सिंघाड़े के छिलके में छिपे होते हैं कई गुण, स्किन की झुर्रियां मिटाने से लेकर वजन घटाने तक जानें इसके 7 फायदे

सिंघाड़ा ही नहीं, इसके छिलके भी स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। चलिए जानते हैं सिंघाड़े के छिलकों  के फायदे और इस्तेमाल करने का तरीका-

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Oct 13, 2021
सिंघाड़े के छिलके में छिपे होते हैं कई गुण, स्किन की झुर्रियां मिटाने से लेकर वजन घटाने तक जानें इसके 7 फायदे

नवरात्रि के व्रत में लोग सिंघाड़ा और इससे तैयार आटे का सेवन काफी ज्यादा किया जाता है। सिंघाड़ा स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि सिंघाड़ा ही नहीं, इसके छिलके भी स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। सिंघाड़े के साथ-साथ इसके छिलकों में भी कई पोषक तत्व होते हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर से भरपूर होता है। जो कई बीमारियों को दूर करने में आपकी मदद करता है। स्किन की खूबसूरती (Skin Care)को बढ़ाने के लिए भी आप सिंघाड़े के छिलकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। आज हम इस लेख में सिंघाड़े के छिलकों के फायदे और इसका इस्तेमाल करने का तरीका बताने जा रहे हैं। आइए जानते हैं कैसे करें सिंघाड़े के छिलकों (How to Use Singhara Peel) का इस्तेमाल?

डायटीशियन कामिनी कुमारी बताती हैं कि सिंघाड़े के साथ-साथ इसके छिलकों फाइबर भरपूर होता है, जो वजन को कम करने में सहायक माना जाता है। इसके अलावा यह एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर है। साथ ही इसमें कई अन्य तरह के पोषक तत्व जैसे- कैल्शियम, आयरन, जिंक, पोटैशियम और सोडियम इत्यादि मौजूद होते हैं। इसका सेवन आप सब्जी के रूप में भी कर सकते हैं। वहीं, कई लोग सिंघाड़े के छिलकों का इस्तेमाल पाउडर तैयार करके भी करते हैं। 

1. सूजन और दर्द में दिलाए राहत

शरीर के सूजन और दर्द को कम करने के लिए आप सिंघाड़े के छिलकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए सिंघाड़े के छिलकों (Chestnut Peel Health Benefits) को सूखा लें। अब इसे पीसकर पाउडर के रूप में तैयार कर लें। इसके बाद जब भी आपके शरीर में सूजन की शिकायत हो, तो इसमें थोड़ी सी हल्दी और ऑलिव ऑयल मिक्स करके प्रभावित हिस्से पर लगाएं। इससे सूजन कम होगा। सिंघाड़े का छिलका एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होता है, जो शरीर में होने वाले सूजन को कम करने में असरदार हो सकता है। 

इसे भी पढ़ें - माथे पर पड़ने वाली झुर्रियों के क्या कारण हैं? जानें इनसे छुटकारा पाने के आसान उपाय

2. स्किन की झुर्रियों को करे कम

बढ़ती उम्र के लक्षणो को कम करने मे सिंघाड़े का छिलका मददगार हो सकता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण स्किन की झुर्रियों को कम करने में मददगार होता है। यह सूर्य की हानिकारक किरणों से आपकी स्किन को सुरक्षा प्रदान करता है। झुर्रियों को कम करने के लिए सिंघाड़े के छिलके का पाउडर लें। इसमें थोड़ी सी शहद और कच्चा दूध मिक्स करेँ। इसके बाद इसे अपने चेहरे पर करीब 15 से 20 मिनट के लिए लगाएं। बाद में नॉर्मल पानी से अपना चेहरा साफ कर लें। इससे स्किन की झुर्रियां कम होंगी।

3. गले में खराश को करे दूर

सिंघाड़े के छिलकों में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होता है, जो गले के संक्रमण को दूर करने में आपकी मदद कर सकता है। अगर आपके गले में खराश या फिर दर्द की शिकायत है, तो सिंघाड़ के छिलकों से तैयार चाय का सेवन करें। इससे आपकी परेशानी दूर होगी। इसके अलावा यह थायराइड रोगियों के लिए भी काफी फायदेमंद होता है।

4. वजन कम करने में मददगार

बदलते खानपान की वजह से इन दिनों कई लोगों का वजन बढ़ रहा है। ऐसे में लोग अपने मोटापे को कम करने के लिए तरह-तरह के उपायों को अपना रहे हैं। अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं, तो सिंघाड़े के छिलकों का  (Weight Loss With Singhara Peel) इस्तेमाल कर सकते हैं। सिंघाड़े के छिलकों के इस्तेमाल से आपका वजन तेजी से घट सकता है। सिंघाड़े का छिलका फाइबर से भरपूर होता है, जो वजन को नियंत्रित करने में गुणकारी होता है।

