Expert

सावन व्रत में पंचामृत का है खास महत्व, जानें मानसून में क्‍यों फायदेमंद है इसका सेवन

Sawan Somvar Vrat: सावन के पाक महीने की शुरुआत हो चुकी है। इस दौरान पंचामृत का सेवन फायदेमंद माना जाता है। जानतें हैं इसके लाभ और बनाने का तरीका।  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jul 18, 2022Updated at: Jul 18, 2022
सावन व्रत में पंचामृत का है खास महत्व, जानें मानसून में क्‍यों फायदेमंद है इसका सेवन

सावन महीने में सोमवार के व्रत का बड़ा महत्व होता है। इस व्रत में पंचामृत का सेवन क‍िया जाता है। मानसून के मौसम में पंचामृत का सेवन करने से शरीर को कई लाभ म‍िलते हैं, जैसे- इसका सेवन करने से शरीर की रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ती है और पेट स्वस्थ रहता है। पंचामृत को घरों में प्राकृत‍िक तरीके से तैयार क‍िया जाता है, जो क‍ि इस मौसम के ल‍िए एक हेल्‍दी ड्र‍िंक भी है। इस लेख में हम मानसून व सावन व्रत में पंचामृत पीने के फायदे और पंचामृत बनाने का आसान तरीका जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने Holi Family Hospital, Delhi की डायटीश‍ियन Sanah Gill से बात की। 

panchamrit benefits

5 सामग्रियों से बनता है पंचामृत- Panchamrit Ingredients In Hindi

सावन सोमवार व्रत में कुछ लोग व्रत तोड़कर, प्रसाद के रूप में पंचामृत का सेवन करते हैं। वहीं कुछ लोग व्रत के दौरान भी इसका सेवन करते हैं। 5 सामग्रियों से बनने वाला पंचामृत आख‍िर क्‍यों है फायदेमंंद, जानते हैं आगे-       

1. पंचामृत को बनाने के ल‍िए घी का इस्‍तेमाल क‍िया जाता है। घी में एंटीऑक्‍सीडेंट्स मौजूद होते हैं। घी में व‍िटाम‍िन ए और ई पाए जाते हैं।   

2. पंचामृत को तैयार करने के ल‍िए शहद डाला जाता है। शहद आपके पाचन तंत्र के ल‍िए फायदेमंद माना जाता है। मानसून सीजन में पेट से जुड़ी समस्‍याओं से बचने के ल‍िए शहद का सेवन करना चाह‍िए।  

3. इस रेस‍िपी को बनाने के ल‍िए चीनी का भी इस्‍तेमाल क‍िया जाता है, इससे शरीर को क्‍व‍िक एनर्जी म‍िलती है। चीनी की जगह आप गुड़ का भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं या चीनी के ब‍िना भी पंचामृत तैयार कर सकते हैं।   

4. पंचामृत बनाने के ल‍िए दही का प्रयोग भी क‍िया जाता है। दही में गुड बैक्‍टीर‍िया पाए जाते हैं जो पेट के स्वास्थ्य को बेहतर करने में अहम भूम‍िका निभाते हैं। 

5. पंचामृत में पाए जाने वाली आख‍िरी सामग्री है दूध। दूध के सेवन से शरीर में एनर्जी रहती है, बीमार‍ियों से बचाव होता है और इम्‍यून‍िटी बेहतर होती है। 

इसे भी पढ़ें- क्या प्रेग्नेंसी में पंचामृत का सेवन गर्भवती महिलाए के लिए है फायदेमंद?   

मानसून में पंचामृत पीने के फायदे- Panchamrit Benefits  

पंचामृत को व‍िशेष तौर पर सावन के व्रत के दौरान बनाया जाता है। ये एक पारंपर‍िक भारतीय प्रसाद भी है। पांच चीजों के म‍िश्रण से बनने के कारण इसे पंचामृत कहा जाता है। जानते हैं इसके फायदे-  

  • मानसून के मौसम में पंचामृत का सेवन करने से शरीर में ऊर्जा बढ़ती है और रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बेहतर होती है।  
  • उमस भरे मौसम में शरीर और द‍िमाग को ठंडक पहुंचाने के ल‍िए आपको पंचामृत का सेवन करना चाह‍िए।   
  • पंचामृत का सेवन करने से शरीर में पानी की कमी दूर होती है।
  • मानसून के दौरान त्‍वचा संबंधी रोग ज्‍यादा होते हैं। इनसे बचने के ल‍िए आप पंचामृत का सेवन करें।
  • मानसून में खांसी-जुकाम जैसे वायरल इन्‍फेक्‍शन का खतरा बढ़ जाता है। पंचामृत का सेवन करने से गले की खराश, गले में दर्द आद‍ि समस्याओं से राहत म‍िलेगी।  

पंचामृत बनाने का तरीका- Panchamrit Recipe In Hindi

सामग्री: दही, दूध, शहद, घी, चीनी या गुड़, घी।   

व‍िध‍ि: 

  • पंचामृत बनाने के ल‍िए सबसे पहले दही और चीनी या गुड़ को म‍िला लें।
  • दही को चीनी या गुड़ के साथ अच्‍छी तरह से फेट लें।
  • चीनी के घुल जाने के बाद उसमें शहद म‍िलाएं।
  • अब म‍िश्रण में दूध और घी म‍िला लें। 
  • पंचामृत में मेवे और तुलसी के पत्‍ते को भी शाम‍िल कर सकते हैं।
  • आप पंचामृत में मखाने, च‍िरौंजी और गरी को भी डालकर पी सकते हैं।   

आज के समय में तमाम तरह की एनर्जी ड्र‍िंक बाजार में मौजूद हैं, पर उनका सेवन सेहत को ब‍िगाड़ सकता है। जबक‍ि पंचामृत एक हेल्‍दी और प्राकृत‍िक एनर्जी ड्र‍िंक है। हम सालों से पंचामृत का महत्‍व दादी-नानी से सुनते आए हैं। आप भी इसका सेवन कर सकते हैं और पंचामृत के गुणों का लाभ उठाएं। ज‍िन लोगों को लैक्टोज इनटॉलेरेंस की समस्‍या है वो पंचामृत का सेवन न करें। 

image credits: wholesomeayurveda, blogspot.com

Disclaimer