लहसुन और शहद की जुगलबंदी हमेशा नहीं है फायदेमंद, जानें कितना कारगर है वजन घटाने का ये नुस्खा?

लहसुन आपके पाचन में सुधार और चयापचय को बढ़ाकर वजन कम करने में आपकी मदद करता है। वहीं शहद आपके भूख पर अंकुश लगाता है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariUpdated at: Apr 07, 2021 15:48 IST
लहसुन और शहद की जुगलबंदी हमेशा नहीं है फायदेमंद, जानें कितना कारगर है वजन घटाने का ये नुस्खा?

लहसुन और शहद का इस्तेमाल दुनिया भर की पारंपरिक दवाओं में किया जाता रहा है। लहसुन में मुख्य स्वास्थ्य घटक एलिसिन है। इसमें ऑक्सीजन, सल्फर और अन्य रसायन होते हैं, जो लहसुन को जीवाणुरोधी और रोग से लड़ने वाले गुण प्रदान करते हैं। वहीं शहद प्राकृतिक रूप से हाई एंटीऑक्सिडेंट्स है, जिसे फ्लेवोनोइड और पॉलीफेनोल्स का अच्छो सोर्स भी माना जाता है। ये रसायन शरीर में सूजन से लड़ने में मदद करते हैं। यह प्रतिरक्षा प्रणाली को संतुलित करने और कुछ बीमारियों को रोकने में मदद कर सकता है। शहद में जीवाणुरोधी गुण भी होता है, जो एंटीवायरल और एंटीफंगल के रूप में इस्तेमाल किए जा सकते हैं। पर इन दोनों को अलग मिला दिया जाए, तो ये वजन घटाने में भी मददगार हैं।

insideweightlossandhoney

वजन घटाने के लिए लहसुन और शहद  (Raw garlic and honey for weight loss)

जी हां, बहुत से लोग वजन कम करने के लिए सुबह खाली पेट लहसुन और शहद को एक साथ खाने का सुझाव देते है। इस नुस्खे को पुराने वक्त से ही बहुत कारगार माना गया है। शोध बताते हैं कि ताजा लहसुन काट कर या कूच कर शहद में मिलाने से अधिक एलिसिन (allicin) जारी करता है। दरअसल खाली पेट पर एक फली या दो कच्चे लहसुन को शहद में मिला कर खाना, पाचन को बढ़ावा देगा और आपके शरीर को डिटॉक्सीफाई करने में मदद करता है। इसके अलावा, आप रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल के स्तर में भी सुधार करता है। इसके साथ ये इम्यूनिटी बढ़ाने वाला और कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के लिए भी जाना जाता है। 

इसे भी पढ़ें : आंत से जुड़ी बीमारी स्मॉल इंटेस्टाइनल बैक्टीरियल ओवरग्रोथ (SIBO) से निपटने में मदद करेंगे ये 5 घरेलू उपाय

लहसुन और शहद को एक साथ लेने के नुकसान (side effects of garlic & honey)

लहसुन और शहद में पोषण और स्वास्थ्य यौगिकों के कारण कुछ लोगों में दुष्प्रभाव या प्रतिक्रिया हो सकती है। लहसुन या शहद की खुराक लेने से पहले आप डॉक्टर से बात करें। ऐसा इसलिए क्योंकि इन दोनों को एक साथ लेना कुछ लोगों के लिए नुकसानदेह हो सकता है। जैसे कि

  • -लहसुन और शहद कुछ लोगों में एलर्जी का कारण बन सकता है।
  • - लहसुन की खुराक का ज्यादा हो जाना आपके खून को पतला हो सकता है और रक्तस्राव का खतरा बढ़ सकता है।
  • - वो लोग जो कुछ दवाइयों के सहारे रह रहे हैं, लहसुन और शहद दवाओं के साथ नकारात्मक रिएक्शन कर सकते हैं।
  • - वहीं शहद का सेवन मधुमेह वाले लोगों में रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ा सकता है। अपने आहार में शहद को शामिल करने से पहले डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से बात करें।
  • - वहीं कुछ लोगों में इन दोनों चीजों को लेने के बाद खांसी, चेहरे या गले में सूजन, सिर चकराना, जी मिचलाना, उल्टी, बेहोशी, पसीना आना, त्वचा की प्रतिक्रिया और अनियमित धड़कन आदि की समस्या महसूस हो सकती है।
  • -साथ ही कुछ लोगों को इससे  सीने में जलन और पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।
insideweightloss

इसे भी पढ़ें : सर्दी, खांसी, बुखार हो या लो इम्यूनिटी! प्याज के पानी का ये नुस्खा आपको कर देगा कुछ दिनों में फिट, जानें तरीका

किन लोगों को लहसुन और शहद लेने से बचना चाहिए?

  • -जैसा कि हमने ऊपर जानकारी दी है कि कच्चे लहसुन से पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में जिनको पेट से जुड़ी कोई परेशानी है, तो वो कच्चे लहसुन का सेवन करने से बचे।
  • -अगर कोई खून को पतला करने की दवाई ले रहा है, तो वो भी इन दोनों का सेवन न करें ।
  • -जिन्हें लिवर की गंभीर समस्या है, तो इसके सेवन से पहले डॉक्टरी परामर्श लें। इससे उनके लिवर को नुकसान हो सकता है।
  • -जिनको माइग्रेन की समस्या है, वो इसका सेवन न करें, क्योंकि हो सकता है कि इसकी गंध से समस्या और बढ़ जाए।
  • -जिनको लो ब्लड प्रेशर की शिकायत है, वो लहसुन का सेवन डॉक्टरी सलाह पर ही करें। लहसुन हाई ब्लड प्रेशर के लिए लाभकारी होता है। ऐसे में लो ब्लड प्रेशर में यह नुकसानदायक हो सकता है। 

लहसुन और शहद दोनों अपने औषधीय गुणों के लिए भी लोकप्रिय है। साथ ही ये दोनों वजन घटाने के लिए भी बहुत कारगर हैं पर इसका मतलब ये नहीं कि आप ज्यादा से ज्यादा वजन घटाने के लिए इसे एक हद से ज्यादा लें। इसलिए इसे लेने से पहले किसी डॉक्टर से जरूर संपर्क कर लें।

Read more articles on Home-Remedies in Hindi

Disclaimer