पराठों के शौकीन हैं तो जानें कैसे बनाएं कम कैलोरी वाले हेल्दी और स्वादिष्ट पराठे, जो सेहत पर न पड़ें भारी

आप भी पराठे खाने के शौकीन हैं तो इन्‍हें हेल्‍दी तरीके से बनाने का तरीका जान लें ज‍िससे आपकी सेहत पर असर न पड़े 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Sep 16, 2021
पराठों के शौकीन हैं तो जानें कैसे बनाएं कम कैलोरी वाले हेल्दी और स्वादिष्ट पराठे, जो सेहत पर न पड़ें भारी

पराठा खाने में बेहद स्‍वाद‍िष्‍ट होता है, आप इसे हेल्‍दी ट‍िवस्‍ट देकर टेस्‍टी बना सकते हैं। कुछ लोग पराठे को टेस्‍टी बनाने के चक्‍कर में कैलोरीज बढ़ा देते हैं। आपको पराठे को बनाते समय इस बात का ध्‍यान रखना है क‍ि ऐसी चीजों को इस्‍तेमाल हो ज‍िससे आपका वजन न बढ़े। पराठे को हेल्‍दी कैसे बनाएं? पराठे को हेल्‍दी बनाने के ल‍िए आप उसको इंग्रीड‍िएंट्स को ह‍िस्‍सों में ड‍िवाइड करके उनमें हेल्‍दी ऑप्‍शन डालें। जैसे पराठे को बनाने के ल‍िए इस्‍तेमाल किया गया आटा, तेल, स्‍टफ‍िंग में हेल्‍दी ऑप्‍शन ढूंढें। इससे पराठे का टेस्‍ट को बरकरार रहेगा ही साथ ही पराठा हेल्‍दी बनेगा। जो लोग वजन कम करना चाहते हैं उन्‍हें इस लेख में एक्‍सपर्ट द्वारा बताई बातों पर गौर करना चाह‍िए ताक‍ि पराठे को खाने से उनका वजन न बढ़े। इस लेख में हम पराठे को हेल्‍दी बनाने के तरीकों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के वेलनेस डाइट क्‍लीन‍िक की डाइटीश‍ियन डॉ स्‍म‍िता सिंह से बात की।

healthy paratha tips

(image source:indiatimes.com)

हेल्‍दी पराठे के ल‍िए क‍िस आटे का इस्‍तेमाल करें? (How to choose flour to make healthy paratha)

आप गेहूं के आटे की जगह कुट्टू आटे (kuttu atta) का पराठा बनाकर खा सकते हैं। कुट्टू का आटा ग्‍लूटन फ्री होता है, उसमें फाइबर, प्रोटीन, मैग्‍न‍िश‍ियम, आयरन की अच्‍छी मात्रा होती है। आप मल्‍टीग्रेन पराठा बनाकर भी खा सकते हैं। कई आटों को एक साथ म‍िलाकर पराठा बनाएंगे तो वो ज्‍यादा हेल्‍दी होगा। आप मल्‍टीग्रेन आटे में होल वीट आटा, ज्‍वार का आटा, रागी का आटा और बाजरे का आटा म‍िलाकर उसे गूंथकर पराठे बना सकते हैं। अगर मल्‍टीग्रेन आटा नहीं खाना चाहते तो स‍िर्फ होल ग्रेन आटा गूंथकर भी पराठा बना सकते हैं। राजग‍िरे के आटे में भी कैल्‍श‍ियम की अच्‍छी मात्रा होती है आप इस आटे से भी हेल्‍दी पराठे बना सकते हैं। आपको पराठा बनाने के ल‍िए ताजे आटे का ही इस्‍तेमाल करना चाह‍िए।

इसे भी पढ़ें- सेहत की थाली: 1 प्लेट वेज कबाब पराठा खाने से आपको क्या फायदे-नुकसान होंगे? जानें कैलोरीज, पोषक तत्व और रेसिपी

भरवा पराठे की कैलोरीज कैसे कम करें? (How to reduce calories of stuffed paratha)

अगर आप स्‍टफ्ड या भरवा पराठे खाना पसंद करते हैं तो उनकी कैलोरीज को न सिर्फ कम बल्‍क‍ि हेल्‍दी बनाया जा सकता है। सबसे पहले तो आपको ये ध्‍यान रखना है क‍ि आप पराठे की स्‍टफ‍िंग बनाने के ल‍िए ताजी सब्‍ज‍ी या सामग्री का इस्‍तेमाल करें। स्‍टफ‍िंग की कैलोरीज कम करने का आसान तरीका है क‍ि आप उसे फ्राय न करें, इससे आप काफी कैलोरीज कम कर लेंगी, सब्‍जि‍यों को गैस पर बर्तन में ढककर या माइक्रोवेव में बेक कर सकते हैं। हेल्‍दी स्‍टफ‍िंग की बात करें तो आप आलू की जगह पनीर, दाल, गोभी के पराठे बना सकते हैं। ये पराठे खाने में तो टेस्‍टी होते ही हैं साथ ही इनमें ज्‍यादा कैलोरीज भी नहीं होती। पराठे की स्‍टफ‍िंग बनाने के ल‍िए आप मसालों का कम से कम यूज करें, मसाले ज‍ितने कम होंगे पराठे उतने ही हेल्‍दी बनेंगे।

