Doctor Verified

दिनभर टेंशन से घिरे रहते हैं आप? जानें मन को शांत करने के 5 तरीके और फायदे

द‍िन भर टेंशन में रहते हैं तो ये लेख आपके ल‍िए है, इस लेख के जर‍िए आप 5 आसान तरीके जान लें ज‍िससे आप बेहतर लाइफ जी सकते हैं

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Dec 09, 2021 17:32 IST
दिनभर टेंशन से घिरे रहते हैं आप? जानें मन को शांत करने के 5 तरीके और फायदे

आज की व्‍यस्‍त द‍िनचर्या में खुद के लि‍ए समय न‍िकालना मुश्‍क‍िल हो गया है ज‍िसके कारण स्‍ट्रेस और बीमार‍ियां बढ़ती जा रही हैं। इस बीच वीकेंड और त्‍यौहार अच्‍छा समय है खुद के ल‍िए समय न‍िकालने का। आप इस दौरान काम की चिंता छोड़ अपने ल‍िए समय न‍िकाल सकते हैं। मन को शांत रखने से आप अपने काम या लक्ष्‍य को बेहतर ढंग से हास‍िल कर पाते हैं। इस लेख में हम जानेंगे क‍ि आप लाइफ से स्‍ट्रेस को कैसे कम कर सकते हैं और मन को शांत रखकर अच्‍छी लाइफ जी सकते हैं। इस वि‍षय पर बेहतर जानकारी के लि‍ए हमने लखनऊ के बोधिट्री इंडिया सेंटर की काउन्‍सलिंग साइकोलॉज‍िस्‍ट डॉ नेहा आनंद से बात की।

close to nature

image source:global.website

1. प्रकृत‍ि के करीब रहने के फायदे (Stay close to nature)

कंकरीट से बनी इमारतों के बीच लोग नेचर को भूलते जा रहे हैं। घरों में आंगन, बगीचे गायब से हो गए हैं पर आपको बता दें क‍ि प्राकृत‍िक चीजों के करीब रहकर भी अपने मन को शांत और स्‍ट्रेस का स्‍तर कम कर सकते हैं। आपके शहर में नदी का क‍िनारा या समुद्र है तो सुबह या शाम के समय वहां वॉक के ल‍िए जाएं वहीं घर में प्‍लांट या पेड़ जरूर लगाएं, आप फ्लैट में रहते हैं तो बालकनी में ही ग्रीन स्‍पेस बनाएं ताक‍ि आप प्रकृत‍ि के करीब रह सकें। 

इसे भी पढ़ें- हर छोटी बात पर होती है आपको टेंशन? आपके बॉडी में इन 4 विटामिन्स की हो सकती है कमी

2. फाइबर र‍िच डाइट लें (Fiber rich diet)

मन को शांत रखने और स्‍ट्रेस को दूर रखने के ल‍िए ताजे फल और सब्‍ज‍ियों का सेवन हर द‍िन करें। ताजे फल और सब्‍ज‍ियों को एंटी-ऑक्‍सीडेंट्स मौजूद होते हैं ज‍िससे आपके शरीर को जरूरी न्‍यूट्र‍िएंट्स म‍िलते हैं और मानस‍िक व शारीर‍िक तौर पर आप हेल्‍दी महसूस करते हैं। स्‍ट्रेस कम करने के लि‍ए डाइट का बड़ा महत्‍व है। आप मेंटल टेंशन से गुजर रहे हैं तो एक बार डायटीश‍ियन से म‍िलकर अपनी डाइट तय करें, आपकी प्‍लेट के 70 प्रत‍िशत ह‍िस्‍से में हरी सब्‍जी और फलों को शाम‍िल करें।

3. आगे की सोचने से बचें (Avoid thinking ahead)

आज के समय में ओवरथ‍िकिंग के नुकसान पहले से बढ़ गए हैं। टेक्‍नोलॉजी और सोचने का नजर‍िया तेजी से बदल रहा है ऐसे में इंसान दूसरों के कदम से कदम म‍िलाने के ल‍िए आगे आने वाली चुनौत‍ियों की प्‍लान‍िंग पहले से करके चलता है पर आपको ओवरथ‍िक‍िंग से बचना है। ज्‍यादा सोचने से भी मन अशांत होता है और तनाव बढ़ता है। ज्‍यादा सोचने से बचने के ल‍िए आप नींद के समय मोबाइल, इलेक्‍ट्रोन‍िक गैजेट्स को दूर रखें, ज्‍यादा देर जगे न रहें और खुद को प्रोडक्‍टिव चीजों में व्‍यस्‍त रखें ताक‍ि आप खाली समय में ज्‍यादा न सोचें।

4. अपनी हॉबी के ल‍िए समय न‍िकालें (Follow your hobby)

painting

image source:creativeboom 

द‍िन भर टेंशन में रहते हैं तो अपनी हॉबी के ल‍िए समय न‍िकालें। रोजाना के रूटीन में एक ऐसी एक्‍टिव‍िटी को समय दें ज‍िससे आपको खुशी म‍िले। साइकोलॉज‍िस्‍ट ये मानते हैं क‍ि जो लोग अपनी हॉबी के ल‍िए समय न‍िकाल पाते हैं उनकी लाइफ में कम स्‍ट्रेस होता है। आपको गाने सुनने का शौक हो या पेंट‍िंग करना पसंद हो खुद के साथ क‍िसी न क‍िसी बहाने से समय ब‍िताना जरूरी है।

5. दूसरों की मदद करने के फायदे (Helping others)

अगर आप द‍िन भर टेंशन में घ‍िरे रहते हैं और स्‍ट्रेस से बाहर न‍िकलना चाहते हैं तो आप दूसरों की मदद करें। दूसरों की मदद करने से न स‍िर्फ उनकी मदद होती है बल्‍क‍ि आपका स्‍ट्रेस भी कम होता है। कई साइकोलॉज‍िस्‍ट इस बात को मानते हैं क‍ि दूसरों की मदद करने से मदद करने वाले को भी खुशी होती है। आप क‍िसी जरूरत व्‍यक्‍त‍ि या जानवर की मदद के लि‍ए समय न‍िकालें, चाहें तो क‍िसी एनजीओ से जुड़ सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- रोज सुबह उठते ही करें 'वेकिंग रेस्ट' की प्रैक्टिस,जानें आपको दिनभर तनाव मुक्त रखने में ये तकनीक कैसे है मददगार

मन को शांत रखने के फायदे (Benefits of a peaceful mind)

  • लक्ष्‍य हास‍िल करने के ल‍िए मन का शांत होना जरूरी है। 
  • मन शांत रहने से फोकस बढ़ता है। 
  • मन शांत रहने से आप दुख या स्‍ट्रेस से जल्‍दी उबर पाते हैं। 
  • मन शांत रहने से पॉज‍िट‍िव‍िटी के करीब रहते हैं। 
  • मन शांत रहन से आप अपने द‍िन को ज्‍यादा प्रोडक्‍ट‍िव बना सकते हैं। 
  • मन शांत रहेगा तो आपकी कार्य क्षमता भी बढ़ेगी। 

इन तरीकों को अपनाने के बाद भी आपके मन में कोई शंका या स्‍ट्रेस की स्‍थ‍िति बनी हुई है तो साइकोलॉज‍िस्‍ट से संपर्क करें।

main image source:emedihealth

Disclaimer