Doctor Verified

पुरुषों में HIV होने पर कौन से लक्षण नजर आते हैं?

HIV symptoms in men: एचआईवी होने पर पुरुषों में नजर आने वाले लक्षणों के बारे में जान लें।

 
Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jul 20, 2022Updated at: Jul 20, 2022
पुरुषों में HIV होने पर कौन से लक्षण नजर आते हैं?

एचआईवी (HIV) यानी ह्यूमन इम्यूनोडिफिशिएंसी वायरस। एचआईवी वायरस का इलाज न करने पर शरीर में इन्‍फेक्‍शन बढ़कर एड्स को जन्‍म दे देता है। एड्स (AIDS) का पूर्ण इलाज फिलहाल संभवनहीं है पर एचआईवी का पता चलते ही दवा और हेल्‍दी जीवनशैली अपनाकर एड्स की स्टेज तक पहुंचने से बचाव हो सकता है। एड्स से बचने के ल‍िए एचआईवी के लक्षणों को समझना जरूरी है, ताक‍ि समय पर इलाज म‍िल सके। वैसे तो पुरुष और मह‍िलाओं में एचआईवी के लक्षण लगभग एक जैसे ही होते हैं, लेकि कुछ लक्षण ऐसे हैं जो केवल पुरुषों में एचआईवी होने पर नजर आ सकते हैं। इन लक्षणों के बारे में हम आगे बात करेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ में डॉ राम मनोहर लोहिया इंस्‍ट‍िट्यूट ऑफ मेड‍िकल साइंसेज के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ संजीत कुमार सिंह से बात की।  

HIV symptoms in men

पुरुषों में एचआईवी के लक्षण- HIV Symptoms in Men 

पुरुष और मह‍िला में एचआईवी के शुरुआती लक्षण लगभग एक जैसे ही होते हैं। वहीं कुछ अलग लक्षण पुरुषों में नजर आ सकते हैं जैसे- 

  • टेस्टिकल्स (अंडकोष) में दर्द महसूस होना। 
  • मलाशय (rectum) और अंडकोश की थैली (scrotum) के बीच दर्द महसूस होना।
  • प्रोस्‍टेट ग्‍लैंड में सूजन होना। 
  • पेन‍िस एर‍िया में सूजन होना।
  • पुरुषों में इनफर्ट‍िल‍िटी की समस्‍या
  • हाइपोगोनैडिज्‍म (hypogonadism) के लक्षण नजर आना। 
  • पेन‍िस पर घाव नजर आना। 
  • इरेक्टाइल डिस्फंक्शन।  

इसे भी पढ़ें- एचआईवी और एड्स के बीच क्या अंतर है? डॉक्टर से जानें शरीर पर कैसे असर डालती है ये बीमारी  

एचआईवी के शुरुआती लक्षण क्‍या हैं?- Early HIV Symptoms 

  • बुखार आने को आप एचआईवी का पहला लक्षण मान सकते हैं। बुखार को एक्‍सपर्ट पहला लक्षण इसल‍िए मानते हैं क्‍योंक‍ि जैसे ही एचआईवी का वायरस आपके शरीर में प्रवेश करता है, वो खून के जर‍िए बढ़ने लगता है ज‍िसके कारण इम्‍यून‍िटी, र‍िसपॉन्‍ड करती है और बुखार आता है।
  • बुखार आने पर आपको पसीना आएगा, ठंड महसूस होगी, थकान और गले में खराश आद‍ि लक्षण नजर आ सकते हैं।  
  • स‍िर में दर्द, ज्‍वॉइंट्स में दर्द, स्‍क‍िन में रैशेज भी नजर आ सकते हैं। 
  • एचआईवी के शुरुआती लक्षण की बात करें, तो जी म‍िचलाना, उल्‍टी या डायर‍िया की समस्‍या भी हो सकती है।  

एचआईवी होने पर क्‍या यूर‍िन का रंग बदल जाता है?- Urine Color in HIV

अगर क‍िसी पुरुष को एचआईवी है, तो यूर‍िन पास करते समय दर्द हो सकता है। आपको बार-बार टॉयलेट इस्‍तेमाल करने की जरूरत पड़ सकती है। यूर‍िन के साथ खून न‍िकल सकता है। ब्‍लैडर, पेन‍िस या रेक्‍टम एर‍िया में दर्द हो सकता है। लोअर बैक या पेट के न‍िचले ह‍िस्‍से में दर्द महसूस हो सकता है। हालांक‍ि ऐसा जरूरी नहीं है क‍ि ये लक्षण केवल पुरुषों में हो। एचआईवी होने पर मह‍िलाओं में भी ऐसे ही लक्षण नजर आ सकते हैं। 

एचआईवी की पुष्‍ट‍ि के ल‍िए कौन सी जांच करवाएं?- HIV Tests 

  • एचआईवी की पुष्‍ट‍ि के ल‍िए एंटीबॉडी टेस्‍ट क‍िया जाता है। इस टेस्‍ट में खून या मुंह के तरल पदार्थ की जांच की जाती है।
  • खून में एंचआईवी की मौजूदगी का पता लगाने के ल‍िए एंटीजन टेस्‍ट भी क‍िया जाता है।
  • एचआईवी की पुष्‍ट‍ि के के ल‍िए न्‍यूक्‍ल‍िक एस‍िड टेस्‍ट क‍िया जाता है। इस टेस्‍ट से खून में एचआईवी होने या न होने की पुष्‍ट‍ि म‍िलती है।
  • अगर एचआईवी टेस्‍ट पॉज‍िट‍िव आता है, तो व्‍यक्‍त‍ि को तुरंत इलाज की जरूरत पड़ती है।

एचआईवी जांच क‍िसे करवानी चाह‍िए?

  • ज‍िन लोगों को एचआईवी का ज्‍यादा जोख‍िम है उन्‍हें साल में एक बार जांच जरूर करवानी चाह‍िए।
  • ज‍िन लोगों को जोख‍िम नहीं भी है, उन्‍हें भी डॉक्‍टर 13 से 64 साल की उम्र में जांच करवाने की सलाह देते हैं।
  • एचआईवी ग्रस्‍त मह‍िला ज‍िन श‍िशुओं को जन्‍म देती है, उनकी जांच भी करवाई जानी चाह‍िए।   
  • जो लोग रक्‍तदान या अंगदान कर रहे हैं, उनकी भी एचआईवी जांच की जाती है। 
  • जो पुरुष एक से ज्‍यादा पार्टनर के साथ संबंध बनाते हैं, उन्‍हें एचआईवी जांच करवानी चाह‍िए।
  • गैर-कानूनी इंजेक्‍शन, दवा या स्‍टेरॉयड के ज्‍यादा इस्‍तेमाल करने वाले लोगों को भी एचआईवी जांच करवानी चाह‍िए। 

एचआईवी से बचने के ल‍िए समय-समय पर जांच जरूरी है। आप हेल्‍थ चेकअप करवाते रहेंगे, तो एचआईवी जैसे रोग से बच सकते हैं। एचआईवी यानी एक जानलेवा संक्रमण है। एचआईवी से बचने के ल‍िए एक से ज्‍यादा पार्टनर से संबंध न बनाएं। एचआईवी से बचाव के ल‍िए संबंध बनाते समय सुरक्ष‍ित उपायों को अपनाए

Disclaimer