प्याज के तेल के फायदे, नुकसान, प्रयोग का तरीका और बनाने की विधि जानें आयुर्वेदाचार्य से

प्याज के तेल के सेवन या उपयोग से सेहत को कई फायदे होते हैं। लेकिन इससे कुछ नुकसान भी देखे गए हैं। जानते हैं प्याज के तेल के फायदे और नुकसान

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Jun 08, 2021
प्याज के तेल के फायदे, नुकसान, प्रयोग का तरीका और बनाने की विधि जानें आयुर्वेदाचार्य से

भारतीय घरों में प्याज का इस्तेमाल स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ सेहत को तंदुरुस्त बनाने के लिए किया जाता है। वहीं प्याज का लेत भी किसी वरदान से कम नहीं है। तेल के अंदर भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट, एंटीफंगल, एंटीओबेसिटी, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन बी कॉम्पलेक्स, anti-inflammatory, एंटीसेप्टिक, एंटीबैक्टीरियल आदि गुण मौजूद होते हैं जो न केवल शरीर से कई बीमारियों को दूर रखते हैं बल्कि प्याज के तेल के उपयोग से त्वचा और बालों को भी फायदा होता है। आज का हमारा लेख प्याज के तेल के फायदों पर ही है। आज हम आपको अपनी इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि प्याज के तेल के उपयोग से सेहत को क्या-क्या फायदे (onion oil benefits) होते हैं। साथ ही इसके नुकसान (onion oil side effects) के बारे में भी जानेंगे। पढ़ते हैं आगे...

1 - पाचन के लिए प्याज का तेल

प्याज के तेल के अंदर एंटीमाइक्रोबॉयल गुण पाए जाते हैं। ये ना केवल पाचन को क्षति पहुंचाने वाले बैक्टीरिया से दूर रखता है बल्कि पाचन तंत्र में सुधार भी लाता है। इसके अंदर पाए जाने वाले एंटीबैक्टीरियल गुण दस्त और पेचिश आदि समस्याओं को दूर करने में भी बेहद मददगार है।

2 - घाव को भरे प्याज का तेल

प्याज के तेल के उपयोग से घाव का उपचार किया जा सकता है। जैसा हमने पहले भी बताया प्याज के तेल के अंदर एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं, ऐसे में इसके उपयोग से घाव को जल्दी भरा जा सकता है। प्याज का तेल आप मरहम या लिप के रूप में भी घाव पर लगा सकते हैं।

3 - शरीर में अंगों के दर्द को करे दूर

प्याज के तेल के प्रयोग से शरीर के अंग जैसे कान का दर्द, सिर का दर्द, दांत का दर्द, मसूड़े का दर्द आदि दर्द को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप प्याज के तेल के साथ जैतून का तेल, नारियल का तेल या सरसों का तेल मिलाएं और प्रभावित स्थान पर लगाएं। ऐसा करने से सर दर्द, दांत का दर्द, मसूड़ों का दर्द आदि दर्द दूर हो सकते हैं।

4 - अनिद्रा की समस्या होती है दूर

तनाव भरी जीवनशैली के कारण कुछ लोग अनिद्रा के शिकार हो जाते हैं। वे सही से नींद ना लेने के कारण कई समस्याओं से ग्रस्त रहते हैं। ऐसे में प्याज का तेल अनिद्रा की समस्या को दूर करने में बेहद उपयोगी है। इसके अंदर फाइटोकेमिकल पाए जाते हैं। साथ ही नींद में सुधार करने वाला गुण भी इसके अंदर मौजूद होता है। ऐसे में आप इसके तेल के उपयोग से समस्या को दूर कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- क्या प्रेग्नेंसी में प्याज खा सकते हैं? न्यूट्रीशनिस्ट से जानें सच्चाई

5 - बालों के लिए प्याज का तेल

प्याज का तेल बालों के लिए किसी वरदान से कम नहीं हैं। जिन लोगों के बाल झड़ते हैं या जो लोग रूसी, दोमुंहे बाल या जिनके बालों की प्राकृतिक चमक खो गई है वे प्याज के तेल से इस समस्या को दूर कर सकते हैं। प्याज के तेल में सल्फर मौजूद होता है जो बालों का विकास करता है। इसके अलावा जिन लोगों के बाल पतले हैं वे प्याज के तेल के उपयोग से पतले बालों को मोटा कर सकते हैं। डैंड्रफ से छुटकारा पाने के लिए भी प्याज का तेल लगाना एक अच्छा विकल्प है। प्याज के अंदर आयरन और जिंक मौजूद होता है जो बालों को मजबूती देता है। साथ ही प्याज के अंदर पाए जाने वाला कैल्शियम, कॉपर बालों को सफेद होने से बचाता है।