पराठे की स्‍टफ‍िंग के ल‍िए चुनें हेल्‍दी सब्‍ज‍ियां (Choose healthy vegetables for stuffing)

healthy paratha

(image source:healthyvegrecipes.com)

  • पराठे की स्‍टफिंग बनाने के ल‍िए आप हेल्‍दी सब्‍ज‍ियों का इस्‍तेमाल करें। आप आलू की जगह मशरूम का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं।
  • मशरूम में प्रोटीन, व‍िटामि‍न बी कॉम्‍प्‍लेक्‍स, डायट्री फाइबर, की अच्‍छी मात्रा होती है आपको इसे ज्‍यादा कुक करने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी।
  • आप मशरूम को अन्‍य हरी सब्‍ज‍ियों के साथ स्‍टफ करके पराठे बना सकते हैं। 
  • इसी तरह आप पराठे की स्‍टफ‍िंग बनाने के ल‍िए गोभी, कॉर्न, श‍िमलाम‍िर्च, बीन्‍स, मटर का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। 
  • आप पराठे की स्‍टफ‍िंग बनाने के ल‍िए चुकंदर का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं। 

पराठे में तेल की मात्रा कैसे कम करें? (How to reduce oil in paratha)

पराठा तेल लगने के कारण रोटी से ज्‍यादा कैलोरी में बनता है। ज्‍यादातर लोग पराठे बनाने के ल‍िए गलत तेल का इस्‍तेमाल करते हैं जो आगे चलकर मोटापे का कारण बनता है। सबसे पहले तो आपको पराठा बनाने के ल‍िए चमचा भरकर तेल का इस्‍तेमाल नहीं करना है, केवल कुछ बूंद ही एक पराठे के ल‍िए काफी है। इसके साथ ही आपको चमचे से पराठे में तेल लगाने के बजाय स‍िल‍िकॉन ब्रश से तेल को पराठे पर लगाना चाह‍िए। पराठे को बनाने के ल‍िए आप पहले से इस्‍तेमाल क‍िए तेल का यूज न करें, इससे पराठा हेल्‍दी नहीं रहेगा।

हेल्‍दी पराठे बनाने के ल‍िए क‍िस तेल का इस्‍तेमाल करें? (Which oil you should use to make paratha)

आप पराठे बनाने के ल‍िए सोयाब‍ीन ऑयल की जगह ऑल‍िव ऑयल या कोकोनट ऑयल का इस्‍तेमाल करें। हार्ट के मरीज हैं या अन्‍य हेल्‍दी ऑप्‍शन देख रहे हैं तो कनोला ऑयल (Canola oil) या त‍िल का ऑयल (sesame oil) भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं। ये दोनों ऑयल हॉर्ट के ल‍िए अच्‍छे माने जाते हैं। कैलोरी कम करने का एक अच्‍छा तरीका ये भी है क‍ि आप ब‍िना तेल के पराठा बनाएं ओर ऊपर से हल्‍का घा लगा दें। अगर इस तरीके से पराठा बना रहे हैं तो पराठे को हल्‍की आंच में पकाएं। घी में ओमेगा 3 फैटी एस‍िड होता है जो हार्ट हेल्‍थ और वेट लॉस के ल‍िए फायदेमंद माना जाता है।

इसे भी पढ़ें- हेल्‍दी और टेस्‍टी होते हैं मूली के पराठे, लेकिन ये 4 काम करने से पहले कभी न करें इनका सेवन

पराठे में क‍ितनी कैलोरीज होती हैं? (Calories in paratha)

अगर आप दाल का पराठा बनाते हैं तो उसमें करीब 170 कैलोरीज होती हैं वहीं म‍िक्‍स वेज पराठे में 180 कैलोरीज होती हैं, मूली के पराठे में 120 कैलोरीज होती हैं, गोभी के पराठे में करीब 180 कैलोरीज होती हैं वहीं आलू के पराठे में सबसे ज्‍यादा कैलोरीज यानी करीब 230 कैलोरीज होती हैं। अगर आप फ‍िट रहने की कोश‍िश कर रहे हैं तो भरवां पराठे की जगह सादा पराठा ही खाएं। सादे पराठे में स्‍टफ्ड पराठे के मुकाबले कम कैलोरीज होती हैं। सादे पराठे में करीब 90 कैलोरीज होती हैं। इसमें कॉर्ब्स की मात्रा करीब 55 होती है, प्रोटीन 10 प्रत‍िशत होता है और बाक‍ि बचा ह‍िस्‍सा फैट होता है। वहीं पंजाबी पराठे की बात करें तो उसमें करीब 130 कैलोरीज होती हैं। अगर आप वजन कम करने के बारे में सोच रहे हैं तो पराठों को हेल्‍दी तरीके से कुक करें। पराठे बनाने के ल‍िए आप ताजी और मौसमी सब्‍ज‍ियों का चुनाव करें।

पराठा खाकर वजन कम करना मुमक‍िन नहीं है आप केवल उसे हेल्‍दी तरीके से कुक करके पराठे की कैलोरीज कम सकते हैं। 

(main image source:madhuseverydayindian.com)

Read more on Healthy Diet in Hindi 

Disclaimer