न्यूट्रिशनिस्ट से जानें खसखस के फायदे और नुकसान

खसखस मे ंछिपे गुण सेहत को तंदुरुस्त बना सकते हैं। ऐसे में आपको इसके फायदे और नुकसान के बारे में पता होना चाहिए। 

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Dec 18, 2020Updated at: Dec 18, 2020
न्यूट्रिशनिस्ट से जानें खसखस के फायदे और नुकसान

हमारी रसोई में ऐसी चीज़ें मौजूद होती हैं जिनके चमत्कारों के बारे में हमें खुद पता नहीं होता। आज हम बात कर रहे हैं खसखस की। एक्पर्ट की मदद से हम आपको खसखस के फायदे और नुकसान दोनों के बारे में बताएंगे। खसखस को इंग्लिश में पॉपी सीड्स भी कहा जाता है। बता दें कि खसखस तीन रूपों में पाए जाते हैं नीला, सफेद और ओरिएंटल। सफेद खसखस का इस्तेमाल व्यंजनों में किया जाता है। वहीं नीले खसखस का ब्रेड या चॉकलेट आदि में और ओरिएंटल खसखस से अफीम निकलती है। तीनों के अलग-अलग कार्य हैं। आइए जानते हैं इसके फायदे और नुकसान...

poppy seeds

मानसिक तौर पर रखे स्वस्थ

बता दें कि खसखस के अंदर कॉपर, आयरन, कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। इसके सेवन से मस्तिष्क का विकास भली-भांति होता है। चूंकि इसके अंदर कैल्शियम भी पाया जाता है इसलिए यह दिमाग के न्यूरोनल फंक्शन को संतुलित करता है। साथ ही याद्दाश को तेज करता है। एक्सपर्ट दिमाग की कार्यप्रणाली में सुधार के लिए अपनी डाइट में खसखस को जोड़ने की सलाह देते हैं।

किडनी स्टोन को निकालने में मददगार

जो लोग पथरी की समस्या से जूझ रहे हैं उनके लिए खसखस काफी मददगार साबित हो सकता है। बता दें कि खसखस के अंदर ऑक्सलेट मौजूद होता है जो शरीर में कैल्शियम के स्तर को संतुलित करता है और किडनी को स्टोन से बचाता है। साथ ही ये जमे कैल्शियम को बाहर निकालता है।

थायराइड मरीजों के लिए खसखस है अच्छा

ध्यान दें कि खसखस के सेवन से थायराइड फंक्शन की सेहत में सुधार लाया जा सकता है। चूंकि इसके अंदर सेलेनियम पाया जाता है इसीलिए यह हाइपो थायराइड और हाइपर थायराइड से बचाता है।

आंखों के लिए अच्छा विकल्प

खसखस के अंदर जिंक पाया जाता है और जिंक के माध्यम से आंखों का रोग मैकुलर डिजेनेरेशन दूर होता है। ऐसे में खसखस के सेवन से आंखों की सेहत तंदुरुस्त बनती है।

हड्डियों को रखे स्वस्थ

बता दें कि खसखस के अंदर जिंक, कॉपर, कैल्शियम आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं, जिससे हड्डियों को मजबूती मिलती है। साथ ही उनका विकास भी होता है। ऐसे में हम कह सकते हैं कि हड्डियों की सेहत के लिए पॉपी सीड्स बेहद फायदेमंद है। एक्सपर्ट्स मानते हैं कि कैल्शियम और फास्फोरस दोनों ही हड्डियों के लिए बेहद जरूरी है। ऐसे में खसखस इन दोनों पोषक तत्व से मिलकर बना है इसलिए इसका सेवन हड्डियों को मजबूती दे सकता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाएं

बता दें कि हमारी इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत करने में खसखस अहम भूमिका निभाता है क्योंकि खसखस के अंदर आयरन और जिंक भरपूर मात्रा में पाया जाता है। ऐसे में आयरन के माध्यम से शरीर में ऑक्सीजन ले जाया जा सकता है और इम्यूनिटी सिस्टम में सुधार लाया जा सकता है। इसके अलावा कोशिकाओं के विकास के लिए जिंक बेहद महत्वपूर्ण है।

ऊर्जा का करे संचार

खसखस के अंदर कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है ऐसे में इसके सेवन से शरीर में ऊर्जा की कमी नहीं होती। एक्सपर्ट भी शरीर में ऊर्जा बनाए रखने के लिए खसखस लेने की सलाह देते हैं।

