लिवर की बीमारी होने पर त्वचा पर दिख सकते हैं ये 5 संकेत, डॉक्टर से जानें बचाव के उपाय

लिवर की बीमारी होने पर ना सिर्फ आपको पेट में दर्द और मतली जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं बल्कि, त्वचा पर बढ़ता पिगमेंटेशन भी इसी का संकेत है। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariUpdated at: Aug 11, 2021 13:51 IST
लिवर की बीमारी होने पर त्वचा पर दिख सकते हैं ये 5 संकेत, डॉक्टर से जानें बचाव के उपाय

शरीर का हर अंग एक दूसरे से जुड़ा हुआ है इसलिए अगर आप शरीर अंदर से ठीक नहीं होता, बाहर से भी अच्छा नहीं दिखता। इसका बेहतरीन उदाहरण  है आपकी त्वचा। आपकी त्वचा बाहर से खूबसूरत तभी दिखती है जब वो अंदर से स्वस्थ होती है। इसलिए शरीर के किसी भी अंग से जुड़ी खराबी आपकी स्किन को भी प्रभावित करती है। आज हम बात लिवर से जुड़ी बीमारियों (liver disease) का त्वचा पर होने वाले असर की कर रहे हैं।  दरअसल,  लिवर खराब होने के संकेत आपके चेहरे पर स्पष्ट नजर आ सकते हैं। ये बात हम नहीं बल्कि डॉ. पंकज पुरी (Dr. Pankaj Puri), निदेशक गैस्ट्रोएंटरोलॉजी और हेपेटोबिलरी साइंसेज, फोर्टिस एस्कॉर्ट्स लीवर एंड डाइजेस्टिव डिजीज इंस्टीट्यूट, ओखला रोड, नई दिल्ली का भी कहना है जिनसे, हमने त्वचा पर दिखने वाले लिवर की बीमारी के संकेत (Signs Of Liver Damage)के बारे में विस्तार से बात की और इससे बचाव के उपायों के बारे में भी जाना। 

Inside2liverdiseases

त्वचा पर लिवर की बीमारी के संकेत-Skin problems related to liver disease

डॉ. पंकज पुरी (Dr. Pankaj Puri) की मानें तो, एक्यूट लिवर डिजीज (acute liver disease) हो या क्रोनिक लिवर डिजीज  (chronic liver disease), दोनों ही त्वचा को प्रभावित करते हैं। खास बात ये है कि ये हर व्यक्ति में लिवर की बीमारी की गंभीरता के अनुसार होता है। ये कभी हल्का तो कभी गंभीर हो सकता है। जैसे कि शुरुआती संकेत में उंगलियों की नाखून का समांतर न जुड़ना और अधिक स्पष्ट जैसे आंखों या त्वचा का पीलापन जैसे लक्षण नजर आ सकता है। इसके अलावा त्वचा पर इसके कुछ गंभीर सकते भी दिख सकते हैं। जैसे कि 

1. स्किन पिगमेंटेशन 

जब लिवर खराब होना भी त्वचा पर पिगमेंटेशन का कारण (hyperpigmentation and liver disease)हो सकता है। दरअसल, लिवर खराब होने पर लिवर में पोर्फिरिन (porphyrins) नामक प्रोटीन बनता है, फिर आपके खून में चला जाता है और आपकी त्वचा तक पहुंच जाता है। इससे आपकी त्वचा जगह-जगह पर काली हो सकती है या फिर त्वता पर कुछ डार्क पैचेस हो सकते हैं। 

2. खुजली और एडिमा 

लिवर खराब होने पर शरीर में विषाक्त पदार्थ बढ़ने लगता है जिससे शरीर में खुजली होने लगती है। ये खुजली हाथ पैर में ही नहीं बल्कि आपके पूरे शरीर में कहीं भी हो सकती है। इसके अलावा शरीर में सूजन भी होने लगता है।  दरअसल,  लिवर सही से काम ना कर पाने की वजह से शरीर में सोडियम और कई अन्य विषाक्त तरह पदार्थ की जमा होने लगते हैं और सूजन का कारण बनते हैं। इन दोनों ही स्थितियों में आपको अपने डॉक्टर को तुरंत दिखाना चाहिए। 

Inside1signsofpigmentation

इसे भी पढ़ें : गुलाब से बने इस देसी उबटन से पाएं दमकती त्वचा और गुलाबी निखार, जानें बनाने का तरीका और फायदे

3. लाल रंग के घाव 

लिवर की बीमारी पैदा करने वाली कुछ स्थिति अजीबोगरीब त्वचा निष्कर्षों से जुड़ी होती है। ऐसी ही एक बीमारी है प्राइमरी बाइनरी कोलेनजाइटिस  (Primary Biliary Cholangitis) ये सिरोसिस जैसा होता है और इसमें सिरोसिस के लक्षण नजर आने लगते हैं। इसकी वजह से ऊपरी और निचली पलकों में उभरे हुए घाव  (Xanthelasma) होता है। इसमें स्किन ड्राई होने लगती है और त्वचा पर विटिलिगो ( सफेद दाग) और हाइपोपिगमेंटेड स्पॉट होने लगते हैं। पीबीसी पैरों पर लाल रंग के घाव के रूप में भी नजर आ सकता है। 

4. रैशेज

पोरफाइरिया कटानिया टार्डा (Porphyria cutanea tarda) लिवर की बीमारियों में स्किन से जुड़ी स्थितियां पैदा करता है। इससे धूप के संपर्क में आने वाले क्षेत्रों में ब्लिस्टरिंग रैशेज हो जाते हैं। साथ ही अंदरूनी अंगों में बाल तेजी से बढ़ने लगते हैं। ये सबसे ज्यादा हेपेटाइटिस सी के कारण होता है। 

5. स्पाइडर एंजियोमास

स्पाइडर एंजियोमास लिवर खराब होने वाले ज्यादातर मरीजों में नजर आने लगता है। दरअसल, इस रोग में छोटी-छोटी कोशिकाओं का जाल त्वचा पर नजर आने लगता है। इससे आपकी त्वचा पर मकड़ जाल जैसा दिखने लगता है। ऐसा होने पर इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए और तुरंत ही अपने डॉक्टर को दिखाना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें : प्याज का रस लगाने से दूर होती हैं स्किन की ये 6 समस्याएं, जानें प्रयोग का तरीका

बचाव के उपाय -Prevention Tips

नॉन अल्कोहल फैटी लीवर रोग ने वैश्विक आबादी के लगभग 25% लोगों को प्रभावित कर रखा है। इससे अन्य लिवर से जुड़ी बीमारियां बढ़ती हैं। इसलिए आपको अपने लिवर खराब होने से बचाव के लिए ये टिप्स आजमाना चाहिए। जैसे कि

  • -मोटापा कम करें।
  • -डायबिटीज को संतुलित रखें। 
  • -जीवनशैली को सही रखें। 
  • -अत्यधिक शराब का सेवन से बचें।

साथ ही कोशिश करें स्वस्थ आहार जिसमें कि कम फैट और कम चीनी वाली चीजों का सेवन करें। नियमित रूप से व्यायाम करें। ये उपाय न केवल लीवर की बीमारी को दूर करेंगे और इसे रोकेंगे, बल्कि आपके दिल और बाकी अंगों को भी स्वस्थ रखने में मदद करेंगे। 

Images Credit: Purplle and GettyImages

Read more articles on Other-Diseases in Hindi

Disclaimer