दर्द को कम करने में कारगर नहीं ओपियोइड दवाओं का हाई डोज, शरीर पर पड़ सकते हैं ये दुष्प्रभाव

एक हालिया अध्ययन में पाया गया कि ओपियोइड की उच्च खुराक का सेवन दर्द को कम करने में प्रभावी नहीं है।

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Feb 10, 2020Updated at: Feb 10, 2020
दर्द को कम करने में कारगर नहीं ओपियोइड दवाओं का हाई डोज, शरीर पर पड़ सकते हैं ये दुष्प्रभाव

सेंट्रल अर्कांसस और मिनियापोलिस वीए हेल्थ केयर सिस्टम्स और तीन विश्वविद्यालयों के शोधकर्ताओं की टीम ने उपलब्ध आंकड़ों का अध्ययन करने के बाद सुझाव दिया है कि जिन रोगियों में उनकी ओपियोइड खुराक बढ़ी हुई थी, उनमें पहले की खुराक के साथ जारी रहे रोगियों की तुलना में  उच्च खुराक से मदद नहीं मिली। ओपियोइड ड्रग्‍स का एक रूप है, जिसमें कि फेंटेनील, और दर्द निवारक दवाएं, जो कानूनी रूप से उपलब्ध हैं- जैसे ऑक्सिकोडोन, हाइड्रोकोडोन, कोडीन, मॉर्फिन, और कई अन्य शामिल हैं। 

वेटरन्स अफेयर्स अध्ययन में 50,000 से अधिक रोगियों के डेटा में देखा गया कि वह ओपिओइड लेते हैं। निष्कर्षों ने अध्ययन के लेखकों को चेतावनी दी, "नॉन-कैंसर दर्द का प्रबंधन करने के लिए ओपियोड खुराक बढ़ाने का रास्‍ता चुनते समय चिकित्सकों को अत्यधिक सावधानी बरतनी चाहिए।" अध्‍ययन के परिणाम जर्नल पेन पत्रिका में प्रकाशित हुए थे। 

Opioid High Dose

शोधकर्ताओं ने ओपियोइड दवाओं की उच्च खुराक से दुष्प्रभावों के बढ़ते जोखिम की भी पुष्टि की। 

इसे भी पढें: गोरा बनाने का दावा करने वाले प्रोडक्ट का प्रमोशन पड़ सकता है भारी, सरकार का प्रस्ताव 5 साल जेल 50 लाख जुर्माना

अरकंसास विश्वविद्यालय के एक प्रमुख लेखक डॉ. कोरी हेस ने कहा, "आप लाभ नहीं देखते हैं, लेकिन आप जोखिम देखते हैं। हमारा समग्र संदेश यह है कि जब आप ओपियोइड दवाओं की खुराक बढ़ाने के बारे में सोच रहे हैं, तो आपको महसूस करना होगा कि यह आपके लिए जोखिम भी लाता है।'' 

ओपियोइड दवाएं दर्द से राहत देती हैं। इतना ही नहीं वे मस्तिष्क में दर्द संकेतों की तीव्रता को कम करते हैं और भावना को नियंत्रित करने वाले मस्तिष्क के क्षेत्रों को प्रभावित करते हैं, जो दर्द उत्तेजनाओं के प्रभाव को कम करता है। जबकि ओपिओइड सही तरीके से लेने पर दर्द को प्रबंधित करने में मदद मिल सकती है लेकिन उच्‍च खुराक और लत जोखिम पैदा कर सकती है। 

इसे भी पढें: लिवर पर जमा फैट को हटा सकती है गोभी और ब्रोकोली जैसी सब्जियां, शोध में आया सामने

मरीजों को अक्सर ओपिओइड दवा की बढ़ी हुई खुराक प्राप्त होती है, क्योंकि उनके दर्द को कम खुराक पर अच्छी तरह से नियंत्रित नहीं किया जा सकता है। लोग समय के साथ ओपिओइड के लिए एक सहिष्णुता भी विकसित कर सकते हैं, जिसका अर्थ है कि समान प्रभाव प्राप्त करने के लिए एक उच्च खुराक की आवश्यकता महसूस होती है। इन मामलों में, प्रिस्क्राइबर्स को एक मरीज की ओपिओइड खुराक बढ़ाने के जोखिम का बताना चाहिए।

इसके अलावा, हाई ओपिओइड खुराक विभिन्न प्रकार के दुष्प्रभावों को जन्म दे सकती है, जैसे कि कब्ज, चक्कर आना, दर्द के प्रति संवेदनशीलता बढ़ जाना और दवा के उपयोग की लत का खतरा बढ़ जाता है।

Read More Article On Health News In Hindi 

Disclaimer