हार्टबर्न की शिकायत है तो करें सेब का सेवन

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 19, 2017
Quick Bites

  • हार्टबर्न से बचने के लिए सेब का सेवन करें।
  • अतिरिक्त खाने से भी हार्टबर्न की शिकायत बनी रहती है।
  • सेब पार्किंसन, कैंसर, अल्झाइमर जैसी बीमारियों से भी दूर रखता है।

सीने में जलन। गले में जलन। खट्टी डकार। उल्टी का मन। ये सभी हार्टबर्न के लक्षण हैं। मेडिकल जगत में यह गेस्ट्रोइसोफिजेल रिफ्लक्स डिसीज (जीईआरडी) नाम से जाना जाता है। हालांकि हार्टबर्न का हृदय से संबंध नहीं होता। लेकिन इससे होने वाली तकलीफ किसी भी मायने में कम नहीं है। असल में पेट में बनने वाले एसिड की वजह से हार्टबर्न की समस्या पैदा होती है। सवाल है इससे बचने के लिए क्या किया जाए? आहार विशेषज्ञों की राय लें तो हार्टबर्न से बचने के लिए सबसे बेहतरीन उपचार का नाम है, सेब।

इसे भी पढ़ें, हार्ट अटैक के बाद के जरूरी 90 मिनट


apple for heartburn in hindi

हार्टबर्न में सेब का सेवन करें

इससे पहले कि हम सेब के फायदों पर गौर करें आइये यह जान लें कि पेट में एसिड क्यों बनता है और हमें गले में जलन या पेट में जलन जैसी शिकायतें क्यों होती हैं?  असल में यह समस्या खानपान से जुड़ी है। अगर हम बहुत ज्यादा खा लेते हैं पेट और इसोफिजेस के बीच एक वाल्व बन जाता है। यह वाल्व पेट में बनने वाले एसिड को इसोफिजेस की तरफ धकेलता है। इसी से सीने में जलन और दर्द का एहसास होने लगता है। इस समस्या से बचने के लिए स्वास्थ्य विशेषज्ञ सलाह देते हैं कि इकट्ठा ज्यादा खाने की बजाय बार बार थोड़ा थोड़ा करके खाएं।

इसे भी पढ़ें, हार्ट फेल्योर की सम्भावित अवधि

बहरहाल जैसा कि शुरु में जिक्र कर दिया गया है कि सेब के सेवन से हम सीने के जलन से बचे रह सकते हैं। वैसे भी सेब के लिए कहा जाता है कि एक सेब रोज खाओ, डाक्टर को दूर भगाओ। सेब में असंख्य गुण छिपे हैं। यह न सिर्फ सीने में हो रहे जलन को शांत करने में सहायक है वरन पार्किंसन, अल्झाइमर आदि बीमारियों में भी कारगर है। खैर! सेब में फाइबर बहुतायत में पाया जाता है। यदि आपने ज्यादा खाना खा लिया है तो सेब का सेवन कर उसे कम कर सकते हैं। सेब में मौजूद फाइबर खाना पचने में मदद करते हैं। विशेषज्ञों की मानें तो सेब कब्ज ठीक करने में सहायक है।

रोजाना एक सेब की आदत

यदि आपको सीने में जलन जैसी समस्या को सिरे से ही खारिज करना है तो रोजाना एक सेब की आदत डाल दें। दरअसल सेब हमारे इम्यून सिस्टम को भी प्रभावित करता है। लाल सेब में क्वरसिटिन नामक एंटीआक्सीडेंट होता है जो कि इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाए रखने में मदद करता है। मतलब यह कि यदि आपने गलती से थोड़ा ज्यादा खा भी लिया तो बदहजमी या सीने में जलन जैसी शिकायतें नहीं होंगी।

सेब खाना न सिर्फ सीने में हो रहे जलन से बचने के लिए आवश्यक है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ सेब खाने की सलाह इसलिए भी देते हैं ताकि हम ऊर्जा से भरे रहें। इसे ऊर्जा का बेहतरीन स्रोत कहना जरा भी गलत नहीं होगा। सेब एक ऐसा फल है जिसे वर्क आउट करने से पहले खाने की भी सलाह दी जाती है। यह कार्यक्षमता बढ़ाता है। दरअसल यह फेफड़ों के लिए आक्सीज़न की आपूर्ति करता है। बहरहाल यह विषयांतर है।

सेब खाने से न सिर्फ सीने के जलन से राहत मिलती है बल्कि इस तरह की समस्याओं से स्थायी रूप से छुटकारा भी मिल सकता है। ऐसा नहीं है कि सिर्फ ज्यादा खा लेने से ही हार्टबर्न होता है। यह पेट से जुड़ी समस्या है। इसलिए न सिर्फ ज्यादा खाने से बल्कि खाना न खाने से, तलाभुना खाने से भी यह समस्या पनपने लगती है। अतः अपनी हार्टबर्न से बचने के लिए अपनी जीवनशैली पर भी ध्यान दें। लेकिन नियमित रूप से सेब का सेवन भी करें।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Image Source : Getty

Read More Articles on Home Remedies in Hindi

Loading...
Is it Helpful Article?YES54 Votes 10783 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK