Doctor Verified

लिवर सिरोसिस की बीमारी होते हैं ये 4 स्टेज, जानें इनके बारे में

Liver Cirrhosis Stages: लिवर सिरोसिस की बीमारी बेहद गंभीर और जानलेवा होती है, जानें इसके स्टेज के बारे में।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jul 15, 2022Updated at: Jul 15, 2022
लिवर सिरोसिस की बीमारी होते हैं ये 4 स्टेज, जानें इनके बारे में

Liver Cirrhosis Stages: लिवर शरीर के सबसे महत्वपूर्ण अंगों में से एक है। शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों और ब्लड को फिल्टर करने में लिवर की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। खानपान और जीवनशैली में गड़बड़ी के कारण लिवर से जुड़ी कई गंभीर बीमारियां हो सकती हैं। लिवर से जुड़ी एक क्रोनिक बीमारी है- लिवर सिरोसिस। लिवर सिरोसिस (Liver Cirrhosis in Hindi) की बीमारी में आपका लिवर ठीक से काम नहीं करता है और इसकी वजह से शरीर में कई गंभीर परेशानियां हो सकती हैं। लिवर में फैट जमा होने की समस्या जब लंबे समय तक बनी रहती है, तो इसकी वजह से लिवर डैमेज होने लगता है। लिवर डैमेज होने की स्थिति को लिवर सिरोसिस कहा जाता है। बाबू ईश्वर शरण हॉस्पिटल के जनरल फिजिशियन डॉ समीर के मुताबिक सही समय पर लिवर सिरोसिस के लक्षणों को पहचानकर इलाज लेने से इस स्थिति से निपटा जा सकता है। लिवर सिरोसिस की बीमारी के 4 स्टेज होते हैं, आइए विस्तार से जानते हैं इनके बारे में।

लिवर सिरोसिस के स्टेज- Liver Cirrhosis Stages in Hindi

लिवर सिरोसिस की बीमारी के 4 प्रमुख स्टेज होते हैं-

स्टेज 1.  स्टेटोसिस- Steatosis

लिवर सिरोसिस की बीमारी का पहला चरण स्टेटोसिस है। इस स्थिति में आपके लिवर में गंभीर सूजन हो सकती है। आपका शरीर जब संक्रमण या बीमारी होने पर इससे लड़ने की कोशिश करता है, इस स्थिति की वजह से सूजन होती है। लंबे समय तक सूजन बने रहने पर लिवर को गंभीर नुकसान हो सकता है। पहले स्टेज में सही समय पर इलाज लेने से बीमारी दूर हो सकती है।

Liver Cirrhosis Stages

इसे भी पढ़ें: लिवर में किन कारणों से होता है दर्द? जानें इसके लक्षण और बचाव के उपाय

स्टेज 2. फाइब्रोसिस- Fibrosis

लिवर सिरोसिस की बीमारी का दूसरा स्टेज फाइब्रोसिस होता है। लिवर में सूजन होने के कारण होने वाले नुकसान की वजह से इस स्टेज में लिवर में घाव भी हो जाता है। इसके साथ ही आपके शरीर का ब्लड सर्कुलेशन भी प्रभावित होता है। इस स्टेज में सिरोसिस पहुंचने पर आपका लिवर ठीक से काम नहीं करता है और इसकी वजह से डाइजेशन पर बुरा असर होता है।

स्टेज 3. सिरोसिस- Cirrhosis

लिवर सिरोसिस की बीमारी का तीसरा स्टेज सिरोसिस है। इस स्टेज में आपके लिवर में बीमारी पूरी तरह से फैल जाती है। तीसरे स्टेज में बीमारी पहुंचने के कारण लिवर की कोशिकाओं पर गंभीर असर पड़ता है और इसकी वजह से किशिकाओं पर निशान भी पड़ने लगते हैं। इसकी वजह से ब्लड सर्कुलेशन प्रभावित होता है और लिवर फेलियर की समस्या भी हो सकती है।

स्टेज 4. लिवर फेलियर- Liver Failure

लिवर की बीमारी का चौथा चरण लिवर फेलियर है। इसे सिरोसिस का आखिरी स्टेज माना जाता है। इस स्टेज में आपका लिवर पूरी तरह से काम करना बंद कर देता है। सही समय पर इलाज न होने से मरीज की मौत भी हो जाती है।

इसे भी पढ़ें: क्या है सिरोसिस? जानें इसे नेचुरल तरीके से ठीक करने के 6 उपाय

खाने-पीने की खराब आदत और लाइफस्टाइल से जुड़े कारणों की वजह से लिवर सिरोसिस की समस्या हो सकती है। लिवर सिरोसिस के लक्षण दिखने पर आपको तुरंत जांच करवाकर सही इलाज लेना चाहिए। सही समय पर इसका इलाज न होने पर मरीज की मौत भी हो जाती है। 

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer