ऑक्युलर माइग्रेन क्या है? जानें इसके लक्षण, कारण और इलाज

ऑक्यूलर माइग्रेन के कारण सिरदर्द के साथ-साथ धुंधला दिखने या एक आंख में कुछ समय के लिए अंधेपन की समस्या हो सकती है। जानें इस माइग्रेन के बारे में सबकुछ

Monika Agarwal
अन्य़ बीमारियांWritten by: Monika AgarwalPublished at: Aug 28, 2021Updated at: Aug 28, 2021
ऑक्युलर माइग्रेन क्या है? जानें इसके लक्षण, कारण और इलाज

अगर आप माइग्रेन के मरीज हैं तो आपको बहुत से अलग अलग लक्षण देखने को मिलते होंगे जिसमें सिर दर्द तो मुख्य है ही। लेकिन अगर आपको माइग्रेन के दर्द के साथ साथ दिखने में भी परेशानी  होती है तो यह ऑक्युलर माइग्रेन (Ocular Migraine) के नाम से जाना जाता है। अग्रिम इंस्टीट्यूट आफ न्यूरोसाइंसेज आर्टमिस अस्पताल के डायरेक्टर न्यूरोसाइंसेज डॉ सुमित सिंह के मुताबिक यह एक दुविधा में डाल देने वाला शब्द हो सकता है। क्योंकि ये समस्या हर बार माइग्रेन के साथ हो, ये जरूरी नहीं है। हो सकता है आपको साधारण माइग्रेन हो। जब आपको दिखने में किसी तरह की समस्या को झेलना पड़े तो समझ जायें कि ये ऑक्युलर माइग्रेन (Ocular Migraine) है। लेकिन कभी-कभी लोग माइग्रेन और रेटिनल माइग्रेन में भी कंफ्यूज हो जाते हैं। दोनों को एक समझ लेते हैं जबकि यह दोनों ही माइग्रेन एक नहीं है। साधारण माइग्रेन में आंखों पर कोई प्रभाव नहीं होता।

ऑक्युलर माइग्रेन के लक्षण (Ocular Migraine Symptoms)

  • इस दौरान आपको दिन में या किसी भी समय अपनी आंखों के आगे तारे नज़र आ सकते हैं।
  • आपको कई बार ब्लाइंड स्पॉट का भी सामना करना पड़ सकता है। जिस कारण आपके लिए सामने देखना बहुत कठिन हो जाता है।  
  • यह आपके दिन को काफी बदतर बना सकता है और आप इसमें बहुत अधिक परेशान भी हो सकते हैं।
  • माइग्रेन इसके दौरान आपको तेज लाइट देखने को मिल सकती है,
  • आपको धुंधला दिखाई दे सकता है,
  • आपको आड़ी तिरछी घूमती हुई लाइंस दिख सकती है।

ऑक्युलर माइग्रेन के कारण (Causes For Ocular Migraine)

  • एक इलेक्ट्रिकल इंपल्स होती है। जो आपके शरीर में असामान्य इलेक्ट्रिकल गतिविधि करती है।
  • यह आपके ब्रेन की सतह के चारों ओर फैल जाती है।
  • अगर यह इंपल्स आपके विजुअल कोर्टेक्स के सामने आ जाती हैं जहां आपका दिमाग विजुअल सिग्नल्स बनाता है तो आपको देखने में इस प्रकार की समस्याएं आने लग जाती हैं।
  • अगर आपके परिवार में भी किसी को पहले यह समस्या थी तो आपको भी ऑक्यूलर माइग्रेन होने की संभावना बढ़ सकती हैं।

ऑक्युलर माइग्रेन का दर्द किन चीजों द्वारा बढ़ सकता है (When Can It Gets Trigger)

  • अगर आप अधिक स्ट्रेस लेते हैं,
  • आपके शरीर में अधिक हार्मोनल बदलाव हो रहे हैं
  • अधिक चिंता
  • ब्राइट और फ्लैश लाइट द्वारा
  • अगर आप प्रयाप्त नींद नहीं ले रहे हैं
  • अगर आप अपनी मील स्किप कर रहे हैं 

ऑक्युलर माइग्रेन का इलाज क्या है (Ocular Migraine of Treatment)

पेन रिलीवर : आइबुप्रोफेन जैसे नॉन स्टेराइडल और नॉन इन्फ्लेमेटरी पेन रिलीवर आप ले सकते हैं। हो सकता है क्रोनिक माइग्रेन के समय यह काम न करें।

त्रिप्तान : यह डॉक्टर द्वारा सुझाई गई दवा है, जो ब्रेन के रास्ते में आने वाले दर्द को ब्लॉक करती है।

लसमीडिटन : यह एक ओरल दवाई है जो ब्रेन के सेरोटोनिन रिसेप्टर पर काम करती है।

हो सकता है ऑक्यूलर माइग्रेन के कुछ अन्य कारण भी हों। इसलिए आपको कोई भी दवाई लेने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से जरूर बात कर लेनी चाहिए।

Images Credit- Freepik

Read More Articles on Other diseases in Hindi

Disclaimer