दरअसल, फाइबर का सेवन करने से आपके लंबे समय तक भूख नहीं लगती है, जिसका असर आपके वजन पर पड़ सकता है। वजन को कम करने के लिए सिंघाड़े के छिलकों को सूखाकर इसकी सब्जी तैयार की जा सकती है। इसके अलावा आप सिंघाड़े के पाउडर को गर्म पानी में मिलाकर भी पी सकते हैं।

5. कब्ज से दिलाए राहत

अधिक तला-भुना या फिर फास्ट फूड्स खाने से अगर आपको पाचन तंत्र से जुड़ी परेशानी हो गई है, तो आपकी इस परेशानी को दूर करने में भी सिंघाड़े का छिलका मददगार हो सकता है। दरअसल, सिंघाड़े के छिलके में फाइबर मौजूद होता है, जो आपके आंत और पाचन की क्रिया को दुरुस्त करने में आपकी मदद कर सकता है। सिंघाड़े के छिलकों का सेवन करने से आपको मल त्यागने से जुड़ी परेशानी दूर हो सकती है। खाने के साथ-साथ आप सिंघाड़े के छिलकों का चाय भी पी सकते हैं। इससे कब्ज से आपका काफी आराम मिलेगा।

इसे भी पढ़ें - वजन बढ़ाने के लिए डाइट में शामिल करें ये 6 सब्जियां, दूर होगा दुबलापन और रहेंगे स्वस्थ

6. स्किन की बढ़ाए खूबसूरती

स्किन की खूबसूरती को बढ़ाने के लिए आप  सिंघाड़े के छिलकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। सिंघाड़े के छिलकों का इस्तेमाल करने से स्किन की झुर्रियां के साथ-साथ स्किन के दाग-धब्बे भी दूर हो सकते हैं। साथ ही अगर आप सिंघाड़े के छिलकों का सेवन करते हैं, तो इससे ब्लड में मौजूद गंदगी भी साफ हो सकती है। ब्लड में मौजूद गंदगी साफ होने से आपकी स्किन पर निखार आता है। साथ ही स्किन से जुड़ी कई परेशानियां दूर हो सकती हैं।

साथ ही बालों की मजबूती (Strong Hair) को बढ़ाने के लिए भी आप सिंघाड़े के छिलकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। सिंघाड़े के छिलकों का पैक तैयार करने के लिए ताजे सिंघाड़े के छिलके लें। इसे अच्छे से पीसकर इसमें गुलाबजल और शहद की कुछ बूंदें मिक्स करें।  अब इस पैक को अपने चेहरे पर लगाएं। जब पैक अच्छे से सूख जाए, तो इसे गर्म पानी से धो लें। इससे आपके स्किन की खूबसूरती बढ़ सकती है।

इसे भी पढ़ें - चेहरे की झुर्रियां और फाइन लाइंस हटाने के लिए दही और ब्लैकबेरी से बनाएं फेस पैक

7. सर्दी-जुकाम से दिलाए राहत

सिंघाड़े का छिलका एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। एंटीऑक्सीडेंट युक्त आहार सर्दी-जुकाम को दूर करने में मददगार साबित हो सकता है। अगर आप सर्दी-जुकाम या फिर वायरल फीवर से परेशान हैं, तो सिंघाड़े के छिलकों से तैयार चाय का सेवन करें। इसके अलावा सिंघाड़े के छिलकों में  कैल्शियम, जिंक, पोटैशियम  आयरन और सोडियम  जैसे कई पोषक तत्व होते हैं, जो वायरल की वजह से हुई कमजोरी को दूर करने में आपकी मदद कर सकता है। 

स्वास्थ्य और स्किन से जुड़ी परेशानियों को दूर करने के लिए आप सिंघाड़े के छिलकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें कि इसका अधिक मात्रा में सेवन न करेँ। अगर आप सिंघाड़े के छिलकों का अधिक सेवन करते हैं, तो आपका पाचन बिगड़ सकता है। दरअसल, इसमें फाइबर की अधिकता होती है, जिसका सेवन अधिक करने से उल्टी-दस्त की शिकायत हो सकती है। इसलिए अगर आपको पेट से जुड़ी परेशानी है, तो इसका सेवन करने से पहले एक बार एक्सपर्ट से जरूर सलाह लें। 

Disclaimer