पहले हार्ट अटैक के बाद रखें डॉक्टर की बताई इन 6 बातों का ख्याल, कम होगी दूसरे अटैक की आशंका

हार्ट अटैक के बाद रिकवरी के समय व्यक्ति को कुछ चीजों का ख्याल रखना बेहद जरूरी है। गलत आदतें फिर से इस परिस्थिति का सामना करा सकती हैं।

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Sep 24, 2021
पहले हार्ट अटैक के बाद रखें डॉक्टर की बताई इन 6 बातों का ख्याल, कम होगी दूसरे अटैक की आशंका

जब किसी व्यक्ति को पहली बार हार्ट अटैक आता है तो उससे उबरने के बाद वो ज्यादा चिंतित और घबराया हुआ महसूस करता है। ऐसे व्यक्ति के मन में कई ऐसे प्रश्न आते हैं कि आखिर वो ऐसी कौन-सी चीजें कर रहे हैं, जिसके कारण उसे हार्ट अटैक आया और इसी सोच के कारण वे ज्यादा तनाव और चिंता में रहते हैं। लेकिन जिस व्यक्ति को एक बार हार्ट अटैक आया है तो उसे पता होना चाहिए कि उसे अब किन चीजों को ध्यान रखना जरूरी है। आज हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपके अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि पहले हार्ट अटैक के बाद व्यक्ति को किन चीजों का ख्याल रखना चाहिए। इसके लिए हमने न्यूट्रिशनिस्ट और वैलनेस एक्सपर्ट वरुण कत्याल (Nutritionist and wellness expert varun katyal) से भी बात की है। पढ़ते हैं आगे... 

 

1 - सोडियम से दूरी

हार्ट अटैक से वो लोग ज्यादा पीड़ित रहते हैं जो नमक का सेवन ज्यादा मात्रा में करते हैं। स्वस्थ व्यक्ति को नमक का सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए। वहीं अगर जो व्यक्ति पहले से ही एक दिल के दौरे का सामना कर चुका है वे अपनी डाइट में सोडियम को जोड़ने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें। ध्यान दें कि WHO- World Health Organization यानि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक स्वस्थ व्यक्ति को 5 ग्राम नमक का सेवन करने की सलाह दी है। WHO की रिपोर्ट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें। 

2 - शारीरिक गतिविधियों को जोड़ें

हार्ट अटैक के बाद हर वक्त आराम करना और अपनी दिनचर्या में शारीरिक गतिविधियों की कमी करना सही नहीं है। ऐसा करने से व्यक्ति दिल की और नई समस्याओं का सामना कर सकता है। ऐसे में व्यक्ति रिकवरी के बाद हल्की-फुल्की एक्सरसाइज़, लाइट व्यायाम, वॉक करना, साइकिल चलाना, तैराकी करना आदि चीजों को अपनी दिनचर्या मे जोड़ सकता है।

3 - ना बढ़े मोटापा

हार्ट अटैक के बाद वजन का खास ख्याल रखना जरूरी है। बता दें कि वजन बढ़ने से व्यक्ति को बीपी, कोलेस्ट्रॉल, दिल की परेशानी आदि समस्याएं हो सकती हैं। एक स्वस्थ व्‍यक्ति का बॉडी मॉस इंडेक्‍स (बीएमआई), 18.5 और 24.9 के बीच होना चाहिए। ऐसे में व्यक्ति हार्ट अटैक के बाद अपने वेट को ना बढ़ने दें।

इसे भी पढ़ें- हार्ट अटैक के बाद डॉक्टर देते हैं बाईपास सर्जरी या एंजियोप्लास्टी करवाने की सलाह, जानें दोनों में अंतर

4 - काम में रहें व्यस्त

हार्ट अटैक के बाद आपके काम पर वापिस जाने से पहले इस बात पर ध्यान दें कि क्या आप नौकरी के प्रेशर और तनावपूर्ण मौहाल को झेल सकते हैं। अगर नहीं तो हो सकता है कि आपको अपने काम करने के तरीके में कुछ बदलाव करने पड़ सकते हैं। नौकरी पर जल्दी लौटने से आप अपना ध्यान किसी और चीज पर लगा सकते हैं लेकिन अगर आपका दिल स्वस्थ नहीं है, तो आप थोड़े समय के लिए नौकरी बदल लें।

5 - हार्ट अटैक के बाद गाड़ी चलाना

दिल के दौरे के बाद लोग एक हफ्ते के बाद फिर से गाड़ी चला सकते हैं। लेकिन उससे पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। वहीं अगर आपको दिल से संबंधित समस्याएं हो रही हैं तो उस दौरान ड्राइव नहीं करनै चाहिए।  

इसे भी पढ़ें- World Heart Day 2021: खान-पान की गलत आदतें, जो आपको बनाती हैं आपको दिल (हार्ट) की बीमारियों का शिकार

6 - शक्‍कर, पेस्‍ट्री, मिठाई का सेवन

हार्ट अटैक के बाद अपनी डाइट से चॉकलेट, शक्‍कर, पेस्‍ट्री, मिठाई आदि को बाहर निकाल दें। इनका सेवन शरीर में कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर बढ़ा सकता है। साथ ही इन सबके ज्यादा मात्रा में सेवन करने से खून में कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है, जो जान के लिए भी खतरनाक हो सकता है। इसी के कारण रक्‍त के थक्‍के या रक्‍त में गाढ़ापन आता है। ऐसे में जो व्यक्ति पहले से दिल के दौरे से उबर रहा है तो वो ऐसे समय में पेस्‍ट्री, मिठाई, शक्कर, पेस्ट्री आदि का सेवन ना करें।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि पहली बार दिल के दौरे के बाद रिकवरी के समय व्यक्ति को कुछ चीजों का बेहद ख्याल रखना चाहिए वरना और और दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

इस लेख में फोटोज़ shutterstock और freepik से ली गई हैं। 

Read More Articles on Heart Health in Hindi

Disclaimer