  • बालों में तेल का प्रयोग करने के लिए आप प्याज के तेल के साथ कैरियर ऑयल जैसे नारियल का तेल और सरसों के तेल आदि को मिलाएं
  • फिर जड़ों में लगाएं।
  • 15 से 20 मिनट बाद बालों को अच्छे से धोएं।
  • अगर बेहतर रिजल्ट पाना चाहते हैं तो रात भर इस तेल को अपने बालों में लगाए रखें।

6 - त्वचा के लिए प्याज का तेल

त्वचा की समस्या को दूर करने में भी प्याज का तेल बेहद उपयोगी है। यह त्वचा को मुलायम बनाता है साथ ही इसके अंदर पाए जाने वाला Quercetin (क्वीरसेटिन) नामक तत्व त्वचा को कोमल भी बनाता है। अगर आप त्वचा की रंगत में सुधार लाना चाहते हैं तो प्याज के तेल का प्रयोग कर सकते हैं। इसके अंदर पाए जाने वाले एंटीबैक्टीरियल गुण मुहांसे की समस्या को दूर करने में बेहद उपयोगी है। साथ ही मुहांसों को पैदा करने वाले बैक्टिरिया को खत्म करते हैं। ऐसे में आप त्वचा पर इसका इस्तेमाल करने के लिए प्याज के तेल की कुछ बूंदों को नारियल के तेल के साथ मिलाएं और त्वचा पर लगाएं। 15 मिनट बाद त्वचा को सादे पानी से धो लें। इसके अलावा आप रुई के माध्यम से भी त्वचा को पोंछ सकते हैं।

प्याज का तेल बनाने की विधि

  • प्याज का पेस्ट बनाएं।
  • अब गैस पर नारियल या तिल का तेल डालें औऱ प्याज के पेस्ट और अर्क को मिलाएं। 
  • पहले उबाल पर गैस लॉ कर दें।
  • मिश्रण को चलाते रहें।
  • पानी को पूरा जलाएं और तेल को पकाएं।
  • अब गैस बंद करें और मिश्रण को उतार लें। 
  • ठंडा होने के बाद प्याज के तेल को छान लें। 

 इसे भी पढ़ें- गर्मी में सफेद प्याज का मुरब्बा खाने से दूर होते हैं कई रोग, जानें इसे बनाने की विधि और फायदे

प्याज के तेल से होने वाले नुकसान

1 - ब्लड प्रेशर को कम करने में प्याज का तेल उपयोगी है। ऐसे में जो लोग ब्लड प्रेशर को कम करने की दवा लेते हैं वे इसका सेवन ना करें।

2 - प्याज के तेल के अधिक सेवन से मानसिक कमजोरी आ सकती है।

3 - प्याज के तेल की सेवन से कभी-कभी व्यक्ति को उल्टी या मतली भी आ जाती है।

4 - कभी भी बालों पर या त्वचा पर प्याज के तेल का प्रयोग सीधे नहीं करना चाहिए। ऐसे में कुछ समस्याएं जैसे खुजली, दाने, लाल चकत्ते आदि हो सकते हैं।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि प्याज का तेल सेहत को कई समस्याओं से दूर रख सकता है। लेकिन इसके कुछ नुकसान भी देखे गए हैं। ऐसे में सबसे पहले इसके फायदे और नुकसान के बारे में जानना जरूरी है। गर्भवती महिलाएं या स्तनपान कराने वाली महिलाएं प्याज के तेल का सेवन उपयोग करने से पहले एक्सपर्ट की राय जरूर लें। यदि आप किसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त हैं या कोई स्पेशल डाइट फॉलो कर रहे हैं तो प्याज के तेल के सेवन से पहले और अपनी डाइट में बदलाव करने से पहले एक बार एक्सपर्ट की राय जरूर लें।

ये लेख आयुर्वेद संजीवनी हर्बल क्लिनिक शकरपुर, लक्ष्मी नगर के आयुर्वेदाचार्य डॉ एम मुफिक (Ayurvedacharya Dr. M Mufik) से बातचीत पर आधारित है।

Read More Articles on ayurveda in hindi

Disclaimer