बाज़ार से ताजे फल और सब्जियां खरीदते समय इन बातों का जरूर रखें ध्यान, ताकि खराब न हो आपकी सेहत

अक्सर हमें लगता है चमचमाते हुए फल और सब्जियां फ्रेश होती हैं, लेकिन कई बार इनकी चमक के पीछे केमिकल का हाथ होता है। जानें फल-सब्जियां खरीदने के टिप्स।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Feb 24, 2021
बाज़ार से ताजे फल और सब्जियां खरीदते समय इन बातों का जरूर रखें ध्यान, ताकि खराब न हो आपकी सेहत

आज के दौर में मिलावट और केमिकल युक्त चीज़ों का मार्केट में होना आम हो गया है। बाज़ार में चमचमाती सब्जियां और फल देखकर हम उन्हें खरीदने का मन बना लेते हैं लेकिन उन्हें खरीदने से पहले हमें कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरुरी होता है। अक्सर कई बार ऐसा होता है कि हम बाज़ार से चमचमाते और फ्रेश दिखने वाले फल और सब्जियों को खरीदते हैं लेकिन घर लाने के बाद वह 1-2 दिन में सूख जाती हैं या सड़ने लगती है। एक्सपर्ट्स बताते हैं कि इनके पीछे का सबसे बड़ा कारण इनके रंग को बेहतर करने के लिए प्रयोग किया जाने वाला केमिकल है। इस प्रकार की सब्जियां और फल हमारे स्वास्थ्य पर भी बेहद बुरा असर करते हैं। अब सवाल यह उठता है कि हम कैसे पहचानें कि बाज़ार में बिकने वाला कौन सा फल या सब्जी (How to Buy Fresh and Organic Fruits and Vegetables) हमारे सेहत के लिए अच्छा है या किन सब्जियों और फलों में इस प्रकार के केमिकल का प्रयोग नहीं किया गया है। इसको लेकर भारत के फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया (FSSAI)ने बाकायदा एक पिंक बुक जारी की है जिसमे खरीददारी से लेकर स्टोर करने और खाने के बारे में अहम बातें बताई गई हैं। आइए इस आर्टिकल में हम जानते हैं कि बाज़ार से सब्जियां और फल खरीदते समय किन बातों को ध्यान में रखना बेहद जरुरी है।

tips for buying fresh vegetables

चमचमाती सब्जियों के पीछे का राज

वो कहते हैं न कि 'हर चमचमाती चीज़ सोना नही होती' आज के दौर में ये बात मार्केट में मौजूद फलों और सब्जियों पर सटीक बैठती है। एक्सपर्ट्स बताते हैं कि बाज़ार में मौजूद इन फलों और सब्जियों में अनेक तरह के केमिकल का प्रयोग किया जाता है। फलों और सब्जियों के रंग को अधिक आकर्षक बनाने के लिए उन्हें मैलाकाइट (Malachite) नाम के केमिकल रंग दिया जाता है और फिर ये फल और सब्जियां देखने में बेहद साफ़ और ताज़ी दिखने लगती हैं। ऐसे ही कई अन्य रासायनिक पदार्थों का प्रयोग तमाम प्रकार के फलों और सब्जियों को रंगने के लिए किया जाता है। इसी तरह से आर्टिफिशियल कलर, इरेथरोसिन (Erythrocin) के इंजेक्शन और वैक्स या मोम का प्रयोग सब्जियों और फलों को फ्रेश और आकर्षक दिखाने के लिए किया जाता है। केमिकल का प्रयोग कर चमकाई गई सब्जियों और फलों का सेवन हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद नुकसानदायक हो सकता है। इनके सेवन से कैंसर जैसी घातक बीमारी के होने का भी ख़तरा बना रहता है।

इसे भी पढ़ें: फलों और सब्जियों की सफाई को लेकर मानें FSSAI की ये जरूरी गाइडलाइन, कोरोना संक्रमण से बचाव में होंगे मददगार

fresh vegetables

सेहत के लिए सही फल और सब्जियां कैसे खरीदें? (How to Buy Fresh and Organic Fruits and Vegetables)

हमारी सेहत के लिए सही यह है कि हम बाज़ार में मिलने वाली चीजों का सही से चयन करें। बाज़ार से केमिकल रहित फ्रेश और आर्गेनिक सब्जियां और फल खरीदना एक कठिन काम होता है। फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया (FSSAI) ने इसको लेकर एक पिंक बुक जारी की है जिसमें यह बताया गया है कि बाज़ार में उपलब्ध सब्जियों और फलों को खरीदने से पहले किन बातों को ध्यान में रखना आवश्यक है।

क्या खरीदें (How to Buy Fresh Vegetables?)

  • बाज़ार से सब्जी या फल खरीदते समय ताज़ी, स्थानीय और मौसमी सब्जियां खरीदें। स्थानीय सब्जियाँ और फल ताजा और अधिकतर आर्गेनिक होते हैं।
  • सब्जियां खरीदने से पहले उनके पत्ते और रंग को ध्यान से देखकर ही लें।
  • गाजर, चुकंदर, शकरकंद खरीदते समय ध्यान रखें कि इनका साइज़ ज्यादा बड़ा न हो।
  • आलू जिसमें मिट्टी चिपकी हो वो ताज़ी होती है।
  • कटे और सूखे हुए फल और सब्जियों को खरीदने से बचें।
  • फलों या सब्जियों को खरीदने से पहले उनको दबाकर भी देखें इससे पके हुए फल या सब्जी का सही चयन कर पाएंगे।
how to buy fresh vegetables and fruits

इन्हें खरीदने से बचें

  • हरे या अंकुरित आलू विषैले हो सकते हैं इन्हें खरीदने से बचें
  • ऐसे प्याज जो अंदर से खुरदरे होते हैं या उन पर काला पाउडर हो या अंकुरित हों उन्हें न खरीदें
  • वे फल जो गूदेदार, सिकुड़े हुए और सड़ने वाले हों, उन्हें खरीदने से बचें
  • गीला फफूंदीदार या सिकुड़ा हुआ अंगूर कभी न खरीदें

इस तरह फलों और सब्जियों को खरीदते समय ये छोटी-छोटी टिप्स आपके बड़े काम आ सकती हैं और आपको सेहतमंद रखने के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण हैं।

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer