इन 6 तरीकों से दांत हिलने की समस्या को करें दूर, आयुर्वेदाचार्य से जानें

दांतों के हिलने से परेशान हैं तो आप घर पर रहकर इस लेख में दिए आसान से तरीके अपना सकते हैं और इस समस्या को जड़ से खत्म कर सकते हैं। 

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Jan 27, 2021Updated at: Jan 27, 2021
इन 6 तरीकों से दांत हिलने की समस्या को करें दूर, आयुर्वेदाचार्य से जानें

दांत में ढीलापन आ जाना आमतौर पर पिरियोडोंटिस्टिस (Periodontitis) के कारण हो सकता है। ऐसे में मसूड़े का विकास धीरे होता है। इसके अलावा दांत और उसके आसपास संक्रमण फैलने लगता है। टिशू और हड्डियों भी कमजोर होनी शुरू हो जाती हैं। चूंकि मसूड़ों के आसपास सूजन आ जाती है और टिशू लाल हो जाते हैं इसलिए दांतों के हिलने के पीछे ये एक बड़ी वजह बन जाती है।  इस समस्या का इलाज बेहद जरूरी है। आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपाय के बारे में बताइए, जिससे दांत हिलने की समस्या काफी हद तक दूर हो सकती है। बता दें कि इन घरेलू उपाचरों में आयुर्वेद में भी काफी कारगर माना जाता है। पढ़ते हैं आगे...

1- नमक और सरसों का तेल (Salt and Mustard Oil for Shaking Teeth)

बता दें कि नमक और सरसों का तेल मसूड़ों की मजबूती और हिलते दांतों को रोकने के लिए बेहद मददगार हैं। ये ना केवल दांतों को मजबूती देता है बल्कि इससे मसूड़ों को जमने में मदद मिलती है। ऐसे में आप 2 बूंद सरसों के तेल और एक चुटकी नमक को मिलाएं और उंगली की मदद से मसूड़ों पर हल्की हल्की मालिश करें। 5 मिनट तक इस पेस्ट को अपने दांतों से लगे रहने दें। 5 मिनट बाद ठंडे पानी से कुल्ला कर लें। आराम मिलेगा।

2- पुदीने का तेल (Pudina Oil)

दांतों के हिलने की समस्या को कम करने के लिए पुदीने का तेल एक अच्छा विकल्प है। यह न केवल दांतो को हिलने से बचाता है बल्कि अगर इसका प्रयोग नियमित रूप से किया जाए तो यह मसूड़ों को संक्रमित होने भी बचाता है। ऐसे में आपको दांतों और मसूड़ों पर उंगली की मदद से तेल से मसाज करनी होगी। कुछ देर इस तेल को मुंह में रखकर कुल्ला कर लें। आराम मिलेगा।

3- लौंग का तेल है मददगार (Clove Oil)

डॉक्टरों की लौंग के तेल को दांतों की अच्छी सेहत के लिए बेहद कारगर मानते हैं। इस तेल को लगाने से दांतों की समस्या काफी हद तक कम हो जाती है। यह न केवल मसूड़ों को स्वस्थ बनाए रखता है बल्कि हिलते हुए दांतों को बचाने और सूजन को कम करने में भी यह बेहद मददगार है। इसके लिए आपको लौंग के तेल की कुछ बूंदे अपनी उंगली में लेकर दातों में मसाज करनी है। कम से कम 5 मिनट तक मसाज करने के बाद कुल्ला करने से लाभ मिलेगा।

इसे भी पढ़ें- Lemon Peel Uses: नींबू ही नहीं नींबू का छिलका भी है बड़े काम का, इन 6 तरीकों से करें नींबू के छिलके का उपयोग

4- अमरूद की पत्तियां है बेहद असरदार (Guava leaves)

अमरूद की पत्तियों का प्रयोग कई स्वास्थ्य चिकित्सकों में उपयोग किया जाता है। ऐसे में यह दांत और मसूड़े के लिए भी बेहद कारगर है। इसके उपयोग से दांत संबंधित काफी बीमारियां दूर हो जाती हैं अगर आप दांत हिलने की समस्या से परेशान हैं तो आप अमरूद की पत्तियों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे ना केवल सेंसटिविटी दूर होती है, यह बैक्टीरिया को मारने, मुंह से दुर्गंध को दूर करने, मसूड़ों से खून आने, दांत हिलने की समस्या आदि को भी कम कर सकता है। ऐसे में आप अमरूद की पत्तियों को धोएं और उन्हें पीसकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को उंगली की मदद से दांतों पर लगाएं और मसाज करें। ऐसा आप दिन में दो बार कर सकते हैं। आराम मिलेगा।

5- नींबू से दांत हिलने की दर्द की समस्या हो कम (Lemon uses)

दांत हिलने की समस्या को कम करने के लिए नींबू का रस बेहद उपयोगी है। ऐसे में आप बैक्टीरिया से लड़ने और दांतों को मजबूती देने के लिए नींबू का प्रयोग कर सकते हैं। आपको बस एक नींबू का रस निचोड़ कर पानी में मिलाकर उसके गरारे करने हैं। आराम मिलेगा।

इसे भी पढ़ें- आंवले की गुठली नहीं है किसी से कम, आंखों से लेकर स्किन की समस्याओं को करे दूर

6- आंवले से दांत हिलने की समस्या हो दूर (Ambla for Teeth)

बता दें कि आमतौर पर आंवले का प्रयोग आयुर्वेद उपचार में बेहद उपयोगी है। यह न केवल मसूड़ों को मजबूती देता है बल्कि दांत हिलने की समस्या को दूर करने के साथ-साथ टिशूज को भी जोड़ता है। ऐसे में आम आंवलें को अच्छे से धोकर उसके छोटे-छोटे टुकड़े काटे अब उसका जूस निकालें और पानी में मिलाकर रोज कुल्ला करें। आराम मिलेगा।

(ये लेख महर्षि आयुर्वेद के अध्यक्ष और आयुर्वेदाचार्य आनंद श्रीवास्तव द्वारा दिए गए इनपुट्स पर बना है।)

 Read More Articles on Home Remedies in Hindi
Disclaimer