Doctor Verified

स‍िगरेट-तंबाकू का सेवन करने से बीपी पर क्‍या असर पड़ता है? जानें डॉक्‍टर से

क्‍या स‍िगरेट-तंबाकू का सेवन छोड़ने से बीपी कंट्रोल होता है, जानते हैं डॉक्‍टर से इसका सही जवाब 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 11, 2022Updated at: May 11, 2022
स‍िगरेट-तंबाकू का सेवन करने से बीपी पर क्‍या असर पड़ता है? जानें डॉक्‍टर से

तंबाकू और स‍िगरेट का सेवन हमारे लंग्‍स और शरीर के बाक‍ि अंगों के ल‍िए हान‍िकारक होता है। अगर हम तंबाकू और स‍िगरेट का सेवन न करें तो शरीर को कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से भी बचा सकते हैं। तंबाकू और स‍िगरेट का सेवन करने का बुरा असर शरीर के कई अंगों पर पड़ता है। इस माह यानी मई की 31 तारीख को वर्ल्ड नो टोबैको डे मनाया जाता है। इस द‍िन का मकसद है लोगों को तंबाकू का सेवन न करने के ल‍िए जागरूक करना और तंबाकू के सेवन करने के नुकसान, तंबाकू छोड़ने के फायदों पर इस द‍िन चर्चा की जाती है और इसी कड़ी में ह‍म जानेंगे क‍ि क्‍या स‍िगरेट-तंबाकू छोड़ने से बीपी कंट्राेल क‍िया जा सकता है। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने Asian Heart Institute, Mumbai के Senior Cardiologist, Dr Santosh Kumar Dora से बात की।

connection between tobacco and bp

स‍िगरेट-तंबाकू का सेवन करने से बीपी पर क्‍या असर पड़ता है? (How does cigarette and tobacco affect BP) 

स‍िगरेट का सेवन करने से कार्ड‍ियोवैस्‍कुलर बीमार‍ियों का खतरा बढ़ता है और पल्‍मोनरी बीमार‍ियों का खतरा भी बढ़ता है। स‍िगरेट का सेवन करने से ब्‍लड प्रेशर बढ़ता है। स‍िगरेट का सेवन करने से नर्वस स‍िस्‍टम पर बुरा असर पड़ता है और बीपी का स्‍तर बढ़ने लगता है। स‍िगरेट में मौजूद न‍िकोट‍िन और बाक‍ि कैम‍िकल्‍स के कारण इसका सेवन करने से बीपी असामान्‍य हो सकता है। 

इसे भी पढ़ें- गर्मियों में आपके लिए खराब हो सकती हैं ये 5 आदतें, सेहत को पहुंचाती हैं नुकसान

क्‍या स‍िगर‍ेट-तंबाकू छोड़ने से बीपी कंट्रोल क‍िया जा सकता है?  

जी हां, अगर आप स‍िगरेट और तंबाकू का सेवन न करें तो आप बीपी को आराम से कंट्रोल कर सकते हैं। लंबे समय तक स‍िगरेट का सेवन करने से आर्ट्र्ररीज की वॉल सख्‍त हो जाती हैं ज‍िससे ब्‍लड प्रेशर बढ़ता है। अगर आप स्‍मोक‍िंग छोड़ने के साथ रोजाना एक्‍सरसाइज करेंगे तो तो आप बीपी को 10 से 20 mm Hg तक घटा सकते हैं। ज‍िन मरीजों में ब्‍लड प्रेशर के माइल्‍ड लक्षण होते हैं उन्‍हें स्‍मोक‍िंग और तंबाकू का सेवन पूरी तरह से स्‍क‍िप करना चाह‍िए।

स‍िगरेट-तंबाकू छोड़ने के फायदे (Benefits of quiting cigarette and tobacco)

blood pressure and cigratte  

  • स‍िगरेट या तंबाकू का सेवन छोड़ने से पल्‍स रेट सामान्‍य हो जाता है और इसके साथ ही बीपी कंट्रोल होता है। 
  • जब आप स‍िगरेट या तंबाकू का सेवन करते रहते हैं तो बीपी ज्‍यादा या कम होता रहता है ज‍िससे आप बीपी के मरीज बने रहते हैं।
  • स‍िगरेट या तंबाकू को स्‍क‍िप करने से ऑक्‍सीजन का स्‍तर भी कंट्रोल होता है और हार्ट के साथ लंग्‍स की बीमार‍ियों का खतरा भी घटता है।      

इसे भी पढ़ें- क्या वजन कम करने के ल‍िए केवल वीकेंड पर एक्सरसाइज करना काफी है? जानें एक्‍सपर्ट की राय

स‍िगरेट-तंबाकू कैसे छोड़ें? (How to quit cigarette and tobacco) 

डॉक्‍टर की मानें तो क‍िसी भी चीज को अचानक से छोड़ने पर शरीर पर बुरा असर पड़ता है, खासकर तब जब आप लंबे समय से उसका सेवन कर रहे हों इसल‍िए आपको स‍िगरेट-तंबाकू छोड़ने का सही तरीका डॉक्‍टर से जरूर जान लेना चाह‍िए-

  • स‍िगरेट या तंबाकू छोड़ने के तरीके की बात करें तो आपको रोजाना एक्‍सरसाइज करनी चाह‍िए और खुद को अपने पसंदीदा काम में व्‍यस्‍त रखें।
  • आपको स‍िगरेट-तंबाकू के सेवन से बचने के ल‍िए हेल्‍दी डाइट का सेवन करना चाह‍िए और प्रकृत‍ि के बीच जाकर समय ब‍िताएं।
  • आपको एक बात का खास ख्‍याल रखना है स‍िगरेट या तंबाकू की लत छोड़ने के ल‍िए क‍िसी भी तरह के नशे का सहारा नहीं लेना है।   
  • आप अपने भोजन में फल और ताजी सब्‍ज‍ियों की मात्रा को बढ़ा दें, वहीं आपको ढेर सारा पानी पीना चाह‍िए।
  • तंबाकू और स‍िगरेट की लत को छोड़ने के ल‍िए आप न‍िकोट‍िन पैच या इनहेलर का भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं। 
  • डॉक्‍टर आपको तंबाकू की लत धीरे-धीरे छोड़ने की सलाह देंगे ज‍िसके ल‍िए आप काउंंसल‍िंंग थैरेपी की भी मदद ले सकते हैं। 

स‍िगरेट, गुटखा, तंबाकू का सेवन शरीर के ल‍िए हान‍िकारक होता है, इसे आज ही छोड़ें और अपने पर‍िवार के साथ समय बि‍ताएं साथ ही हेल्‍दी लाइफस्‍टाइल जीएं।  

Disclaimer