अस्थमा और सांस की बीमारियों में फायदेमंद होते हैं ये 5 तरह के जूस, जानें रेसिपीज

अस्थमा की समस्या में शरीर को हाइड्रेट रखना बेहद जरूरी है। इसके लिए आप कुछ खास तरह के जूस का सेवन कर सकते हैं। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: May 04, 2022Updated at: May 04, 2022
अस्थमा और सांस की बीमारियों में फायदेमंद होते हैं ये 5 तरह के जूस, जानें रेसिपीज

अस्थमा फेफड़ों की एक ऐसी स्थिति है, जिसमें कभी-कभार तो सांस लेने में भी बहुत तकलीफ होती है। अस्थमा के कारण छाती में दर्द, थकान और जकड़न महसूस होती है। सांस लेने में कठिनाई, बलगम और गले से घरघराहट की आवाज आना ये सभी अस्थमा के लक्षण हो सकते हैं। अस्थमा की समस्या एलर्जी, प्रदूषण और अस्वच्छता के कारण भी होने की आंशका रहती है लेकिन ऐसा नहीं है कि अस्थमा का इलाज नहीं है। परहेज और अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखकर आप अस्थमा जैसी समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। हालांकि पूरी तरह से ठीक होने की गुंजाइश कम रहती है लेकिन आप इसे कंट्रोल जरूर कर सकते हैं। इसके लिए अपने शरीर के तापमान को बनाए रखने की जरूरत होती है और शरीर हाइड्रेट रहने से शरीर का उचित तापमान बना रहता है। अगर आप पर्याप्त मात्रा में पानी पीते हैं, तो जोड़ों की चिकनाई और रीढ़ की हड्डी को मजबूत बनाए रखने में भी मदद मिलती है क्योंकि कई बार अस्थमा अटैक के बाद लोगों के शरीर में दर्द की समस्या भी होने लगती है। हाइड्रेट रहने से आपका शरीर सुचारू ढंग से काम करता है। इसके लिए आप कई तरह के लिक्विड चीजों को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। 

अस्थमा में कौन सा जूस पीना चाहिए

1. पानी

हमारे शरीर में सबसे अधिक मात्रा में पानी पाया जाता है इसलिए हमें सबसे अधिक मात्रा में पानी पीने की जरूरत होती है। यह आपको डिहाईड्रेशन से भी बचाता है और वजन को संतुलित रखने में भी मददगार हो सकता है। अधिक वजन के कारण आपके अस्थमा से संबंधित समस्या और बढ़ सकती है। यह शरीर को हाइड्रेट रखता है और गले में भी आराम देता है। इसके लिए आप पानी में शहद या हर्ब्स का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे गले को काफी आराम मिलता है और सांस लेने में भी कठिनाई नहीं होती है। 

Juice-for-asthma

Image Credit- Freepik

2. टमाटर जूस

टमाटर के रस में  विटामिन ए और सी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। विटामिन सी आपके शरीर में इम्यूनिटी को बढ़ता है और शरीर को मजबूत बनाता है। कई बार आपको कमजोरी के कारण भी अस्थमा अटैक आ सकता है। टमाटर के साथ आप अन्य फलों और सब्जियों का जूस भी मिला सकते हैं। दरअसल फलों और सब्जियों के जूस से फेफड़ों की सूजन और जकड़न को कम करने में मदद मिलती है। इसके लिए आप टमाटर और संतरे का जूस भी ले सकते हैं। 

3. विटामिन डी से भरपूर जूस

विटामिन डी आपकी हड्डियों को मजबूत और वायुमार्ग की सूजन को कम करने का काम करता है ताकि सांस लेने में आसानी हो। इससे अस्थमा अटैक को कम करने में भी मदद मिल सकती है। इसके लिए आप पालक का जूस या संतरे का जूस भी पी सकते हैं। पालक के साथ आप चुकंदर और अन्य चीजों को भी मिला सकते हैं। 

इसे भी पढे़ं- अस्थमा के मरीजों के लिए खास डाइट प्लान, जो बीमारी से उबरने में करेगा उनकी मदद

4. चाय

अस्थमा से बचाव के लिए आप हर्ब्ल चाय का भी सेवन कर सकते हैं। वायुमार्ग की मांसपेशियों को आराम पहुंचाता है और सांस लेने की प्रक्रिया में मददगार साबित हो सकता है। कई बार सांस लेने में कठिनाई होने पर हम अदरक, गुड़ या अजवाइन से बनी चाय पीने के बाद काफी आराम मिलता है। इसमें आप चाहे तो तुलसी की पत्तियां और काली मिर्च भी डाल सकते हैं। अगर आप भी अस्थमा में हर्ब्स से बने चाय पीने के शौकीन है, तो आप इसका सेवन जरूर करें लेकिन सावधानी के लिए अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें। 

Juice-for-asthma

Image Credit- Freepik

5. डेयरी उत्पाद

गाय के दूध में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसमें प्रोटीन, मैग्नीशियम, कैल्शियम, विटामिन ए और विटामिन डी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। दूध या छाछ का सेवन भी आप अस्थमा की समस्या में कर सकते हैं। इसके अलावा आप अगर शेक पीना पसंद करते हैं, तो इसे बनने कई प्रकार के शेक और ताजा स्मूदी भी ले सकते हैं। इससे आपका शरीर हाइड्रेट रहता है और अस्थमा के संभावित जोखिम को कम करने में सहायता करता है। हालांकि किसी भी नई चीज या जूस के सेवन से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें ताकि आपको उसका भरपूर लाभ मिल सके।

Main Image Credit- Freepik

Disclaimer