सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है कमल ककड़ी, जानें इसके फायदे और नुकसान

कमल ककड़ी के सेवन पाचन, पेट में अल्सर, डायबिटीज जैसी परेशानियों को कंट्रोल किया जा सकता है। आइए जानते हैं इसके फायदे और नुकसान के बारे में-

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jul 01, 2022Updated at: Jul 01, 2022
सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है कमल ककड़ी, जानें इसके फायदे और नुकसान

कमल ककड़ी  (Lotus Stem in Hindi) को काफी हेल्दी सब्जी  माना जाता है। ये कई तरह के पोषक तत्वों जैसे-  कार्बोहाइड्रेट्स, फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट्स इत्यादि का काफी अच्छा स्त्रोत माना जाता है, जो कई बीमारियों को दूर करने में प्रभावी हो  सकते हैं। पोषक तत्वों से भरपूर इस खाद्य पदार्थ को आहार में जोड़ने से आप कई तरह की बीमारियां जैसे- पेट में अल्सर, सूजन, डायबिटीज, गट हेल्थ  इत्यादि में सुधार कर सकते हैं।

100 ग्राम कमल ककड़ी में मौजूद पोषक तत्व (Hundred Grams of Cooked lotus Stem)

  • कैलोरी - 86 
  • प्रोटीन - 1.54
  • कार्बोहाइड्रेट - 15.5 ग्राम
  • कैल्शियम - 26 mg
  • मैग्नीशियम - 21 mg
  • पोटैशियम - 352 mg
  • फास्फोरस - 76 mg
  • आयरन - 0.87 mg

कमल ककड़ी के फायदे (Lotus Stem Health benefits)

कमक ककड़ी में फाइबर, आयरन, पोटैशियम जैसे कई जरूरी पोषक तत्व होते हैं, जो पाचन को दुरुस्त करने के साथ-साथ एलर्जी की परेशानियों को भी दूर कर  सकते  हैं। आइए विस्तार से जानते हैं इसके फायदों के बारे में-

इसे भी पढ़ें - Lotus Petal Powder: कमल की पंखुड़ियों से बनाएं ये खास पाउडर, बालों की कई समस्याएं दूर करने में है उपयोगी

लिवर को रखे सुरक्षित

कमल ककड़ी का सेवन करने से आप फैटी लिवर की परेशानी को दूर सकते हैं। दरअसल, कमल ककड़ी में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण सीरम एडिपोनेक्टिन (serum adiponectin) के स्तर को बढ़ा सकती हैं, जो लिवर को सुरक्षित रखने में असरदार होती हैं।

पेट के अल्सर से करे बचाव

पेट के अल्सर से बचाव करने में कमल ककड़ी का सेवन किया जा सकता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो गैस्ट्रोप्रोटेक्टिव प्रभाव को  बढ़ाते हैं, जिससे पेट के अल्सर में होने वाली परेशानी कम हो सकती है। 

सूजन करे कम

कमल ककड़ी में लिनोलिक एसिड होता है,  जो फैटी एसिड इंफ्लेमेटरी प्रतिक्रयाओं को कम करने में मददगार हो सकता है। साथ ही यह हेपेटाइटिस और ऑटोइम्यून बीमारियों जैसी - अर्थराइटिस, यूरिक एसिड की वजह से होने वाली सूजन को कम करने में आपकी मदद कर सकता है।

डायबिटीज करे कंट्रोल

कमल ककड़ी में डायबिटीज को कंट्रोल करने का गुण होता है। यह आपके शरीर में ब्लड शुगर को कंट्रोल कर सकता है। रिसर्च में देखा गया है कि कमल ककड़ी  से ग्लूकोज का स्तर कंट्रोल होता है। साथ ही यह इंसुलिन को बढ़ाने में प्रभावी हो सकता है। 

पाचन क्रिया और वजन करे कम

कमल ककड़ी में फाइबर भरपूर रूप से होता है, जो पाचन क्रिया को दुरुस्त कर सकता है। साथ ही पाचन क्रिया बेहतर होने से आपका मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता है। इससे वजन कंट्रोल करने में मदद मिलती है।  

एलर्जी का करे इलाज 

कमल ककड़ी के सेवन से एलर्जी की प्रतिक्रिया को कम किया जा सकता है। दरअसल, इसमें विटामिन सी और अन्य पॉलीफेनोलिक यौगिक होते हैं, जो सीरम हिस्टामाइन (कोशिकाओं द्वारा रिलीज किया गया एक ऐसा यौगिक जो एलर्जी प्रतिक्रियाओं को ट्रिगर करता है) के स्तर को कम करने में आपकी मदद कर  सकते हैं। 

कमल ककड़ी के नुकसान (Lotus Stem Side effects) 

कमल ककड़ी स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होती है। हालांकि, ध्यान रखें कि इससे कुछ लोगों को एलर्जी की समस्या हो सकती है। वहीं, अगर आप अधिक मात्रा में इसका सेवन करते हैं, तो इससे अपच, कब्ज जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। 

 कमल ककड़ी के सेवन से आप शरीर की कई  समस्याएं जैसे- मोटापा, खराब पाचन, डायबिटीज की परेशानियों को कंट्रोल कर सकते हैं। हालांकि, ध्यान रखें कि कुछ लोगों को इससे एलर्जी की परेशानी हो सकती है। ऐसे में डॉक्टर से तुरंत सलाह लें।

 

Disclaimer