Doctor Verified

क्‍या प्रेगनेंसी में स‍िट-अप्‍स करना सुरक्ष‍ित है? जानें डॉक्‍टर की राय

प्रेगनेंसी के दौरान स‍िट-अप्‍स करना सुरक्ष‍ित है या नहीं इस पर हम आगे इस लेख में चर्चा करेंगे 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 10, 2022Updated at: May 10, 2022
क्‍या प्रेगनेंसी में स‍िट-अप्‍स करना सुरक्ष‍ित है? जानें डॉक्‍टर की राय

प्रेगनेंसी के दौरान कई लोग स‍िट-अप्‍स एक्‍सरसाइज करने से मना करते हैं वही कई लोगों का मानना है क‍ि इसे करना फायदेमंद होता है ऐसे में आप आप भी अगर इस कंफ्यूजन में हैं क‍ि प्रेगनेंसी के दौरान स‍िट-अप्‍स करना चाह‍िए या नहीं तो हम आपको इस लेख के जरि‍ए बताएंगे क‍ि आपको प्रेगनेंसी में स‍िट-अप्‍स करना चाह‍िए या नहीं। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के झलकारीबाई अस्‍पताल की गाइनोकॉलोजि‍स्‍ट डॉ दीपा शर्मा से बात की।       

sit ups

क्या प्रेगनेंसी में सिट-अप्स कर सकते हैं? (Can I do sit ups during pregnancy)

पहली त‍िमाही में आप स‍िट-अप्‍स कर सकते हैं पर पहली त‍िमाही के बाद आपको दूसरी और तीसरी त‍िमाही में स‍िट-अप्‍स अवॉइड करना चाह‍िए। प्रेगनेंसी के शुरू के 4 महीनों में आप हल्‍की एक्‍सरसाइज कर सकते हैं। एक्‍सरसाइज करने से शारीर‍िक और मानस‍िक सेहत अच्‍छी रहती है।

इसे भी पढ़ें- प्रेग्नेंसी के दौरान नाभि में क्यों होती है खुजली? ऐसे करें बचाव

तीसरी त‍िमाही में स‍िट-अप्‍स करने से बचें (Avoid sit ups in third trimester)

आपको दूसरी और तीसरी त‍िमाही के दौरान स‍िट-अप्‍स करने से बचना चाह‍िए। स‍िट-अप्‍स करने के कारण प्रेगनेंसी के दौरान हार्न‍िया की समस्‍या हो सकती है। अगर आप एब्‍स को ज्‍यादा स्‍ट्रेच करेंगी तो परेशानी बढ़ सकती है। इस दौरान बच्‍चे का वजन बढ़ने लगता है और बच्‍चे का वजन, फीटस में ब्‍लड सप्‍लाई को रोक सकता है। पोषक तत्‍व और ऑक्‍सीजन की कमी हो सकती है और पोज‍िशन में आने के दौरान बैलेंस बि‍गड़ सकता है। 

स‍िट-अप्‍स करने से बच्‍चे के ऊपर दबाव नहीं पड़ता 

ये धारण बदल दें क‍ि स‍िट-अप्‍स करने से बच्‍चे के ऊपर दबाव पड़ता है। ये ब‍िल्‍कुल गलत है, असल में स‍िट-अप्‍स करने से बच्‍चे के ऊपर दबाव नहीं पड़ता। प्रेगनेंसी में सेफ ड‍िलीवरी के ल‍िए आप प्‍लैंक, बॉल वर्कआउट, ब्रीद‍िंग एक्‍सरसाइज आद‍ि कर सकते हैं। आप अपने रूटीन में अन्‍य हल्‍के वर्कआउट भी शाम‍िल कर सकते हैं।   

स‍िट-अप्‍स कब बंद करें? 

pregnancy and sit ups

  • स‍िट-अप्‍स के दौरान चक्‍कर आ रहे हैं तो तुरंत बंद कर दें।
  • आपको स‍िर में हल्‍का दर्द महसूस हो रहा हो तो आप तुरंत स‍िट-अप्‍स बंद कर दें।
  • आपके पेट में दर्द हो रहा है तो आप स‍िट-अप्‍स बंद कर दें।
  • वजाइना से ब्‍लीड‍िंग या क‍िसी तरह का ड‍िस्‍चार्ज हो रहा है तो आप स‍िट-अप्‍स बंद कर दें।    

सही ढंग से सिट-अप्स कैसे क‍िया जाता है? (How to do sit ups in a right manner)

स‍ि‍ट-अप्‍स को एब्‍डोम‍िनल क्रंचेस के नाम से भी जानते हैं। सही ढंग से स‍िट-अप्‍स करने के ल‍िए आप इन स्‍टेप्‍स को फॉलो करें- 

  • फर्श पर मैट लगा लें, अपने पीठ के बल लेट जाएं।
  • पैरों को घुटनों से मोड़ें और अपने तलवों को फर्श पर लगाएं।
  • हाथों को स‍िर के पीछे रखें और सांस छोड़ते हुए कमर तक के ह‍िस्‍से को उठाकर घुटनों की ओर ले जाएं।
  • सांस लेते हुए अपने शुरूआती पोज‍ीशन पर आ जाएं, इससे एक साइक‍िल पूरी होगी।
  • एक्‍सरसाइज को आप 10 र‍िप‍िटीशन के तीन सेट में कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- पेट की गर्मी को तुरंत करना है शांत, अपनाएं ये आसान से घरेलू उपाय

स‍िट-अप्‍स करने से पहले इन बातों का ध्‍यान रखें 

प्रेगनेंसी के दौरान स‍िट-अप्‍स करने से पहले इन बातों का ध्‍यान रखें-

  • आपको टाइट कपड़े नहीं पहनने चाह‍िए, इससे ब्‍लड सर्कुलेशन में रुकावट आती है या सांस लेने में तकलीफ हो सकती है।
  • तेज धूप में आप स‍िट-अप्‍स करने से बचें, आपको सेफ वातावरण में एक्‍सरसाइज करनी चाह‍िए।    
  • शारीरि‍क कमजोरी या मांसपेशि‍यों में दर्द से बचने के ल‍िए आप पानी की पर्याप्‍त मात्रा का सेवन करें। 
  • आपको एक सेट में 20 से ज्‍यादा र‍िपीटेशन करने से बचना चाह‍िए।
  • अगर आप थका हुआ महसूस कर रहे हैं तो स‍िट-अप्‍स करने से बचना चाह‍िए।

 प्रेगनेंसी की पहली त‍िमाही में आप स‍िट-अप्‍स कर सकती हैं पर दूसरी व तीसरी त‍िमाही से आपको इसे करना अवॉइड करना चाह‍िए। आप रेगुलर एक्‍सरसाइज कर सकती हैं या वॉक भी आपके ल‍िए एक हेल्‍दी व‍िकल्‍प है।   

Disclaimer