प्रेग्नेंसी में क्यों होती है नसों में सूजन की समस्या? जानें इसके कारण और इलाज

प्रेनेंसी के दौरान नसों में सूजन आना एक आम समस्या है। लेकिन इसके कारण महिलाओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। 

Garima Garg
Written by: Garima GargUpdated at: Jul 23, 2021 16:28 IST
प्रेग्नेंसी में क्यों होती है नसों में सूजन की समस्या? जानें इसके कारण और इलाज

जब किसी व्यक्ति की नसें मुड़ना और सूजना शुरू कर देती हैं तो इसे वैरिकोज वेन्स यानि नसों में सूजन हो जाना कहते हैं। ये समस्या प्रेग्नेंसी के दौरान बेहद आम बात है। लेकिन महिलाओं को इसके कारण काफी समस्या का सामना करना पड़ता है। जब नसे सूजना शुरू करती हैं तो  ये लाल या नीले रंग की दिखना शुरू हो जाती हैं। इन्हें देखकर लगता है कि ये त्वचा के ऊपर उभरनी शुरू हो गई हैं पर ऐसा नहीं होता है। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि प्रेग्नेंसी में नसों में दर्द के क्या कारण हैं। साथ ही इसके लक्षण और उपचार के बारे में भी बताएंगे। पढ़ते हैं आगे...

 

प्रेग्नेंसी के दौरान वैरिकोज वेन्स के लक्षण

अगर पैरों की नसों में सूजन की समस्या है तो निम्न लक्षण नजर आ सकते हैं-

1 - पैरों में भारीपन महसूस करना।

2 - पैरों में दर्द या अकड़न महसूस करना।

3 - नसों में सूजन दिखना।

4 - रात के समय जांघ या कफ में ऐंठन महसूस करना।

5 - पैरों या टखनों में हल्की सूजन महसूस करना।

6 - प्रभावित इंसान पर खुजली महसूस करना।

इसे भी पढ़ें- बिना प्रेगनेंसी के ब्रेस्ट से दूध (सफेद पानी) निकलना हो सकता है कई रोगों का संकेत, जानें इनके बारे में

7 - पैरों में असुविधा महसूस होना।

8 - पैरों में दर्द महसूस करना।

9 - पैरों में  भारीपन महसूस करना।

नोट - अगर महिलाओं को पैरों के अलावा कहीं और ये समस्या हुई है तो लक्षण निम्न भी नजर आ सकते हैं।  

प्रेगनेंसी में नसों की सूजन के कारण

1 - गर्भावस्था में महिलाओं का वजन बढ़ना आम बात है। लेकिन इसके कारण नसों में सूजन की समस्या हो सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि वजन बढ़ने से नसों पर दबाव पड़ता है और ये समस्या हो जाती है।

2 - जब महिलाओं की नसों में वाल्व की समस्या हो जाती है तब भी नसों में सूजन की समस्या हो सकती है। वाल्व के कारण खून सामान्य रूप से बहना बंद कर सकता है और नसों में सूजन आ जाती है।

3 - प्रेग्नेंसी में हॉर्मोन में होने वाले परिवर्तन के कारण महिलाओं में शारीरिक और मानसिक दोनों बदलाव दिखते हैं। इस समस्या के कारण भी नसों में सूजन आ सकती है।

4 - अगर महिला के परिवार में किसी को नसों में सूजन की समस्या है तो गर्भवती को इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

5 -गर्भाशय का बढ़ना भी नसों की सूजन का एक कारण है। गर्भाशय बड़ने के कारण बड़ी नसों पर दबाव पड़ना शुरू हो जाता है जिसके कारण पैरों में नसों की सूजन की समस्या हो सकती है।

इसे भी पढ़ें- प्रेगनेंसी के दौरान क्यों होता है गर्दन में दर्द? जानें इसका कारण और बचाव के लिए टिप्स

गर्भावस्था के दौरान नसों में सूजन होने से बचाव

1 - अपनी दिनचर्या में एक्सपर्ट की सलाह पर योग या व्यायाम करना।

2 - अपने मोटापे को बढ़ने से रोकना।

3 - मलत्याग के दौरान जरूरत से ज्यादा जोर न लगाना।

5 - अपने आहार में अत्यधिक नमक का सेवन ना करना।

6 - हाई हील्स ना पहनना।

7 - एक ही स्थान पर ज्यादा देर तक न खड़े रहना।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि गर्भावस्था में नसों में सूजन हो जाना एक आम बात है। लेकिन अगर ये समस्या बढ़ती चली जाए तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी है। इससे अलग इस अवस्था में किसी भी चीज का सेवन करने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें। महिलाएं अपनी लाइफ स्टाइल में बदलाव करके भी इस समस्या से छुटकारा पा सकती हैं। 

इस लेख में इस्तेमाल की जानें वाली फोटोज़ shutterstock से ली गई हैं।

Read More Articles on women health in hindi 

Disclaimer