Doctor Verified

प्रेग्नेंसी में Low BP की समस्या को कैसे दूर करें? डॉक्टर से जानें आसान उपाय

प्रेग्नेंसी में Low BP की समस्या को दूर करने के ल‍िए आप कुछ आसान उपाय अपना सकते हैं

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jan 17, 2022Updated at: Jan 17, 2022
प्रेग्नेंसी में Low BP की समस्या को कैसे दूर करें? डॉक्टर से जानें आसान उपाय

प्रेग्नेंसी में 100/60 एमएमएचजी से कम के लेवल को लो बीपी की समस्‍या कहा जाता है। सामान्‍य व्‍यक्‍त‍ि का बीपी 120/80 होता है। प्रेग्नेंसी के दौरान बीपी कम होने पर कई समस्‍याएं हो सकती हैं जैसे घबराहट, चक्‍कर आना, थकान महसूस होना आद‍ि। शारीर‍िक समस्‍याओं को समय पर रोक ल‍िया जाए तो मां और बच्‍चे की सेहत को ब‍िगड़ने से रोका जा सकता है। लो बीपी की समस्‍या होने पर बच्‍चे तक पहुंचने वाले रक्‍त में बाधा आ सकती है ज‍िससे गर्भस्‍थ श‍िशु की जान भी खतरे में पड़ सकती है इसलि‍ए इस समस्‍या को हल्‍के में न लें। इस लेख में हम प्रेग्नेंसी के दौरान लो बीपी की समस्‍या को दूर करने के तरीकों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के झलकारीबाई अस्‍पताल की गाइनोकॉलोज‍िस्‍ट डॉ दीपा शर्मा से बात की।

vegetables in pregnancy

image source:hertsepp.com

1. प्रेग्नेंसी में हरी पत्तेदार सब्‍ज‍ियां खाएं (Eat green leafy vegetables during pregnancy)

प्रेग्नेंसी में लो बीपी के क्‍या लक्षण होते हैं? प्रेग्नेंसी के दौरान अगर आपका बीपी लो होता है तो आपको चक्‍कर आना, जी म‍िचलाना, धुंधला द‍िखना, सांस लेने में परेशानी, थकान महसूस होना जैसे लक्षण नजर आ सकते हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान आपको हरी पत्तेदार सब्‍ज‍ियां खानी चाह‍िए। ताजे फलों का सेवन और हरी सब्‍ज‍ियां खाएंगी तो जल्‍दी र‍िकवरी होगी और रक्‍तचाप सामान्‍य हो जाएगा।

इसे भी पढ़ें- प्रेग्नेंसी के दौरान पेट और पैरों पर क्यों हो जाते हैं रैशेज? जानें कारण और 5 घरेलू उपचार 

2. प्रेग्नेंसी में आराम भी जरूरी है (Rest during pregnancy)

प्रेग्नेंसी के दौरान लो बीपी की समस्‍या होने पर आपको आराम करना चाहि‍ए। बीपी बढ़ने पर आपको बेडरेस्‍ट करना चाह‍िए, इस दौरान अगर आप भारी काम करेंगी तो चक्‍कर भी आ सकता है। आप आराम करें साथ ही ढीले कपड़े पहनें। आरामदायक कपड़े पहनेंगी तो थकान नहीं होगी, चक्‍कर नहीं आएंगे और लो बीपी की समस्‍या भी नहीं होगी। 

3. प्रेग्नेंसी में नमक के पानी से बढ़ाएं बीपी (Drink salt water during pregnancy)

प्रेग्नेंसी में लो बीपी की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए आपको नमक के पानी का सेवन करना चाह‍िए। नमक में सोड‍ियम की मात्रा मौजूद होती है, अगर आपको लग रहा है क‍ि बीपी कम है तो आप इसका सेवन कर सकती हैं पर नमक के पानी का ज्‍यादा  सेवन करने से बचें, इसकी ज्‍यादा मात्रा सेहत के ल‍िए अच्‍छी नहीं होती। आप एक ग‍िलास पानी में नमक और थोड़ी चीनी डालकर पी सकते हैं। 

4. प्रेग्नेंसी में पर्याप्त पानी पिएं (Drink water during pregnancy)

low bp in pregnancy

image source:hertsepp.com

अगर आप काफी देर से बैठी हैं या लेटी हैं तो अचानक से उठने पर बीपी लो हो सकता है। अचानक कोई काम करने के कारण ब्‍लड को द‍िमाग और द‍िल तक पहुंचने में समय लगता है ज‍िससे बीपी लो हो जाता है। प्रेग्नेंसी के दौरान आपको पर्याप्‍त मात्रा में पानी का सेवन करना चाहिए। पूरे द‍िन बॉडी को हाइड्रेट रखेंगी तो बीपी कम नहीं होगा। आपको रोजाना कम से कम 2 से 3 लीटर पानी का सेवन करना चाह‍िए।

इसे भी पढ़ें- क्या प्रेगनेंसी में किताबें पढ़ने से बेहतर होता है शिशु का मानसिक विकास? जानें प्रेगनेंसी में पढ़ने के फायदे

5. प्रेग्नेंसी में लो बीपी होने पर घरेलू उपाय अपनाएं (Home remedies to treat low BP during pregnancy)

प्रेग्नेंसी में आपका बीपी भी लो हो रहा है तो आप कुछ आसान घरेलू उपाय अपना सकते हैं जैसे आप सेब का मुरब्‍बा खाएं या रोजाना आंवले का सेवन करें। इसके अलावा आप रात को दूध के ग‍िलास में छुआरे डालकर पी सकती हैं, इसके अलावा आपको अदरक का सेवन करना चाहि‍ए। अदरक में आप नींबू का रस, सेंधा नमक डालकर खाएं तो लो बीपी की समस्‍या दूर हो जाएगी। अदरक के अलावा चुकंदर का रस पीना भी फायदेमंद होता है, आप एक हफ्ते में एक बार चुकंदर का रस प‍िएं तो आगे भी लो बीपी की समस्‍या नहीं होगी।

प्रेग्नेंसी की तीसरी त‍िमाही में लो बीपी की समस्‍या ज्‍यादा होती है, आपको समय-समय पर डॉक्‍टर से इसकी जांच करवाती रहनी चा‍ह‍िए, लो बीपी की समस्‍या से बचने के ल‍िए हेल्‍दी डाइट लें, डिहाइड्रेशन से बचें और चेकअप करवाते रहें।

main image source:hertsepp.com

Disclaimer