बच्चे को बार-बार पेशाब आने के क्या कारण हो सकते हैं? जानें इसके लिए घरेलू उपाय

अगर आपके बच्चे को भी बार-बार पेशाब आती हो, तो आपको ये उपाय आजमाने चाहिए।

Vikas Arya
Written by: Vikas AryaUpdated at: Nov 29, 2022 09:30 IST
बच्चे को बार-बार पेशाब आने के क्या कारण हो सकते हैं? जानें इसके लिए घरेलू उपाय

छोटी उम्र में अक्सर कुछ बच्चों बार-बार पेशाब जाने की आदत होती है। ऐसे में माता-पिता को उनको डांटने की बजाय उनके स्वभाव को समझना चाहिए। कुछ आदतें बच्चे बेवजह नहीं करते हैं। बच्चे को बार-बार पेशाब आना कई तरह की परेशानी की वजह हो सकता है। लेकिन अधिकतर ये समस्या बड़े होने पर धीरे-धीरे अपने आप ठीक हो जाती है। फिर भी आपको बच्चे की किसी भी असामान्य आदत को नज़रअंदाज नहीं करना चाहिए। चलिए जानते हैं बच्चे को बार-बार पेशाब क्यो आती है और उसके लिए क्या उपाय अपनाएं जा सकते हैं। 

बच्चे को बार-बार पेशाब आने के कारण 

बच्चे को बार-बार पेशाब आने के कई कारण हो सकते हैं। इसके कारणों को आगे जानें - 

पोलाकीरिया 

पोलकीरिया की वजह से बच्चे को बार-बार पेशाब आने की समस्या हो सकती है। इस स्थिति में बच्चे को पेशाब करते समय दर्द होता है और वह रात के समय बार-बार पेशाब करता है। कई बार बच्चा आधे आधे घंटे में भी पेशाब करने लगता है। 

इसे भी पढ़ें : शिशुओं और बच्चों में पीलिया के लिए 8 घरेलू उपचार 

frequent urination in child in hindi

ओवरएक्टिव ब्लैडर 

ओवरएक्टिव ब्लैडर की समस्या होने पर भी बच्चा अपनी यूरीन को रोक नहीं पाता है और उसको बार-बार पेशाब आने की परेशानी होने लगती है। इस समस्या में बच्चा अपनी यूरीन को कंट्रोल नहीं कर पाता है। 

यूटीआई 

बच्चे को यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन की वचह से भी बार-बार पेशाब आ सकता है। इस समस्या में बच्चे को यूरिन करते समय जलन और दर्द महसूस होता है। 

डायबिटीज होना

एंटी ड्यूरेटिक हार्मोन्स में अंसतुलन की वजह से बच्चे के बार-बार पेशाब की समस्या हो सकती है। ये समस्या सीधे रूप से डायबिटीज से जुड़ी होती है। इस स्थिति में बच्चे के बार-बार प्यास भी लगती है। 

लाइफस्टाइल की वजह से 

यदि बच्चा ज्यादा कैफीन युक्त पदार्थ या ठंडे फ्रिजी ड्रिंक पीता हो तो उससे भी बच्चे को बार-बार पेशाब आने की समस्या हो सकती है। 

बच्चे को बार-बार पेशाब आने पर घरेलू उपाय 

बच्चे की आदत को समझें 

यदि आपके बच्चे को किसी चीज को खाने से बार-बार पेशाब आती है तो उसकी डाइट से उस चीज को दूर करें। इसके साथ ही उसे हेल्दी फूड खाने के लिए प्रेरित करें। 

लाइफस्टाइल में बदलाव करें

बच्चे को बार-बार पेशाब आने की समस्या हो तो उसकी लाइफस्टाइल में बदलाव करें। उसे सुबह अच्छी तरह से फ्रेश होने के लिए कहें। साथ ही उनको फाइबर युकत खाना देने पर जोर दें। 

दही 

ब्लैडर की समस्या होने पर आप बच्चे को दही दे सकते हैं। इससे बच्चे के पेट और ब्लैडर को आराम मिलता है। साथ ही इससे बच्चे के पेट में भी किसी तरह की कोई समस्या नहीं होती है।

इसे भी पढ़ें : गर्मी में बच्चों को डिहाइड्रेशन से बचाने के लिए खिलाएं ये 6 फूड्स, नहीं होगी ग्लूकोज और पानी की कमी

नारियल पानी 

यदि आपका बच्चा दस साल से बड़ा है तो आप उसको थोड़ी-थोड़ी मात्रा में ही सही नारियल पानी देना शुरू करें। इससे बच्चे के पेट संबंधी कई रोग दूर होते हैं। 

 

डॉक्टर के पास कब जाएं 

यदि बार-बार पेशाब जाने पर बच्चे को परेशानी होने लगे या बच्चे की डायबिटीज की वजह से उसे बार-बार पेशाब आ रही हो, तो ऐसी स्थिति में आपको डॉक्टर से तुरंत संपर्क करना चाहिए। साथ ही डॉक्टर को बच्चे की पूर्ण स्थिति के बारे विस्तार से बताएं। 

 

Disclaimer