Expert

पेट को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी हैं ये 5 पोषक तत्व, जानें इनके स्रोत

Important Nutrients For Healthy Gut: पेट को स्वस्थ रखने के लिए आपके आहार में कुछ जरूरी पोषक तत्वों का होना जरूरी है, जानें पेट के लिए जरूरी पोषक तत्व।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Jul 13, 2022Updated at: Jul 13, 2022
पेट को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी हैं ये 5 पोषक तत्व, जानें इनके स्रोत

सेहतमंद रहने के लिए अपने पेट को स्वस्थ रखना बहुत जरूरी है। अगर आपका पेट स्वस्थ है, तो कई गंभीर रोग आपसे दूर रहते हैं। लेकिन हम में से ज्यादातर लोग आए दिन पेट से जुड़ी समस्याओं से परेशान रहते हैं, जिनमें पेट में गैस, ब्लोटिंग, अपच और कब्ज जैसी समस्याएं बहुत आम हैं। खराब पेट के लिए जंक फूड्स और प्रॉसेस्ड फूड्स का अधिक सेवन, गलत खानपान और जीवनशैली की कई खराब आदतें जिम्मेदार हो सकती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि भोजन में कुछ जरूरी पोषक तत्वों की कमी भी आपके खराब पेट का कारण बन सकती है? डायटीशियन मनप्रीत के अनुसार पेट को स्वस्थ रखने के लिए आपके आहार में कुछ पोषक तत्वों का होना बहुत जरूरी है। इस लेख में हम आपको ऐसे 5 पोषक तत्व बता रहे हैं, जो आपके पेट को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी हैं साथ ही जानेंगे कि ये किन फूड्स में मौजूद होते हैं।

पेट को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी पोषक तत्व- Important Nutrients For Healthy Gut In Hindi

1. सेलेनियम (Selenium)

सेलेनियम आंत की परतों को सुरक्षित रखने में मदद करता है और सूजन को कम करता है। इसलिए आपको अपने आहार में सेलेनियम रिच फूड्स को जरूर शामिल करना चाहिए। ब्राजील नट्स में सेलेनियम की अच्छी मात्रा होती है। आप अपने दिन की शुरुआत 1 ब्राजील नट से कर सकते हैं। अंडे, चिकन, मछली आदि में भी सेलेनियम भरपूर मात्रा में होता है।

Nutrients for healthy gut

इसे भी पढें: हाई ब्लड प्रेशर में आम खाना चाहिए या नहीं? जानें एक्सपर्ट से

2. आयरन (Iron)

आयरन आंत के कामकाज को बेहतर बनाने और आंत में हेल्दी बैक्टीरिया को बढ़ावा देने में मदद करता है। ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाने के लिए भी आयरन बहुत जरूरी है। आप अपनी दाल और करी में 1 छोटा चम्मच मोरिंगा पाउडर डाल सकते हैं इसमें आयरन की अच्छी मात्रा होती है। पालक, अनार, चुकंदर, अंडा आदि में आयरन भरपूर मात्रा में होता है।

3. विटामिन डी (Vitamin D)

विटामिन डी इम्यूनिटी को मजबूत बनाने में मदद करने के साथ ही इंटेस्टाइनल बैरियर इंटीग्रिटी (intestinal barrier integrity) को रेगुलेट करने में भी मदद करता है। धूप विटामिन डी का बेहतरीन स्रोत है। कोशिश करें कि सुबह 9 से 11 बजे तक कम से कम 10-15 मिनट के लिए धूप में समय जरूर बिताएं। फोर्टिफाइड डेयरी प्रोडक्ट्स और अंडे में भी विटामिन डी प्रचुर मात्रा में होता है।

4. जिंक (Zinc)

जिंक पाचन एंजाइमों के उत्पादन को बेहतर बनाने में मदद करता है। तिल, पनीर, बाजरा, काला चना, काजू, मशरूम आदि में जिंक की अच्छी मात्रा होता है। आप चाहें तो शाम के समय आप काजू की स्मूदी बनाकर भी पी सकते हैं।

इसे भी पढें: रात में खजूर खाने से सेहत को मिलते हैं ये 5 फायदे

5. विटामिन सी (Vitamin C)

विटामिन सी इंटेस्टाइनल बैरियर फंक्शन को बेहतर बनाने में मदद करता है। आंवला, अमरूद, नींबू, संतरा, मौसमी, स्ट्रॉबेरी, ब्रोकली आदि विटामिन सी के अच्छे स्रोत हैं। आप दोपहर के भोजन के साथ आंवले की चटनी के सेवन भी कर सकते हैं।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer