शोध में हुआ खुलासा, ईटिंग डिसऑर्डर से पीड़ित लोगों को ज्यादा होती है एक्सरसाइज करने की लत

  ईटिंग डिसऑर्डर से पीड़ित लोगों में एक्सरसाइज करने की लत इसलिए भी ज्यादा होती है क्योंकि उन्हें लगता है कि वो ज्यादा खाते हैं, ज्यादा एक्सरसाइज करें।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jan 31, 2020Updated at: Jan 31, 2020
शोध में हुआ खुलासा, ईटिंग डिसऑर्डर से पीड़ित लोगों को ज्यादा होती है एक्सरसाइज करने की लत

फिटनेस के लिए एक्सरसाइज जरूरी है पर जरूरत से ज्यादा इसका आदि होना शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। दरअसल एक शोध की मानें, तो एक्सरसाइज एडिक्शन किसी के भी स्वास्थ्य और सामाजिक जीवन पर नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है। वहीं एक्सरसाइज एडिक्शन को अब ईटिंग डिसऑर्डर से जोड़कर भी देखा जा रहा है। शोधकर्ताओं की मानें, तो ईटिंग डिसऑर्डर वाले लोगों में एक्सरसाइज एडिक्टेड होने की ज्यादा संभावना हो सकती है। 

Inside_exercisehabit

ब्रिटेन में एंग्लिया रसकिन यूनिवर्सिटी के प्रमुख लेखक माइक ट्रॉट ने इस पर शोध किया है। शोध में उन्होंने बताया है कि कैसे खाने की आदत और व्यायाम करने की आदत एक दूसरे से जुड़ी हुई है। शोधकर्ताओं का कहना है कि ईडिंग डिसऑर्डर से पीड़ित व्यक्तियों और एक्सरसाइज एडिक्टेड लोगों में इन दोनों को लेकर एक अनहेल्दी रिलेशनशिप देखा गया है। पर पहली बार इसके खतरों को शोध में इंगित किया गया है। शोध के लेखक माइक ट्रॉट का ये शोध 'ईटिंग और वेट डिसऑर्डर' नामक जर्नल में प्रकाशित हुआ है, जिसे उन्होंने ब्रिटेन में रहने वाले 25 वर्ष के कम आयु के 2140 लोगों में शोध करके लिखा है।शोध में बताया गया है कि जिन लोगों को ईटिंग डिसऑर्डर हैं, उनमें 3.7 गुणा ज्यादा एक्सरसाइज एडिक्शन के लक्षण पाए गए हैं।

इसे भी पढ़ें : क्‍या है ईटिंग डिसऑर्डर? जानें इसके कारण, लक्षण और बचाव

लेखक माइक ट्रॉट की मानें, तो हेल्दी लाइफस्टाइल को चाहना और इसके लिए एक्सरसाइज करना बेहद ही आम बात है पर किसी भी चीज के लिए जुनून पैदा कर लेना सही नहीं है। हालांकि जरूरी ये है कि आप अपने ऐसे व्यवहारों को ठीक करने की कोशिश करें अपने आप को क्रेश डाइट और किसी भी खाने की आदत का आदि होने से बचाएं। वहीं ध्यान देने वाली बात ये भी है कि किसी भी एक तरीके के खाने पर या डाइट निर्भर होना आपको बिमार कर सकता है।

Inside_exerciseaddiction

इसे भी पढ़ें : सोशल मीडिया का अधिक इस्तेमाल युवाओं में बढ़ रहा है ईटिंग डिसऑर्डर : स्टडी

शोधकर्ताओं की मानें तो इस तरह ईटिंग डिसऑर्डर और एसक्सरसाइज एडिक्शन का होना किसी भी व्यक्ति शारीरिक और मानसिक रूप से बीमार कर सकता है। मानसिक बीमारियों जैसे कि स्ट्रेस और डिप्रेशन  एसक्सरसाइज एडिक्टेड लोगों को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकती है। वहीं स्वास्थ्य विशेषज्ञों को ईटिंग डिसऑर्डर से पीड़ित लोगों में उनके एक्सरसाइज करने के पैटर्न को लेकर नजर रखनी चाहिए। वहीं अगर इन लोगों में मानसिक बीमारियों के लक्षण उनके एक्करसाइज के पैटर्न के साथ जुड़े हुए हैं, तो उन्हें इसे लेकर खास सुझाव देना चाहिए। वहीं एसक्सरसाइज एडिक्शन लक्षणों की बात करें, तो हड्डियों का फ्रैक्चर होना, शरीर में दर्द रहना और क्रार्डियोवस्कुलर डिजीज हैं।

Read more articles on Health-News in Hindi

Disclaimer