इसे भी पढ़ें-कब्ज से छुटकारा पाने के लिए खाएं ये 10 हाई फाइबर आहार, डाइटिशियन से जानें इन्हें खाने के 3 बड़े फायदे

सांस की समस्या को करे दूर

जैसा कि हमने पहले भी बताया कि खसखस के अंदर जिंक पाया जाता है। इसकी मदद से सांस नलिका में आई सूजन को दूर किया जा सकता है। यह साइटोप्रोटेक्टिव के रूप में भी कार्य करता है। ऐसे में अस्थमा के रोगियों के लिए खसखस बेहद उपयोगी है।

कब्ज को करें दूर

खसखस के प्रयोग से पेट की काफी समस्याओं को दूर किया जा सकता है। चूंकि खसखस के अंदर फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है इसकी मदद से पाचन क्रिया में सुधार आता है। बता दें कि फाइबर हमारे शरीर में स्टूल को मुलायम बनाता है, जिससे गंदगी को बाहर आसानी से निकाला जा सकता है।

त्वचा में चमक बनाए खसखस

बता दें कि खसखस का प्रयोग त्वचा के स्क्रब बनाने में भी किया जाता है। ऐसे में खसखस के बीजों को दही में मिलाएं और चेहरे और गर्दन पर लगाएं। पानी की मदद से स्क्रब की तरह रगड़ें, 10 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें। चेहरा साफ नजर आएगा। इसके अलावा अगर आप चेहरे की नमी बनाए रखना चाहते हैं तो खसखस की मदद से मॉस्चराइजर बनाया जा सकता है। इसके लिए आपको दूध और खसखस को मिलाना होगा और पेस्ट को ग्राइंड करने के बाद चेहरे पर 10 मिनट के लिए लगाना होगा। बाद में चेहरे को सादे पानी से धो लें चेहरे की खोई हुई नमी लौट आएगी।

इसे भी पढ़ें- Health Benefits of Jaggery: रोज गुड़ खाने के 10 फायदे बता रही हैं डायटीशियन Rujuta Diwekar

 

खसखस को कितने दिनों तक स्टोर करके रखा जा सकता है?

बता दें कि खसखस को 6 महीने तक घर पर रखा जा सकता है लेकिन खसखस को नमी से दूर रखें। साथ ही सूखी, अंधेरे और ठंडी जगह पर इसे रखने से यह खराब नहीं होता है।

खसखस को सेवन से नुकसान

बता दें कि किसी भी चीज की अति सही नहीं होती है। ऐसा ही खसखस के साथ भी है यदि खसखस की मात्रा ज्यादा ली जाए तो शरीर में एलर्जी, सुस्ती, थकान, कमजोरी, कब्ज आदि समस्याएं हो सकती हैं।  ऐसे में खसखस की मात्रा का पूरा ध्यान रखना बेहद जरूरी है।

खसखस बालों को रखे अच्छा

अगर किसी के बालों का विकास रुक जाए तो खसखस की मदद से बालों में नई जान डाली जा सकती है। बता दें कि खसखस के अंदर विटामिन ई भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जिससे बालों की अन्य समस्याओं को भी दूर किया जा सकता है। ऐसे में नारियल दूध और प्याज के रस के साथ दो चम्मच खसखस मिलाएं और इस पेस्ट को कुछ घंटों के लिए रख दें। उसके बाद अच्छे से मिलाकर बालों की जड़ों पर लगाएं। इस पेस्ट को लगाने के 1 घंटे बाद बालों को शैंपू से धो लें। अगर आप हफ्ते में दो या तीन बार इस प्रक्रिया को करते हैं तो नए बाल आने शुरू हो जाएंगे। वहीं अगर आप रूसी से परेशान हैं तो इसके अंदर विटामिन, मिनरल्स, प्रोटीन आदि भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जिससे रूसी को आसानी से दूर किया जा सकता है। ऐसे में खसखस के बीजों को भिगो दें, उसके बाद भीगे हुए बीजों में दही और आधा चम्मच सफेद मिर्च मिलाएं और आधे घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें। आधे घंटे बाद इस पेस्ट को जड़ों पर लगाएं। उसके बाद शैंपू  से धो लें। कुछ हफ्ते बाद परिणाम दिखने लगेंगे।

(ये लेख आकाश हेल्थकेयर की न्यूट्रिशनिस्ट अनुजा गौर से बातचीत पर आधारित है।)

Read More Articles on healthy diet in hindi

Disclaimer