Doctor Verified

महिलाओं में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन की कमी होने पर दिखते हैं ये 3 संकेत, जानें इसे बढ़ाने के 6 उपाय

महिलाओं को स्वस्थ रहने के लिए उनके शरीर में प्रोजेस्टेरोन लेवल का अच्छा होना जरूरी होता है। आप कुछ उपायों के मदद से कम प्रोजेस्टेरोन को ठीक कर सकती है

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Feb 13, 2022Updated at: Feb 13, 2022
महिलाओं में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन की कमी होने पर दिखते हैं ये 3 संकेत, जानें इसे बढ़ाने के 6 उपाय

how to increase progesterone naturally: प्रोजेस्टेरोन हार्मोन महिलाओं और पुरुषों दोनों में ही होता है। प्रोजेस्टेरोन हार्मोन महिलाओं की प्रेगनेंसी, मेनोपोज के साथ ही उनकी सेहत से भी जुड़ा होता है। कंसीव करने के लिए महिलाओं के शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का स्तर सही होना जरूरी होता है। शरीर में कम प्रोजेस्टेरोन इनफर्टिलिटी का कारण बन सकता है। अगर आपके शरीर में भी प्रोजेस्टेरोन कम है, तो इसे ठीक करने के लिए आप कुछ उपाय आजमा सकती हैं। मणिपाल अस्पताल हेब्बल की सलाहकार-प्रसूति एवं स्त्री रोग डॉक्टर विजया (Dr. Vijaya Sherbet Consultant - Obstetrics and Gynecology, Manipal Hospital Hebbal) से जानें प्रोजेस्टेरोन बढ़ाने के उपाय-

क्या है प्रोजेस्टेरोन (what is Progesterone)

महिलाओं की प्रजनन प्रणाली में दो हार्मोन होते हैं। इसमें प्रोजेस्टेरोन और एस्ट्रोजन हार्मोन शामिल होता है। प्रोजेस्टेरोन हार्मोन प्रेनगेंसी के लिए गर्भाशय या यूटरस को तैयार करता है। इसके अलावा प्रोजेस्टेरोन हार्मोन मासिक धर्म चक्र को भी नियंत्रित करता है। मासिक धर्म होने की स्थिति में प्रोजेस्टेरोन का स्तर गिर जाता है। अगर आप गर्भावस्था चाहती हैं, तो इसका संतुलन में होना जरूरी होता है। 

प्रोजेस्टेरोन हार्मोन की कमी होने पर दिखते हैं ये संकेत

  • 1.मिसकैरेज और इनफर्टिलिटी
  • 2.अनियमित मासिक धर्म
  • 3.एब्नार्मल यूटराइन ब्लीडिंग

प्रोजेस्टेरोन हार्मोन को बढ़ाने के उपाय ( how to increase progesterone naturally)

प्रोजेस्टेरोन हार्मोन की कमी होने पर अधिकतर महिलाएं दवाइयों का सेवन करती हैं, यह जरूरी भी है। लेकिन आप चाहें तो प्राकृतिक तरीके से भी प्रोजेस्टेरोन को बढ़ा सकती हैं।

1. हेल्दी फैट डाइट लें

प्रोजेस्टेरोन का लेवल बढ़ाने के लिए हेल्टी फैट (Healthy fat) डाइट जरूरी होती है। दरअसल,  प्रोजेस्टेरोन को कोलेस्ट्रॉल के रूप में फैट की जरूरत होती है। अगर आप हेल्दी फैट लेती हैं, तो इससे प्रोजेस्टेरोन का स्तर बढ़ेगा। इसके लिए आप फैटी फिश, नारियल तेल को अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं।

mg diet

2. मैग्नीशियम है जरूरी

महिलाओं में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन को बढ़ाने के लिए मैग्नीशियम भी जरूरी होता है। इसके लिए आप अपनी डाइट में पालक, साबुत अनाज और ड्राय फूट्स शामिल कर सकते हैं। इनमें भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम होता है।

इसे भी पढ़ें - महिलाओं में हार्मोनल बदलावों के कारण हो सकती हैं ये 5 यौन समस्याएं, डॉक्टर से जानें इनके बारे में

3. जिंक से बढ़ाएं प्रोजेस्टेरोन

प्रोजेस्टेरोन हार्मोन को संतुलन में रखने के लिए जिंक भी जरूरी होता है। जिंक फर्टिलिटी बढ़ाने सहायक होता है। दरअसल, यह फॉलिकल स्टिमुलेटिंग हार्मोन रिलीज करता है। जिंक प्राप्त करने के लिए आप तिल, बाजर, पनीर, काला चना, डार्क चॉकलेट और मशरूम का सेवन कर सकते हैं।

4. एस्ट्रोजन बढ़ाने वाले फूड्स न लें 

महिलाओं के शरीर में दो हार्मोन होते हैं प्रोजेस्टेरोन और एस्ट्रोजन। फर्टिलिटी को मजबूत रखने के लिए इन दोनों हार्मोन के बीच संतुलन होना जरूरी होता है। दरअसल, जब एक हार्मोन बढ़ता है, तो दूसरा गिरने लगता है। ऐसे में अगर आप प्रोजेस्टेरोन हार्मोन बढ़ाना चाहती हैं, तो एस्ट्रोजन बढ़ाने वाले फूड्स का सेवन न करें। इस दौरान आपको गाजर, ऑलिव ऑयल और सोया प्रोडक्ट्स से दूरी बनाकर रखना होगा। 

food

5. विटामिन सी से बढ़ाए प्रोजेस्टेरोन

महिलाओं में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन, फर्टिलिटी बढ़ाने के लिए विटामिन सी भी अहम होता है। विटामिन सी ओवुलेशन में मदद करता है। इसके लिए आप अपनी डाइट में खट्टे फल जैसे संतरा, अगूंर, कीवी और नींबू को शामिल कर सकती हैं। इसके अलावा ब्रोकली और हरी पत्तेदार सब्जियों में भी विटामिन सी होता है। 

6.विटामिन ई भी डाइट में करें शामिल

विटामिन ई त्वचा और बालों के साथ ही सेहत के लिए भी जरूरी होता है। महिलाओं के लिए विटामिन ई की अहम भूमिका होती है। विटामिन ई अच्छी क्वालिटा का एग बनाने में मदद करता है। इसके लिए आप अपनी डाइट में सूखे मेवे, सूरजमुखी के बीज, मूंगफली, बादाम और सोयाबीन ऑयल शामिल कर सकती हैं।

इसे भी पढ़ें - स्तनों के साइज में अंतर: दोनों ब्रेस्ट क्यों होते हैं एक-दूसरे से अलग? जानें इसके 6 कारण

अगर आप भी तमाम कोशिशों के बाद कंसीव नहीं कर पा रही हैं या फिर आपको प्रोजेस्टेरोन की कमी के संकेत नजर आ रहे हैं, तो डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

Disclaimer