Doctor Verified

मेगालोब्लास्टिक एनीमिया क्‍या होता है? जानें कारण, लक्षण और इलाज

Megaloblastic Anemia: थकान होना या भूख न लगने का कारण मेगालोब्लास्टिक एनीमिया हो सकता है। जानते हैं इस ड‍िसऑर्डर का कारण, लक्षण और इलाज  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jul 14, 2022Updated at: Jul 14, 2022
मेगालोब्लास्टिक एनीमिया क्‍या होता है? जानें कारण, लक्षण और इलाज

अगर शरीर में रेड ब्‍लड सेल्‍स का न‍िर्माण ठीक ढंग से न हो, तो मेगालोब्लास्टिक एनीमिया (Megaloblastic Anemia) का श‍िकार हो सकते हैं। इस ड‍िसऑर्डर में रेड ब्‍लड सेल्‍स की संख्‍या, सामान्‍य से कम हो जाती है। ये भी एक प्रकार का एनीम‍िया है। व‍िटाम‍िन बी12 की कमी को मेगालोब्लास्टिक एनीमिया के नाम से जाना जाता है। इस स्‍थ‍ित‍ि में रेड ब्‍लड सेल्‍स का साइज असामान्‍य हो जाने के कारण शरीर में ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई ठीक ढंग से नहीं हो पाती। इस लेख में हम मेगालोब्लास्टिक एनीमिया के लक्षण, कारण और इलाज के बारे में जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।   

megaloblastic anemia in hindi

मेगालोब्लास्टिक एनीमिया क्‍या होता है?- Megaloblastic Anemia In Hindi 

ये एक तरह का ब्‍लड ड‍िसऑर्डर है। मेगालोब्लास्टिक एनीमिया होने पर बोन मैरो, सामान्‍य से बड़े रेड ब्‍लड सेल्‍स बनाने लगता है। ये ठीक तरह से व‍िकस‍ित नहीं हो पाते। शरीर में ऑक्‍सीजन सप्‍लाई के ल‍िए रेड ब्‍लड सेल्‍स अहम भूम‍िका न‍िभाते हैं। अगर शरीर में रेड ब्‍लड सेल्‍स कम हैं, तो शरीर में ऑक्‍सीजन की कमी होगी। रेड ब्‍लड सेल्‍स का न‍िर्माण ठीक से न होना ही मेगालोब्लास्टिक एनीमिया की स्‍थ‍ित‍ि है।   

मेगालोब्लास्टिक एनीमिया के लक्षण- Megaloblastic Anemia Symptoms 

मेगालोब्लास्टिक एनीमिया होने पर आपको न‍िम्‍न लक्षण नजर आ सकते हैं- 

  • भूख न लगना
  • वजन घटना 
  • थकान होना 
  • सांस लेने में परेशानी 
  • मांसपेश‍ियों में कमजोरी 
  • जी म‍िचलाना 
  • हाथ व पैर में झुनझुनी होना

इसे भी पढ़ें- एनीमिया क्या है और कितने प्रकार के होते हैं? जानें इनके लक्षण

मेगालोब्लास्टिक एनीमिया के कारण- Megaloblastic Anemia Causes 

  • फोलेट की कमी के कारण मेगालोब्लास्टिक एनीमिया की समस्‍या हो सकती है।
  • जो लोग खाने में व‍िटाम‍िन बी12 की पर्याप्‍त मात्रा नहीं लेते हैं उन्‍हें भी मेगालोब्लास्टिक एनीमिया हो सकता है। 
  • जो लोग डायल‍िस‍िस पर होते हैं उनमें व‍िटाम‍िन बी12 या फोलेट की कमी के कारण ये ड‍िसऑर्डर हो सकता है। 
  • आंत में बीमारी या इन्‍फेक्‍शन के कारण भी मेगालोब्लास्टिक एनीमिया की समस्‍या हो सकती है। 

मेगालोब्लास्टिक एनीमिया का इलाज- Megaloblastic Anemia Treatment 

  • मेगालोब्लास्टिक एनीमिया के लक्षण नजर आने पर आप डॉक्‍टर के पास जाए, इस बीमारी के ल‍िए सीबीसी टेस्‍ट क‍िया जाता है। 
  • कंप्लीट ब्लड काउंट की मदद से ब्‍लड से जुड़ी समस्‍या को समझकर डॉक्‍टर आपको दवा का सेवन करने के ल‍िए कह सकते हैं।  
  • मेगालोब्लास्टिक एनीमिया की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए आपको डॉक्‍टर हेल्‍दी डाइट लेने की सलाह देंगे। 
  • इस एनीम‍िया में डॉक्‍टर व‍िटाम‍िन बी-12 का इंजेक्‍शन देकर भी इलाज करते हैं। 
  • डॉक्‍टर आपको डाइट में फोलेट की मात्रा बढ़ाने की सलाह दे सकते हैं।   
  • इंजेक्‍शन या सप्‍ल‍िमेंट्स की मदद से भी मेगालोब्लास्टिक एनीमिया का इलाज क‍िया जाता है।

मेगालोब्लास्टिक एनीमिया होने पर क्‍या खाएं?

  • मेगालोब्लास्टिक एनीमिया से पीड़‍ित हैं, तो डॉक्‍टर आपको खास डाइट देंगे ज‍िसे आप फॉलो कर सकते हैं। इसके अलावा आप डाइट में कुछ हेल्‍दी व‍िकल्‍प शाम‍िल कर सकते हैं- 
  • आप संतुल‍ित मात्रा में साबूत अनाज का सेवन करें। बाजरा, जौ, मकई और दाल आद‍ि का सेवन करने से शरीर में व‍िटाम‍िन बी12 की कमी दूर होगी।
  • मेगालोब्लास्टिक एनीमिया को दूर करने के ल‍िए दाल का सेवन करें। दाल में मौजूद फाइबर, प्रोटीन और अन्‍य पोषक तत्‍वों की मदद से आप बीमारी से बाहर न‍िकल पाएंगे।  
  • मेगालोब्लास्टिक एनीमिया से बचने के ल‍िए आप अपनी डाइट में हरी सब्‍ज‍ियां, मूंगफली, संतरा, दूध, अंडा आद‍ि को शाम‍िल कर सकते हैं। 

अगर आपको मेगालोब्लास्टिक एनीमिया के लक्षण नजर आते हैं, तो डॉक्‍टर से संपर्क करें और इलाज करवाएं।   

Disclaimer