किस एसेंशियल ऑयल में मिलाएं कौन सा कैरियर ऑयल? पेट दर्द, नींद, अनियमित पीरियड्स की समस्या पल में करें दूर

एसेंशियल तेल और कैरियर तेल के मिश्रण से शरीर को मिलने वाले फायदे के बारे में आपको पता होना जरूरी है। ये हर दर्द में असरदार है । पढ़ते हैं आगे...

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Oct 09, 2020Updated at: Oct 09, 2020
किस एसेंशियल ऑयल में मिलाएं कौन सा कैरियर ऑयल? पेट दर्द, नींद, अनियमित पीरियड्स की समस्या पल में करें दूर

फूलों की खुशबू हमेशा हमें अपनी तरफ आकर्षित करती है। वहीं मनमोहक खुशबू वाले एसेंशियल तेल त्वचा और ग्रंथियों के लिए बेहद लाभदायक होते हैं। इस लेख में आज हम आपको एसेंशियल तेल और कैरियर तेल के मिश्रण से शरीर को मिलने वाले फायदे के बारे में बता रहे हैं। अगर कोई व्यक्ति तनाव में है या उससे कोई परेशानी जैसे कि पेट दर्द, नकसीर फूटना, अनियमित पीरियड्स, नींद ना आना, आदि समस्या है तो ऐसे लोगों के लिए भी यह ऑइल्स काफी कारगर साबित हुए हैं बता दे अरोमा या एसेंशियल ऑइल्स को दो भागों में बांटा गया है फ्लोरल अरोमा और हर्बल अरोमा। फ्लोरल आयल पैसा के लिए काफी अच्छे होते हैं पर उनकी एक खास खूबी होती है यह आमतौर पर सुगंधित तेल होते हैं जो शरीर को ताजगी और ऊर्जा से भर देते हैं लंबे समय तक घर से बाहर होने के बाद अगर घर आने पर लैवेंडर ऑयल मिल जाए तो सारी थकान मिट जाती है आइए जानते हैं 

 aroma oils

एसेंशियल ऑयल का प्रयोग कैसे करें

बता दें कि एसेंशियल ऑइल्स का प्रयोग किसी भी दूसरे तेल या द्रव्य में घोलकर लगाया जा सकता है। इसका इस्तेमाल सीधे त्वचा पर नहीं किया जाता वरना इससे त्वचा को नुकसान पहुंच सकता है। जुसतेल में इन्हें मिलाया जाता है उसे कैरियर ऑयल कहा जाता है। और यह तेल जल्दी नहीं उड़ता है। साथ ही त्वचा में आसानी से अवशोषित भी हो जाता है। यह न केवल त्वचा का रूखापन खत्म करता है बल्कि ये ताजगी भी बनाए रखता है। बदाम के तेल और एलोवेरा जैसे कैरियर की अपनी कोई खुशबू नहीं होती है। इसलिए इसमें अरोमा ऑइल्स मिलाया जाता है।

पेट में दर्द 

अगर आपके पेट के ऊपरी भाग में दर्द हो रहा है तो उसके लिए आप तीन बूंद पिपरमिंट ऑयल, 2 बूंद क्लोवे ऑयल तथा एक बूंद यूकेलिप्टस वेजिटेबल ऑयल मिलाएं और मालिश करें। इससे दर्रद में लाभ होता है। यदि यह दर्द पेट के निचले हिस्से में है तो जिरेनियम ऑयल की दो बूंद, रोजमेरी तेल की दो बूंद, एक बूंद जिंजर ऑयल को मिक्स करें। अब उसमें एक चम्मच वेजिटेबल ऑयल डालकर दर्द वाले भाग पर हाथ से मालिश करें।

इसे भी पढ़ें- कोविड-19 के डर से सेल्‍फ-डायग्नोसिस के लिए सेल्‍फ-मेडिकेशन पड़ सकती है सेहत पर भारी 

अनियमित पीरियड्स 

अगर आपके पीरियड्स तय  समय से पहले या बाद में होते हैं तोआप 30 मिग्रा बेस ऑयल में 6 बूंद लेमन ऑयल, 10 बूंद क्लैरी सेज ऑयल, 9 बूंद जिरेनियम ऑयल, पांच बूंद इवनिंग प्रिमरोज ऑयल मिलाएं। अब बने तेल से अपने शरीर की मालिश करें। नहाने के पानी में भी इस मिश्रण का प्रयोग करें।

इसे भी पढ़ें- देशभर में 15 अक्टूबर से खुलेंगे सिनेमा घर, इन नियमों के साथ रखा जाएगा सुरक्षा का ख्याल

नींद ना आना 

नींद ना आना एक आम समस्या है। लेकिन इससे शरीर में अनेक बीमारियां उत्पन्न हो सकती हैं। ऐसे में शारीरिक व मानसिक तनाव को दूर करने के लिए आप नहाने के पानी में कुछ तेलों के प्रयोग से समस्या को दूर कर सकते हैं। 30 मिग्रा बेस ऑयल में पांच बूंद कैमोमाइल ऑयल, पांच बूंद मिजोरम ऑयल, 15 बूंद सैंडल वुड ऑयल तथा 5 बूंद क्लैरीसेज ऑयल मिलाकर मालिश करें। आराम मिलेगा।

Read Moare Articles on miscellaneous in Hindi

Disclaimer