍िन पोर्टल पर बदलाव क‍िए गए हैं। सरकार ने कोव‍िशील्‍ड की पहली और दूसरी डोज के बीच अंतराल बढ़ाने का तर्क ये द‍िया है क‍ि इससे वैक्‍सीन का प्रभाव बढ़ जाएगा। पहली डोज के लगने के एक महीने बाद बॉडी में इम्‍यून‍िटी तैयार होने लगती है। ओनलीमायहेल्‍थ (Onlymyhealth) कोव‍िड से जुड़ी स्‍पष्‍ट जानकारी आप तक पहुंचाने के ल‍िए न्यूजवर्दी (Newsworthy) के साथ मिलकर एक खास वीडियो सीरीज चला है, जिसका नाम है 'COVID 19 आपके सवालों के स्पष्ट जवाब'। इस सीरीज में हम आप तक कोव‍िड और उससे जुड़ी जानकारी को सही और आसान तरीके से बताने का प्रयास कर रहे हैं। सीरीज के इस वीड‍ियो में आज जानेंगे कोव‍िशील्‍ड वैक्‍सीन की दूसरी डोज से जुड़े कुछ और सवाल और उनके सीधे जवाब। 

covishield gap

12 से 16 हफ्तों बाद लगेगी कोव‍िशील्‍ड की दूसरी डोज 

सरकार ने 13 मई 2021 को इस बात की घोषणा करी की अब से कोव‍िश‍ील्‍ड (Covishield) की दूसरी डोज 12 से 16 हफ्ते में लगाई जाएगी। पहले ये गैप 6 से 8 हफ्ते था। वहीं कोवैक्सिन (Covaxin) की दूसरी डोज का अंतराल पहले की तरह चार से छह हफ्ते ही रहेगा। 

वैक्‍सीन की दूसरी डोज की तारीख कैसे जानें? (How to calculate date of second dose)

  • अगर आपने पहली डोज में कोव‍िशील्‍ड लगवाई है तो इसकी दूसरी डोज आपकी पहली डोज के द‍िन से 12 से 16 हफ्ते यानी 3 से 4 महीने के गैप पर लगाई जाएगी।
  • अगर आपने पहली डोज में कोवैक्सिन लगवाई है तो इसकी दूसरी डोज आपकी पहली डोज के द‍िन से 4 से 6 हफ्तों के गैप पर लगाई जाएगी। 

क्‍यों बढ़ाया गया कोव‍िशील्‍ड डोज के बीच का अंतराल? (Scientific Reason for extending gap between dose)

कोव‍िशील्‍ड की पहली और दूसरी डोज के बीच का अंतराल सरकार से बढ़ाया है ज‍िसके पीछे लोग तर्क दे रहे हैं क‍ि वैक्‍सीन खत्‍म हो गई है जबक‍ि ऐसा नहीं है। सरकार के पास इस फैसले को लेने का वैज्ञान‍िक प्रमाण है। दरअसल मेड‍िकल एक्‍सपर्ट्स ये मानते हैं अगर वैक्‍सीन की दो डोज में तीन महीने का गैप रखा जाए तो वैक्‍सीन का प्रभाव बढ़ जाता है। मेडिकल जर्नल लैंसेट की एक र‍िपोर्ट में भी बताया गया है क‍ि 6 हफ्ते के गैप पर वैक्‍सीन लगाने का प्रभाव 55 प्रत‍िशत है वहीं 12 हफ्ते का प्रभाव 81 प्रत‍िशत है। डब्‍ल्‍यूएचओ ने भी इस बात को स्‍वीकारा है क‍ि 8 से 12 हफ्ते का गैप प्रभावी है। अगर दूसरे देशों की बात करें तो स्‍पेन और कनाडा में वैक्‍सीन की दूसरी डोज 16 हफ्तों में लगाई जाती है वहीं जिस देश में कोव‍िशील्‍ड का उत्‍पादन हुआ है यानी यूके, वहां भी दो डोज के बीच 12 हफ्तों का गैप है। आसान भाषा में समझें तो गैप बढ़ाने से वैक्‍सीन और असरदार होगी। 

इसे भी पढ़ें- क्या पहली और दूसरी डोज में अलग वैक्सीन ली जा सकती हैं? जानकारी के लिए देखें ये वीडियो

गैप बढ़ाने की घोषणा से पहले ही दोनों डोज लग चुकी है तो क्‍या वो असरदार नहीं होगी?

अगर आपने वैक्‍सीन की दोनों खुराक 6 से 8 हफ्ते में ले ली है और उसके बाद सरकार ने गैप बढ़ाने का फैसला क‍िया है तो न‍िश्‍च‍िंत रहें। पहले जो वैक्‍सीन आपको लग चुकी है वो अपना काम सही ढंग से कर रही है क्‍योंक‍ि अगर डोज के बीच आपने 6 हफ्तों का गैप लिया है तो भी कोव‍िश‍ील्‍ड का प्रभाव 55 प्रत‍िशत होगा। ये भी एक अच्‍छी संख्‍या है। ये देखा गया है क‍ि कोव‍िशील्‍ड आपको चाहते चार, छह, आठ या बारह हफ्तो के गैप पर लगे वो 90 प्रति‍शत इफेक्‍ट‍िव रहती है। 

इसे भी पढ़ें- COVID 19 आपके सवालों के स्पष्ट जवाब: क्या है डबल मास्क पहनने का सही तरीका? घर पर मास्क पहनना क्यों जरूरी

गैप बढ़ाने की घोषणा से पहले दूसरी डोज बुक हो चुकी है तो क्‍या वैक्‍सीन नहीं लगेगी? (If second dose booked already)

जिन लोगों ने कोव‍िन पोर्टल या आरोग्‍य एप के जर‍िए दूसरी डोज बुक कर ली है उन्‍हें डोज लगाई जाएगी। नई घोषणा के बाद कोव‍िन पोर्टल पर जरूरी बदलाव क‍िए गए हैं। जो लोग अब दूसरी डोज के ल‍िए बुक करेंगे उन्‍हें बढ़ा हुआ गैप रखना होगा। पहले से बुक हुई डोज के पंजीकरण को कैंसल नहीं क‍िया जाएगा। तो टीकाकरण अभ‍ियान का ह‍िस्‍सा बने रहि‍ए, जल्‍द से जल्‍द वैक्‍सीन लगवा लें और सभी न‍ियमों का ध्‍यान से पालन करें। 

अगर आपको बताई गई जानकारी पसंद आई हो तो उसे शेयर करना न भूलें। हम उम्‍मीद करते हैं क‍ि हमारे इस वीड‍ियो के जर‍िए आपको आपके सवालों के जवाब म‍िल रहे होंगे। आपके मन में कोव‍िड से जुड़े कोई भी सवाल हैं तो उसे हमारे सोशल म‍ीड‍िया हैंडल- इंस्‍टाग्राम, ट्वीटर, फेसबुक या यूट्यूब वीड‍ियोज के कमेंट सेक्‍शन पर भेज दें। हम कोश‍िश करेंगे क‍ि आप सक जल्‍द से जल्‍दी उन सवालों के जवाब पहुंच पाएं।

Read more on Miscellaneous in Hindi 

Disclaimer