Doctor Verified

क्‍या आपके शरीर का तापमान भी हमेशा रहता है ज्‍यादा? जानें क्‍या हैं इसके कारण

अगर आपके शरीर का तापमान भी ज्‍यादा रहता है तो इसके 5 कारण जान लें

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Apr 24, 2022Updated at: Apr 24, 2022
क्‍या आपके शरीर का तापमान भी हमेशा रहता है ज्‍यादा? जानें क्‍या हैं इसके कारण

कई लोगों के शरीर का तापमान सामान्‍य से ज्‍यादा रहता है, ऐसे लोगों को हर समय महसूस होता है क‍ि उन्‍हें बुखार है या उनका माथा गरम है। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो इस लेख में हम बॉडी का तापमान सामान्‍य से ज्‍यादा गरम रहने के कारण और इस समस्‍या से बचने के उपाय जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की। 

high body temperature in hindi 

image source: www.womansday.com

1. शरीर का तापमान बढ़ने का कारण खानपान तो नहीं (Food reacts and raise body temperature)

एल्‍कोहल, कैफीन, मसालेदार खाने का सेवन न करें, इससे भी आपके शरीर का तापमान बढ़ सकता है। आपको इन खाद्य पदार्थ को अवॉइड करना है खासकर तब जब आपका हार्ट रेट बढ़ रहा हो। उम्र ज्‍यादा होने के कारण भी शरीर का तापमान ज्‍यादा महसूस हो सकता है।

इसे भी पढ़ें- खसरा रोग से बचाव के लिए जरूरी हैं ये 5 पोषक तत्‍व, जानें कैसे दूर करते हैं इंफेक्शन का खतरा

2. ब्‍लड शुगर लेवल बढ़ने से बढ़ जाता है शरीर का तापमान (High temperature is due to high sugar level)

डायब‍िटीज के कारण भी शरीर का तापमान बढ़ सकता है इसल‍िए आपको ब्‍लड शुगर लेवल कंट्रोल में रखना चाह‍िए। ज‍िन लोगों को टाइप 1 और टाइप 2 डायब‍िटीज होती है उन्‍हें सामान्‍य लोगों से ज्‍यादा गर्मी लगती है। ब्‍लड शुगर लेवल बढ़ने के कारण ब्‍लड वैसल्‍स और नसों पर जोर पड़ता है और शरीर का तापमान बढ़ सकता है।   

3. गर्भवती हैं तो भी बढ़ सकता है शरीर का तापमान (High body temperature in pregnancy)

अगर आप गर्भवती हैं तो भी हॉट फ्लैशेज की समस्‍या हो सकती है। ऐसा हार्मोन का स्‍तर ग‍िरने के कारण होता है। आपको अगर प्रेगनेंसी के दौरान ऐसे लक्षण नजर आते हैं तो तुरंत डॉक्‍टर से म‍िलें। मह‍िलााओं में मेनोपॉज के दौरान भी शरीर का तापमान ज्‍यादा लगता है। इसका कारण हार्मोन लेवल में बदलाव हो सकता है। 

4. स्‍ट्रेस के कारण शरीर का तापमान बढ़ सकता है (Stress may increase body temperature)

अगर आप बहुत ज्‍यादा स्‍ट्रेस में रहते हैं तो आपके शरीर का तापमान सामान्‍य से ज्‍यादा बढ़ सकता है। अगर आपके द‍िमाग में क‍िसी बात को लेकर परेशानी चल रही है तो आपको पसीना आ सकता है और बॉडी का तापमान ग‍िरने के कारण बुखार या ठंड लगने जैसे लक्षण नजर आ सकते हैं। स्‍ट्रेस और शरीर का तापमान बढ़ने के कारण हार्ट रेट भी बढ़ सकता है और सांस लेने में परेशानी भी हो सकती है।   

5. थायराइड में बढ़ सकता है शरीर का तापमान (Thyroid increases body temperature)

high body temperature

image source: blog.pregistry

अगर आपको थायराइड है तो आपके शरीर का तापमान सामान्‍य से ज्‍यादा बढ़ सकता है। थायराइड के कारण हार्ट रेट अन‍ियम‍ित होता है, इससे मेटाबॉल‍िज्‍म भी ग‍िर जाता है और आपको ज्‍यादा पसीना आने लगता है या शरीर का तापमान अचानक से गरम महसूस होने लगता है, आपको समय-समय पर थायराइड टेस्‍ट करवाते रहना चाह‍िए ताक‍ि बीमारी का पता लग सके। थायराइड की दवा के कारण भी कई लोगों को गर्मी या पसीना आने की समस्‍या महसूस होती है, ऐसा गलत दवा के कारण भी हो सकता है इसल‍िए डॉक्‍टर की सलाह पर सही एमजी की दवा लें। 

इसे भी पढ़ें- गलत तरीके से बाल धोने पर भी झड़ने लगते हैं बाल, जानें हेयर वॉश का सही तरीका 

शरीर का तापमान बढ़ने पर क्‍या करें? (How to deal with high body temperature)

  • शरीर का तापमान अचानक बढ़ गया है तो पानी का सेवन करें। 
  • आप आराम करें, आराम करने से शरीर र‍िलैक्‍स होगा और तापमान सामान्‍य हो जाएगा।
  • स्‍ट्रेस कम करने के ल‍िए रोजाना मेड‍िटेशन और योगा करें।
  • ब्रीद‍िंग एक्‍सरसाइज के जर‍िए भी आप शरीर के ज्‍यादा तापमान से बच सकते हैं।  

अगर आपको भी शरीर का तापमान ज्‍यादा लग रहा है तो डॉक्‍टर से म‍िलें, ज्‍यादातर केस में ये कोई गंभीर समस्‍या नहीं होती है पर अगर आपको चेस्‍ट पेन, सांस लेने में समस्‍या, तेज दर्द का अहसास हो रहा है तो ये इमरजेंसी की स्‍थ‍ित‍ि हो सकती है।  

main image source: amoryurgentcare

Disclaimer